बिजली मांगी तो मिली लाठियां

Bulandshahr Updated Sat, 21 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
कटौती के विरोध में साठा बिजलीघर पर पब्लिक का हंगामा
विज्ञापन

बुलंदशहर। भीषण गर्मी के बीच बिजली कटौती से लोग उबल रहे हैं। गुस्साए लोगों ने बृहस्पतिवार रात साठा बिजली घर पर जमकर हंगामा किया। रोड जाम कर पावर कारपोरेशन के खिलाफ नारेबाजी की। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को खदेड़ने के लिए लाठियां बरसाई।
कोतवाली नगर क्षेत्र के मोहल्ला साठा, गिरधारीनगर, सरायधारी, सुभाष नगर सहित कई इलाकों में बिजली कटौती हुई। बृहस्पतिवार रात करीब 9:30 बजे सैकड़ों लोगों ने साठा बिजलीघर पर धावा बोल दिया। गुस्साए लोगों का आक्रोश देखकर बिजलीघर पर तैनात कर्मचारी भाग खड़े हुए। राकेश, प्र्रेम सिंह, जयपाल, पप्पू, अनिल आदि ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से मोहल्ले में अंधाधुंध बिजली कटौती हो रही है। बिजली आती है तो लो वोल्टेज के कारण न तो पंखे चल रहे और न ही कूलर। पावर कारपोरेशन के कर्मचारी और अधिकारी समस्याओं का निस्तारण नहीं कर रहे हैं।
जाम की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और गुस्साए लोगों को समझाने का प्रयास कर जाम खोलने के लिए कहा। आक्रोशित भीड़ नहीं मानी तो पुलिस ने लाठियां बरसाकर भीड़ को खदेड़ा। इसके बाद यातायात सामान्य हुआ।

व्यापार मंडल ने किया प्रदर्शन
बिजली कटौती के विरोध में शनिवार को उप्र उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने जिला अध्यक्ष नरेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में प्रदर्शन किया। जिला अध्यक्ष ने कहा कि बिजली कटौती में सुधार नहीं हुआ तो कारपोरेशन के खिलाफ सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेंगे। इस मौके पर प्रदेश संगठन मंत्री चंद्रकांत सिहंल, जिला महामंत्री विकास शर्मा, विपिन गर्ग, अनिल बंसल, संजय सिहंल, नीरज जिंदल, संजय सोलंकी, कामेश्वर शर्मा, गोपला शर्मा, अजय अग्रवाल, शमशुद्दीन, राजपाल, मदनलाल, अय्यूब, विजय, राधेश्याम सूरी, मंजूर अहमद, कमल, उमेश शर्मा आदि शामिल रहे।

इमरजेंसी रोस्टिंग से समस्या
शाम पांच से रात आठ बजे तक शेड्यूल कटौती थी। इसके बाद इमरजेंसी रोस्टिंग हो गई। व्यवस्था को सुधारने के लिए करीब एक घंटा लगा।
पंकज कुमार गुप्ता, अधिशासी अभियंता, पावर कारपोरेशन

माकपा ने किया धरना प्रदर्शन
बुलंदशहर। शहर में बिजली कटौती को लेकर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने पावर कारपोरेशन के खिलाफ विद्युत वितरण मंडल प्रथम कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर अधीक्षण अभियंता को ज्ञापन साैंपा है।
जिला मंत्री चंद्रपाल सिंह ने कहा कि अघोषित कटौती और रोस्टिंग से शहरवासियों की रातों की नींद गायब हो गई है। व्यापारियों के कारोबार चौपट हो रहे हैं। इस मौके पर मेघराज सिंह, मूलचंद सिंह, अशोक सिरोही, इंद्रपाल सिंह, चेतन शर्मा, बिल्लू सक्सेना, सुनील शर्मा, राजेश कुमार, अजय, शुभम, संजीव चौधरी, देवेंद्र सिंह आदि शामिल रहे।


ट्रेन रोककर करेंगे बिजली कटौती का विरोध
खुर्जा। अंधाधुंध बिजली कटौती से परेशान क्षेत्र के किसान पावर कारपोरेशन और प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन की तैयारी में हैं। उन्होंने दिल्ली-हावड़ा ट्रैक पर ट्रेन रोकने की योजना बनाई है, ताकि प्रदेश सरकार को किसानों की समस्या से अवगत कराया जा सके।
भाकियू नेता जयगोपाल शर्मा ने बताया कि बिजली कटौती के कारण क्षेत्र के किसान धान की बुआई नहीं कर पा रहे हैं। बिजली आपूर्ति की मांग और यूपी सरकार को जगाने के लिए जल्द ही खुर्जा जंक्शन रेलवे स्टेशन पर ट्रेन को रोका जाएगा। भाकियू नेता का दावा है कि आंदोलन को सफल बनाने के लिए बड़ी संख्या में किसान पहुंचेंगे। किसानों और ग्राम प्रधानों से जनसंपर्क कर आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जा रही है।

बिजलीघर के ट्रांसफार्मर में लगी आग
सिकंदराबाद। निजामपुर स्थित बिजलीघर के ट्रांसफार्मर में भीषण आग लग गई। दमकलकर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। हालांकि इसके बाद भी विद्युत आपूर्ति प्रभावित नहीं हुई। बृहस्पतिवार रात करीब 9 बजे निजामपुर स्थित बिजली घर में आग लग गई। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंच गई। करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। गनीमत रही कि समय से आग बुझा ली गई वरना इससे बिजली घर के अन्य उपकरणों के जलने का खतरा था। जेई प्रवेश गिरि ने बताया कि ट्रांसफार्मर को बदलकर दूसरा लगाया जाएगा।

रात में चार घंटे की कटौती से लोग बेहाल
सिक ंदराबाद। नगर में रात में हुई चार घंटे की कटौती से लोग उबल गए। शहरवासियों का आरोप है कि अगर इसी तरह कटौती होती रही तो रमजान माह में मुस्लिम भाइयों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। बृहस्पतिवार रात 11 बजे गई बिजली साढे़ चार घंटे बाद 2:30 बजे सुचारु हुई। उमसभरी गर्मी में रात भर लोग सो नहीं पाए। मोहल्ला खत्रीबाड़ा निवासी रोहित और हीरा कालोनी निवासी चंद्रदेव ने बताया कि लाइन न होने के कारण पूरी रात टहल के गुजारनी पड़ी। मोहल्ला अंसारियान निवासी रफीक अहमद ने रमजान के महीने में भी बिजली का यही हाल रहा तो काफी दिक्कत का सामना करना पड़ेगा।

बरमदपुर के लोगों में आक्रोश
गुलावठी। बरमदपुर गांव में एक ट्रांसफार्मर होने के कारण बिजली आपूर्ति व्यवस्था लड़खड़ाई हुई है। योगेंद्र सिंह, राजाराम सिंह, महेंद्र सिंह, करतार सिंह, सुखवीर सिंह, हरकरण सिंह आदि ने बताया कि आधे गांव को लाइट ही नहीं मिल रही है। जर्जर विद्युत तार टूट जाते हैं। उधर, ग्राम चंद्रपुरा में भी लोग विद्युत अव्यवस्था से परेशान हैं। ग्रामीणों के अनुसार करीब दस वर्ष पूर्व विद्युत विभाग द्वारा खंभे खड़े कर दिए गए हैं, परंतु उन पर विद्युत तार नहीं खींचे गए हैं। केवल ट्यूबवेल के कनेक्शन हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us