मांगों के साथ चौथे दिन भी धरनारत रहीं रसोइयां

Chandauli Updated Tue, 03 Jul 2012 12:00 PM IST
चंदौली। मजदूरी भुगतान सहित अपनी विभिन्न मांगों के साथ सदर विकास खंड कार्यालय परिसर में धरनारत रसोइयों का धरना सोमवार को चौथे दिन भी जारी रहा। मिड-डे मील रसोइयां कर्मचारी यूनियन जिला इकाई के बैनर तले रसोइयों ने अपनी आवाज बुलंद की और आंदोलन को और धार देने की रणनीति बनाई। रसोइयों को अन्य संगठनों का भी व्यापक समर्थन मिल रहा है।
इस अवसर पर रामप्यारे यादवने कहा कि रसोइयों को पांच माह से मानदेय नहीं मिला है और जब मांग किया जाता है तो अधिकारी आश्वासन देने के सिवाय कुछ नही कहते हैं। कहा कि यदि रसोइयों को शीघ्र मानदेय का भुगतान नहीं किया गया और उन्हें हटाने की प्रक्रिया बंद नहीं हुई तो आंदोलन और तेज किया जाएगा। इस दौरान अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति, अखिल भारतीय किसान सभा और भारत की जनवादी नौजवान सभा ने भी रसोइयों को अपना समर्थन देने की घोषणा की। वक्ताओं ने कहा कि सरकार रसोइयों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। मनरेगा मजदूरों को 125 रुपया प्रतिदन के हिसाब से मजदूरी दी जाती है जबकि रसोइयों को मात्र 33 रुपये पर ही संतोष करना पड़ता है। इस दौरान रसोइयों को नियमित करने के साथ ही मानदेय भुगतान और रसोइयों को हटाने की प्रक्रिया पर तत्काल रोक लगाने की मांग की गई। इस अवसर पर उषा, सावित्री, इंदा, सुदामी, सावित्री, रमावती, लालमनी, शकुंतला, कृष्णावती, उर्मिला, आदि उपस्थित रहीं। अध्यक्षता मीना देवी और संचालन आशा देवी ने किया।


Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018