सपाइयों ने मनाई पूर्व प्रधानमंत्री की पांचवीं पुण्यतिथि

Chandauli Updated Mon, 09 Jul 2012 12:00 PM IST
चंदौली। समाजवादी पार्टी जिला इकाई के तत्वावधान में रविवार को मुख्यालय स्थित पार्टी कार्यालय पर पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चंद्रशेखर की पांचवीं पुण्यतिथि मनाई गई। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं ने उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।
इस अवसर पर आयोजित गोष्ठी में जिलाध्यक्ष बलिराम सिंह यादव ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चंद्रशेखर ने गरीबों, मजलूमों, शोषितों और नौजवानों के लिए कार्य किया। उनकी सोच हमेशा यह रही कि देश का कोई भी नौजवान और गरीब बेसहारा नहीं रहे। उन्होंने ने कहा कि वह कहा करते थे कि गरीबाें की सेवा से पुनीत कार्य दूसरा नहीं है। श्री यादव ने कहा कि वे हमेशा लोहिया और जय प्रकाश के बताए रास्ते पर चलने का काम किया है। आज हम सभी नौजवानों को उनके किए गए कार्यों को अपने जीवन के अंदर उतारने की जरूरत है। युवा सपा नेता जगमेंद्र यादव ने कहा कि कभी भी पूर्व प्रधानमंत्री स्व.चंद्रेशखर सिंह ने युवाओं को अपने से अलग नहीं किया। इसलिए उन्हें युवा सम्राट कहा जाता है। वे हमेशा कहते रहे कि अगर देश का युवा आगे बढ़ेगा तो निश्चित ही देश की तरक्की होगी। आज हम सभी युवाओं को उनके बताए हुए रास्ते पर चलना चाहिए वहीं उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस अवसर पर अनिल मिश्रा, चंद्रशेखर यादव, सोमारू विश्वकर्मा, सुदामा यादव, अनिल गुप्ता, चाखन यादव, अशोक यादव, पवन अग्रहरि, उपेंद्र यादव, श्याम कृष्ण मौर्या, शाहिद अंसारी, जय प्रकाश यादव, जगजीवन बिंद, विद्यावती यादव, उर्मिला यादव, राजमनी, प्रमिला, शकुंतला देवी, बबली सेठ, कमलेश आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता जिलाध्यक्ष बलिराम सिंह यादव और संचालन मुन्नीलाल मौर्या ने किया।


Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018