91 सहकारी समितियों की जंग आज

Bijnor Updated Mon, 29 Oct 2012 12:00 PM IST
बिजनौर। जनपद की 91 सहकारी समितियों में डायरेक्टर पद पर निर्णायक जंग आज होगी। चुनाव के क्षण नजदीक आते ही जहां दावेदारों की धड़कनें तेज हो गई हैं, वहीं दावेदारों ने मतदाताओं की भी नींद उड़ा दी है। वह प्रतिद्वंद्वी की नजरों से बचकर रात भर किसान मतदाताओं पर सम्मोहन वाण चला रहे हैं। किसानों का साम्राज्य कही जाने वाली सहकारी समितियों पर सभापति और बैंक के डेलीगेट का चुनाव 30 अक्तूबर को होगा। सत्ता पक्ष से लेकर अन्य सियासी दलों के नेताओं की शिरकत भी इस चुनाव में बढ़ गई है।
जिले में 91 सहकारी समितियों पर सोमवार को संचालक पद का चुनाव होगा। सभापति का चुनाव इसके अगले दिन 30 अक्तूबर को होना है। ऐसे में सभापति बनने का सब्जबाग देख रहे नेता इस चुनाव में खुद की तैयारी के साथ अपने पक्ष के संचालक की जीत के लिए भी ताकत झोंक रहे हैं। सहकारी समितियों के चुनाव को लेकर किसान मतदाता भी सियासी रंग में रंग गए हैं। भले ही ये चुनाव राजनीतिक सिंबल बेस पर न होते हों, लेकिन सियासी दल भी इसमें जबरदस्त भागीदारी कर रहे हैं। सहकारी समितियों में नौ-नौ डायरेक्टर चुने जाने हैं। सोमवार को सुबह आठ बजे से समितियों पर चुनाव शुरू हो जाएगा, जो दुपहर बाद साढ़े चार बजे तक चलेगा। इसके बाद मतगणना होने पर चुनाव के दिन ही परिणाम जारी कर दिया जाएगा। इसी दिन सभापति और डेलीगेट के लिए भी नामांकन होगा और 30 अक्तूबर को इनका चुनाव किया जाएगा।
जिला सहकारी बैंक के चुनाव में सहकारी समितियों से चुने जाने वाले डेलीगेट की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। प्रत्येक समिति से छह डेलीगेट जिला सहकारी बैंक के लिए चुने जाएंगे, जिसमें एक अनुसूचित जाति, एक विशेष योग्यता रखने वाला व चार डेलीगेट सामान्य वर्ग के होंगे, जिन्हें डायरेक्टर ही चुनेंगे। इसके अतिरिक्त एक डेलीगेट इफको स्टोर, चार क्रय, विक्रय और दो मंडी समिति के लिए चुने जाएंगे। राजनीतिक दृष्टि से बैंकों के लिए चुने जाने वाले डेलीगेट पर ही जिला सहकारी बैंक का चुनाव निर्भर रहता है। बैंक डेलीगेट सहकारी समिति की तरह पहले डायरेक्टर को चुनते हैं। इसके बाद डायरेक्टर जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन का चुनाव करते हैं। राजनीतिक दलों की नजर भी जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन की कुर्सी पर है।
चुनाव की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सहकारी समितियों पर सोमवार को सुबह आठ बजे से चुनाव शुरू हो जाएगा। समितियों पर विवाद न हो इसके लिए पुलिस भी तैनात रहेगी।
-आरएस राणा, एआर कोऑपरेटिव
किरतपुर। किसान सेवा सहकारी समिति के नौ संचालकों में सात पद हेतु सोमवार को मतदान होगा। दो पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं। वार्ड एक चतरभोजपुर कुशल सामान्य में तीन उम्मीदवार व 286 मतदाता, वार्ड दो छितावर सामान्य में 237 मतदाता व छह उम्मीदवार, वार्ड तीन बसी कोटला सामान्य में तीन उम्मीदवार व 233 मतदाता, वार्ड चार बहादरपुर सामान्य में चार उम्मीदवार व 169 मतदाता, वार्ड पांच बेगपुर रूपचंद सामान्य में दो उम्मीदवार व 231 मतदाता, वार्ड छह भनेड़ा सामान्य में दो उम्मीदवार व 210 मतदाता, वार्ड सात मेमनसादात अनुसूचित में तीन उम्मीदवार व 128 मतदाता हैं। वार्ड आठ शहबाजपुर रतन पिछड़ा वर्ग से रावेंद्र सिंह व वार्ड नौ हादीपुर सदरूद्दीन, महिला से कुसुम लता पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं।
धामपुर। एडीसीओ ब्रह्मपाल सिंह ने बताया कि तहसील धामपुर में 29 किसान सेवा समितियों के संचालकाें के लिए सोमवार को मतदान होगा। थाना धामपुर में सात सरकड़ा, धामपुर, हर्रा, रामठेरा, पीपलसाना, बसेड़ा नारायण, नींदडू, मिलक जहांगीराबाद और नसीरपुर बनवारी समितियां हैं। नसीरपुर बनवारी समिति का धामपुर ब्लाक परिसर, जबकि शेष समितियाें में वहीं मतदान होगा है। सभी समितियों में संचालकों के लिए 15 हजार से ज्यादा किसान मतदान करेंगे।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

आप विधायकों को हाईकोर्ट ने भी नहीं दी राहत, अब सोमवार को होगी सुनवाई

लाभ के पद के मामले में चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने के मामले में अब सोमवार को होगी सुनवाई।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बिजनौर में दिखा पुलिस की नाकामी का सबसे बड़ा सबूत

यूपी के बिजनौर में एक लाख के इनामी बदमाश आदित्य और उसके एक साथी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। कोर्ट ने दोनों को बिजनौर जेल भेज दिया है। कुख्यात आदित्य और उसके साथी ने लॉडी मर्डर केस में सरेंडर किया है।

11 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper