दीपावली पर दुल्हन की तरह सजा शहर

Bijnor Updated Tue, 13 Nov 2012 12:00 PM IST
बिजनौर। दीपावली से पहली रात्रि शहर दुल्हन की तरह नजर सजा नजर आया। वहीं, दीपावली की पूर्व संध्या पर बाजार में इस कदर भीड़ रही कि सड़के जाम हो गई।
शास्त्री चौक से लेकर मेन बाजार तक स्टाल लगातार आर्टिफिशियल फूल, बर्तन, कलेंडर, झालर, मोमबत्ती, मिठाई आदि की खूब बिक्री की गई। बाजार में खूब भीड़ रही। सिविल लाइंस पर बुरी तरह जाम लगा रहा। राम का चौराहा पर तो वाहन पास ही नहीं हो पाए। चाहशीरी रोड पर भी जाम रहा। दीपावली पर खील बताशे, हाथी घोड़े, मोमबत्ती आदि की खूब बिक्री हुई। दीपावली की पूर्व संध्या पर बाजार इलेक्ट्रानिक झालर से सजाया गया। लोगों ने अपने घरों को भी खूब सजाया।
नगीना। दीपावली की पूर्व संध्या पर बाजारों में मिठाई और पटाखों की खूब खरीदारी हुई। घर की सजावट के लिए महिलाओं ने झालरें, दीपक आदि की खरीदारी की। उधर, एसडीएम ने पटाखों की बिक्री पर कड़ी निगरानी रखने के लिए फायर सर्विस के कर्मचारियों को निर्देश दिए हैं। इस बार मात्र 26 दुकानें ही पटाखों की लगी है। नगीना में शहर से बाहर हिंदू इंटर कालेज के मैदान में पटाखों की दुकानें लगी हैं। नगीना में इस बार सबसे ज्यादा पैक मिठाइयों की बिक्री हुई।
किरतपुर। छोटी दीपावली पर शहर में भारी रौनक रही। सुरक्षा की दृष्टि से शहर की आबादी एवं बाजार से हटकर हिंदू इंटर कॉलेज से खेल मैदान में लगाई गई पटाखों की दुकानों पर लोगों की भीड़ रही। रेलवे स्टेशन पर हिंदू इंटर कॉलेज से लेकर सरकारी अस्पताल तक, जैन मंदिर चौराहा, सर्राफा बाजार, धन्नू का चौराहा, छतरीवाला कुआं तथा अंबेडकर मूर्ति चौक के आसपास वाले बाजार में भारी भीड़ रही।
किरतपुर। नगर के व्यस्ततम बाजार में बड़े वाहनों का प्रवेश रोकने के लिए मंडावर तिराहे पर क्रय-विक्रय समिति के सामने नगरपालिका ने बैरियर लगा दिए। इससे बाजार में बड़े वाहनों के कारण लगने वाले जाम से लोगों निजात मिली। नवगठित पालिका बोर्ड की पहली बैठक में ही शहर के भीतर बड़े वाहनों का प्रवेश वर्जित रखने के लिए उक्त स्थान पर बैरियर लगाने का प्रस्ताव पास किया गया था। जिसे अमलीजामा पहनाते हुए रविवार रात में मंडावर तिराहे से शहर में जाने वाले मार्ग पर बैरियर लगा दिए थे। चेयरपर्सन पति अब्दुल मन्नान ने बताया कि सुबह सात बजे से रात्रि आठ बजे तक बैरियर बंद रहेगा।
बिजनौर। दीपावली पर मूर्तियों की खूब बिक्री हो रही है। भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की मूर्तियों की विशेष मांग रही। दीपावली पर देवी-देवताओं की मूर्तियों की खूब बिक्री होती है। श्रद्धालु इलेक्ट्रोनिक मूर्तियों के स्थान पर मिट्टी की बनी मूर्तियों को अधिक पसंद करते हैं। बाजार में मिट्टी की मूर्तियों को खूब पसंद किया जा रहा है। इन मूर्तियों की कीमत 30 से लेकर 500 रुपये तक हैं। बाजार में भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की मूर्तियों की खूब डिमांड है। मूर्ति विक्रेता हर्ष कुमार के अनुसार मिट्टी की मूर्तियां इलेक्ट्रोनिक मूर्तियों से ज्यादा खरीदी जाती हैं। पंडित मदन शर्मा के अनुसार धार्मिक ग्रंथों में भी मिट्टी को पवित्र माना गया है। अनेक धार्मिक कहानियों में भी भगवान मिट्टी से बनी मूर्ति को ही सजीव करते हैं। इसलिए मिट्टी की बनी मूर्तियों आज भी श्रद्धालुओं की श्रद्धा का केंद्र हैं।

Spotlight

Most Read

Meerut

दो सगी बहनों से साढ़े चार साल तक गैंगरेप, घर लौट आई एक बेटी ने सुनाई आपबीती

दो बहनों का अपहरण कर तीन लोगों ने साढ़े चार वर्ष तक उनके साथ गैंगरेप किया। एक पीड़िता आरोपियों की चंगुल से निकल कर घर लौट आई। उसने परिवार को आपबीती सुनाई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बिजनौर में दिखा पुलिस की नाकामी का सबसे बड़ा सबूत

यूपी के बिजनौर में एक लाख के इनामी बदमाश आदित्य और उसके एक साथी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। कोर्ट ने दोनों को बिजनौर जेल भेज दिया है। कुख्यात आदित्य और उसके साथी ने लॉडी मर्डर केस में सरेंडर किया है।

11 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper