भूमि विवाद में मारपीट के लिए आए नौ लोग धराए

Chandauli Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
पड़ाव। अलीनगर थाना क्षेत्र के नींबूपुर गांव में शनिवार को भूमि विवाद में चाचा को मारने पहुंचे भतीजा समेत चार लोगों को ग्रामीणों ने दबोच लिया। इसके बाद सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों से नौ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। साथ ही पुलिस ने मारपीट करने पहुंचे लोगों के पास से बरामद हथियार तथा ट्रैक्टर को भी कब्जे में ले लिया।
बताया जाता है कि कल्लू पटेल पांच भाई हैं। इनमें से एक भाई बल्ली पटेल को मिर्जापुर जिले के जमालपुर थानांतर्गत मीरपुर गांव में ससुराल की तरफ से जमीन मिली थी। वह अपने पूरे परिवार के साथ वहीं रहता है। उसके और एक अन्य भाई के बीच अलीनगर थाना क्षेत्र के नींबूपुर गांव में मौजूद जमीन को लेकर दोनो भाइयों में काफी दिनों से विवाद चल रहा था। कल्लू के अनुसार उसने भाई को उक्त जमीन के एवज में पड़ोस के फत्तेपुर गांव में स्थित दूसरी जमीन दी थी। उक्त जमीन को बल्ली पटेल ने बेच दिया था। इसके कुछ दिनों बाद ही उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद बल्ली का पुत्र अपने चाचा कल्लू से दुबारा नींबूपुर की जमीन में अपना हिस्सा मांगने लगा। शनिवार को इसी विवाद को लेकर वह चाचा के घर मारपीट करने पहुंचा था। इस बीच घर की महिलाओं द्वारा शोरशराबा करने पर हमलावर भतीजा सहित अन्य आठ साथी भागने लगे। इस दौरान ग्रामीणों ने पांच लोगों को दबोच लिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों से नौ लोगों को हिरासत में लेकर थाने पर ले आई। बाद में पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों को जेल भेज दिया। पुलिस ने मारपीट करने पहुंचे लोगों के पास से हथियारों के साथ ही ट्रैक्टर को भी अपने कब्जे में ले लिया। इस संबंध में अलीनगर थानाध्यक्ष नदीम फरीदी ने बताया कि दोनों पक्षों से कुल नौ लोगों को धारा 151 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। परिवार में जमीन को लेकर काफी पुराना विवाद चल रहा था।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls