सुविधा शुल्क दो तभी खाली होंगे ट्रक!

Bulandshahr Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
बुलंदशहर। एफसीआई गोदामों पर अधिकारियों और लेबर की सुस्ती गेहूं ढोने वाले ट्रांसपोर्टर्स पर भारी पड़ रही है। चार-चार दिन तक ट्रक गोदामों पर खड़े रहने से ट्रांसपोर्टर को नुकसान उठाना पड़ रहा है। एफसीआई के चांदपुर गोदाम पर भी ट्रकों की करीब एक किलोमीटर लंबी लाइन लगी है। ट्रक चालकों का आरोप है कि गोदाम के गेट पर बैठे कर्मचारी पैसा लेकर ट्रकों का नंबर लगा रहे हैं।
गेहूं की बंपर पैदावार के चलते इस बार गोदामों पर गेहूं की आवक ज्यादा है। लेकिन आवक बढ़ने के मुताबिक गोदामों पर ट्रक अनलोड़िंग के लिए अतिरिक्त लेबर का इंतजाम नहीं किया गया है। आलम यह है कि चांदपुर और लालपुर गोदामों पर ट्रकों की लंबी-लंबी कतार लगी है। खुले में खड़े ट्रकों पर अनाज को ढकने के लिए तिरपाल तक नहीं है। ऐसे में गेहूं को बारिश में भीगने का खतरा बना हुआ है। चांदपुर गोदाम पर करीब 40 ट्रक चार दिन से खड़े हुए हैं। ट्रक चालक सुरेश का कहना है कि सोमवार से कतार में खड़े ट्रक के अनलोडिंग का नंबर नहीं आया है। चालक नसीम का कहना है कि जो ट्रक चालक गेट पर तैनात कर्मचारियों की जेब गर्म कर देता है उसका नंबर पहले लगा दिया जाता है। भले वह बाद में आया हो। बिना सुविधा शुल्क दिए ट्रक के अनलोड का नंबर नहीं जाता है। ट्रक चालक मुस्तफा का कहना है कि चार दिन खड़े रहने से उन्हें आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है।


चांदपुर गोदाम ट्रांजिट गोदाम है। यहां पर माल आने के साथ-साथ एमडीएम, पीडीएस और दूसरे राज्यों का माल जा भी रहा है। जिसकी वजह से कुछ लेबर माल बाहर भेजने के लिए ट्रकों को लोड कर रही है। बाकी आने वाले गेहूं की अनलोडिंग कर रही है। ऐसे में थोड़ी परेशानियां आ रही है। उनका कहना है कि लेबर को जल्द काम करने के निर्देश दिए गए हैं। ज्ञानेंद्र सिंह, मैनेजर एफसीआई चांदपुर गोदाम


भड़के किसान
औरंगाबाद। मंडियों में किसानों से समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर क्रय करने के विरोध में भाकियू कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन औरंगाबाद के थाना प्रभारी को साैंपा। भाकियू की युवा इकाई के जिलाध्यक्ष गुड्डू प्रधान पसौली के नेतृत्व में किसान बुधवार की दोपहर औरंगाबाद थाने पहुंचे। उन्होंने कहा कि औरंगाबाद मंडी में किसानों का गेहूं 1120 रुपये प्रति कुंतल की दर से खरीदा जा रहा है। व्यापारियों द्वारा हड़ताल को नाटक बताया और कहा कि व्यापारी गांवों में घूमकर किसानों का गेहूं समर्थन मूल्य से कम रेट पर खरीद रहे हैं। गुड्डू प्रधान ने कहा कि औरंगाबाद मंडी में पांच लाइसेंसी धारक व्यापारी शासन द्वारा गेहूं खरीदने के लिए नियुक्त किए हैं। किसी भी व्यापारी ने किसानों का गेहूं क्रय नहीं किया।


भाकियू ने ज्ञापन दिया
जेवर। मध्य प्रदेश प्रांत के अनूपुर जिला अंतर्गत जताहारी ब्लाक में किसानों की जमीन 14 रुपये प्रति वर्ग मीटर में अधिग्रहण करने और विरोध करने पर किसानों पर गोलियां चलाने का मामला तूल पकड़ गया है। बुधवार को भाकियू नेताओं ने जेवर थाने में धरना दिया और पीएम के नाम संबोधित ज्ञापन कोतवाल को सौंपा। ज्ञापन में एमपी की भाजपा सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। भाकियू नेता शिवराज सिंह ने बताया कि एमपी की भाजपा सरकार ने पिछले साल अनूपुर जिला अंतर्गत जताहारी ब्लाक में किसानाें की जमीन महज 14 रुपये प्रति वर्ग मीटर में अधिग्रहण की। आरोप है कि अधिग्रहण के दौरान किसानों की फसल उजाड़कर कब्जा कराया। तभी से किसान लगातार उचित मुआवजे की मांग कर रहे हैं। नेताओं ने जेवर एमपी के किसानों के समर्थन में जेवर कोतवाली में धरना देकर प्रधानमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा।

किसानों ने खुद तौला गेहूं
गुलावठी। नवीन मंडी स्थित केंद्रीय उपभोक्ता सहकारी भंडार लि. बुलंदशहर के गेहूं क्रय केंद्र पर बुधवार को क्रय केंद्र प्रभारी की अनुपस्थिति में किसान स्वयं बारदाना लेकर आए और गेहूं तौलना शुरू कर दी। किसानों का कहना था कि केंद्र पर न लेबर तथा न बारदाने की पर्याप्त व्यवस्था है। एडीएम वित्त के केंद्र पर पहुंचने पर भाकियू नेताओं एवं किसानों ने समस्याएं बताईं। बुधवार को नवीन मंडी स्थल पर पूर्व घोषणा के अनुसार भारतीय किसान यूनियन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष वीरपाल सिंह तेवतिया एवं भारतभूषण शर्मा के नेतृत्व में भाकियू कार्यकर्ता क्रय केंद्र पर पहुंचे। केंद्र पर न लेबर मौजूद थे और न केंद्र प्रभारी। किसानों ने बारदाना लेकर स्वयं गेहूं तौलना शुरू कर दिया। इस दौरान मंडी समिति सचिव अहिबरन सिंह को बुलाया तथा किसानों की समस्याएं बताई।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

बुलंदशहर की ये बेटी पाकिस्तान को कभी माफ नहीं करेगी, देखिए वजह

पाकिस्तान की नापाक हरकतों की वजह से शुक्रवार को बुलंदशहर के रहने वाले जगपाल सिंह शहीद हो गए। जगपाल सिंह एक दिन बाद अपनी बेटी की शादी के लिए घर आने वाले थे।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper