बुलंदशहर के दो भाई अमृतसर में बंधक

Bulandshahr Updated Fri, 08 Jun 2012 12:00 PM IST
बुलंदशहर। सवा दो माह पहले घर से गुस्सा होकर निकले दो सगे भाई अमृतसर में एक ठेकेदार के पास बंधुवा मजदूरी करते मिलेे हैं। किसी तरह आरोपियों के चंगुल से छूटकर छोटे भाई ने परिजनों को फोन से सूचना दी है। पुत्र की सूचना पर परिजन अमृतसर रवाना हो गए हैं।
शास्त्री नगर कालोनी निवासी पुष्पेंद्र शर्मा के पुत्र निशांत (14) और विवेक (13) नौवीं कक्षा पढ़ते हैं। 26 मार्च को किसी बात पर गुस्सा होकर दोनों घर से चले गए। तभी से परिजन दोनों को तलाश रहे हैं। परिजन कई बार पुलिस से शिकायत कर कार्रवाई की मांग कर चुके हैं, लेकिन पुलिस लापता भाइयों का सुराग नहीं लगा पाई। कोतवाली पुलिस के मुताबिक बुधवार शाम विवेक ने परिजनों को फोन कर अमृतसर में होने की जानकारी दी। विवेक ने परिजनों को बताया कि वह ट्रेन से पंजाब में पहुंचे थे। यहां एक व्यक्ति उन्हेें फुसलाकर एक फैक्ट्री में ले गया। तभी से वह व्यक्ति उनसे फैक्ट्री में मजदूरी करवा रहा है। वह किसी तरह ठेकेदार के चंगुल छूटकर फोन कर रहा है। विवेक का फोन सुनते ही परिजन पुत्रों को लेने अमृतसर रवाना हो गए हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बुलंदशहर की ये बेटी पाकिस्तान को कभी माफ नहीं करेगी, देखिए वजह

पाकिस्तान की नापाक हरकतों की वजह से शुक्रवार को बुलंदशहर के रहने वाले जगपाल सिंह शहीद हो गए। जगपाल सिंह एक दिन बाद अपनी बेटी की शादी के लिए घर आने वाले थे।

20 जनवरी 2018