नेशनल प्रोग्राम बिना जनजागरण अभियान के शुरू

Bijnor Updated Thu, 06 Dec 2012 05:30 AM IST
बिजनौर। कुछ पोस्टरों के सहारे ही शुरू हो गया नेशनल खसरा रक्षक अभियान। जबकि प्रचार - प्रसार और टीकाकरण अभियान के लिए शासन से जिले को 72 लाख 22 हजार रुपये मिले हैं। खास बात तो यह कि तीन दिसंबर से स्कूलों में शुरू हुए प्रथम चरण के टीकाकरण अभियान के विषय में अभिभावक अनजान है।
पोलियो को मिटाया है अब खसरा की बारी है। इसी तर्ज पर शासन ने खसरा से होने वाली मौतों को रोकने के लिए खसरा रक्षक अभियान चलाया है। स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही देखिए, पोलियो की तर्ज माइक्रो प्लान बना नेशनल प्रोग्राम शुरू तो कर दिया, लेकिन पल्स पोलियो के एक हिस्से के बराबर भी प्रचार - प्रसार नहीं किया। विभाग ने कुछ छोटे पोस्टर छपवाकर और इक्का - दुक्का स्थानों पर चस्पा कराकर प्रचार - प्रसार, लोगों में अभियान के प्रति जागरूकता लाने की इतिश्री कर दी। स्कूलों में बच्चों को खसरे टीका लगाया जा रहा है। अभिभावक इस बात से बिल्कुल अंजान है। अभिभावकों को टीके का पता तब चलता है, जब स्कूल में खसरा का टीका लगवाकर कूल्ला पकड़े हुए घर पहुंचता है।
जानकारी के अभाव में दो स्कूलों में हो चुका है विरोध
टीके की सूचना पर मंगलवार को सेंट मैरीज स्कूल और सिसौना में एक पब्लिक स्कूल में टीकाकरण को पहुंची टीम को अभिभावकों का विरोध झेलना पड़ा। जब उन्हें खसरे के टीके केबारे में पता चला, तो अभिभावकों ने अपनी मौजूदगी में ही बच्चों को टीका लगवाया।

एक बच्चे पर है 9.63 रुपये खर्च का लक्ष्य
एक बच्चे पर 9.63 रुपये खर्च होना है। इसमें वैक्सीनेटर के 75 प्रति रुपये प्रतिदिन और सुपरवाइजर को 100 रुपये प्रतिदिन दिया जाना है। एक टीम में चार सदस्य होंगे और उन्हें प्रतिदिन 150 से 200 बच्चों का टीकाकरण करना है। अभियान तीन सप्ताह चलेगा। जिले में सात लाख तीन हजार बच्चों को टीकेलगाने का लक्ष्य रखा है।
शासन के निर्देशानुसार और बजट के हिसाब से पोस्टर लगाए हैं। विभागीय कर्मचारी, एएनएम और आशाओं के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। खसरा रक्षक अभियान अभी पहली फेज में हैं। पोलियो अभियान की तरह दूसरी फेज में आने पर सभी इसके बारे में स्वत: जान जाएंगे।
डॉ. शशि कुमार अग्निहोत्री, सीएमओ

Spotlight

Most Read

Lucknow

ब्राइटलैंड स्कूल दो दिन के लिए बंद, छात्रा हुई जुवेनाइल कोर्ट में पेश

राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में छात्र को चाकू मारने की घटना के बाद बच्चों में बसे खौफ को दूर करने के लिए स्कूल को दो दिनों के लिए बंद कर दिया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बिजनौर में दिखा पुलिस की नाकामी का सबसे बड़ा सबूत

यूपी के बिजनौर में एक लाख के इनामी बदमाश आदित्य और उसके एक साथी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। कोर्ट ने दोनों को बिजनौर जेल भेज दिया है। कुख्यात आदित्य और उसके साथी ने लॉडी मर्डर केस में सरेंडर किया है।

11 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper