मालगाड़ी का वैगन दो भागों में बंटा

Chandauli Updated Sun, 27 May 2012 12:00 PM IST
मुगलसराय। स्थानीय रेलवे अप सेंट्रल यार्ड में शनिवार की शाम उस समय अजीबोगरीब दृश्य देखने को मिला जब धनबाद से इंडारा जा रही कोयला लदी मालगाड़ी दो भाग में हो गई। रेलवे पटरियाें पर मरम्मत का कार्य कर रहे रेल कर्मचारियाें ने मालगाड़ी के गार्ड को वैगन अलग-अलग होने की सूचना दी। इस पर गार्ड ने वाकीटाकी से ड्राइवर को वैगन दो पार्ट में होने की जानकारी देते हुए मालगाड़ी रोकने को कहा। मौके पर पहुंचे संबंधित विभाग के अधिकारियाें और कर्मचारियाें ने दो पार्ट में हुए वैगनाें को जोड़कर मालगाड़ी को आगे के लिए रवना किया। बताया जा रहा है कि नकल टूटने के कारण मालगाड़ी दो पार्ट में हो गयी। स्थानीय रेलवे अप यार्ड सहायक यांत्रिक अभियंता (समाडि टू) कार्यालय स्थित शनिवार की शाम लगभग पौने पांच बजे धनबाद से कोयला लादकर इंडारा जा रही एक मालगाड़ी का दो वैगन क्रमश: पूर्वमध्य रेलवे 14160648866 और बाक्सएन 75116 का नकल टूटने से दो पार्ट में हो गया। जिसे देखकर रेलवे पटरियाें पर मरम्मत का कार्य कर रहे कुछ रेल कर्मियाें ने इसकी सूचना गार्ड को दी। जिस पर गार्ड ने वाकीटाकी द्वारा ड्राइवर को वैगन दो पार्ट में होने की जानकारी देते हुए मालगाड़ी को रोकने को कहा। तब तक इस पूरे मामले की जानकारी किसी रेल कर्मचारी ने संबंधित अधिकारी को दी। कोयला लदी मालगाड़ी दो भाग में होने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे अधिकारी और कर्मचारियों ने दोनाें वैगनाें में नकल को जोड़कर मालगाड़ी को आगे के लिए रवाना किया। वहीं सूत्राें की माने तो नकल टूटा नहीं था किसी जानकार व्यक्ति ने वैगनाें के बीच में लगे हेंडिल को उठा दिया था, जिससे मालगाड़ी दो पार्ट में हो गया था।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls