दावों में खाद भरपूर... फिर भी किसान लाइन में थककर चूर

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बदायूं Updated Fri, 30 Aug 2019 02:56 PM IST
विज्ञापन
farmer
farmer

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
किसानों को धान में लगाने के लिए खाद की बेहद जरूरत है, लेकिन दिन भर लाइन में लगने के बाद भी किसानों को केंद्रों और दुकानों पर खाद नहीं मिल रही है। इस बात का फायदा उठाते हुए प्राइवेट दुकानदार लगातार महंगे दामों पर खाद के कट्टे बेच रहे हैं।
विज्ञापन

मजबूरी की वजह से लोग वहां से खाद के कट्टे ले रहे हैं। जिला प्रशासन की ओर से दावे किए जा रहे हैं कि जिले में खाद पर्याप्त मात्रा में है, ऐसे में सवाल उठा रहा हैं कि आखिर खाद जा कहां रही है, जो किसानों की लाइन कम नहीं हो रही।
किसानों को यह भी शंका है कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि खाद को चोरी छिपे कहीं स्टॉक किया जा रहा हो। खरीफ की फसल का सीजन चल रहा है। इस समय खेतों में धान की फसल खड़ी है। इस फसल के लिए अभी खाद बेहद जरूरी है। ऐसे में जब किसान खाद लेने के लिए सहकारी समितियों पर जा रहे हैं तो वहां पर कर्मचारी खाद नहीं आने का रोना रोने लगते हैै।
मजबूरन जब किसान प्राइवेट दुकानों पर जाते हैं, तो वहां पर खाद नहीं होने की बात कहकर खाद के लिए किसानों को मना कर दिया जाता है। साथ ही कुछ कट्टे खाद ही उपलब्ध बताकर उनको महंगे दामों पर दिए जाते हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X