फर्जी बीएलओ बना शिक्षक हिरासत में

Bijnor Updated Sat, 27 Oct 2012 12:00 PM IST
कोतवाली देहात (बिजनौर)। मतदाता सूची एवं फोटो पहचानपत्र पुनरीक्षण शिविर में बीएलओ की जगह काम करते मिले शिक्षक को डीएम के आदेश पर हिरासत में ले लिया है। इस फर्जीवाडे़ की गाज बीएलओ और एक लेखपाल पर भी गिरी, जिन्हें निलंबित कर दिया गया है।
शुक्रवार को दयानंद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कोतवाली में लगे मतदाता सूची पुनरीक्षण कैंप की हकीकत देखकर डीएम नाराज हो गईं। कैंप में बीएलओ बलवीर सिंह के स्थान पर अध्यापक दिनेश कुमार को कार्य करते हुए पाया गया। इस बारे में डीएम ने जब पूछा तो शिक्षक ने बताया कि उन्हें लेखपाल यूसुफ ने बलवीर सिंह बीएलओ की नेम प्लेट लगाकर बीएलओ की जगह काम करने को कहा, जबकि उसे मतदाता सूची की कोई जानकारी नहीं थी। यह बात सुनकर डीएम आगबबूला हो गईं और उन्होंने एसडीएम नगीना सुरेंद्र सिंह को फटकार लगाई तथा शिक्षक को हिरासत में लेने के निर्देश दिए। वहीं लेखपाल तथा यूसुफ को निलंबित कर दिया। साथ ही ड्यूटी से गायब बीएलओ बलवीर सिंह को भी निलंबित करने की संस्तुति कर दी तथा एमपीआरसी रईस को प्रतिकूल प्रवष्टि देने के आदेश दिए ।
मतदाता सूची के लिए स्कूल कैंप में चार बीएलओ प्रताप सिंह, अमित कुमार, शीशराम व बलवीर सिंह की ड्यूटी लगाई गई थी। वहीं सुपरवाइजर एपपीआरसी रईस अहमद व एक अध्यापक कांशीनाथ को कैंप का सुपरवाइजर बनाया गया था। उक्त पूरे कैंप का सुपरविजन लेखपाल यूसुफ कर रहे थे।
उधर, नगीना में डीएम डॉ. सारिका मोहन ने नगीना तहसील में पहुंच कर मतदाता फोटो पहचान पत्र बनाने में कोताही न बरतने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने एडीएम विनोद कुमार सिंह और सहायक निर्वाचन अधिकारी राकेश कुमार शर्मा के साथ नगीना विधानसभा क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक मतदाता केंद्रों का निरीक्षण किया। कई केंद्रों पर बीएलओ गैरहाजिर मिले और मोबाइलों पर उनसे संपर्क नहीं हो सका। बाद में तहसील स्थित निर्वाचन कार्यालय के कंप्यूटर कक्ष में पहुंची। वहां कार्य करने वाले रजिस्ट्रार कानूनगो महावीर सिंह और वहां तैनात अन्य कर्मचारियों से कहा कि इस कार्य में कोई कोताही बर्दाश्त नहीं होगी। उन्हाेंने महिलाओं के फोटो पहचान पत्र बनाने को वरीयता देने आदेश दिए।
खामियों पर तमतमाईं डीएम
नजीबाबाद। डीएम डॉ. सारिका मोहन शुक्रवार को सुबह 11 बजे अचानक तहसील पहुंचीं। उन्होंने एसडीएम आशुतोष मोहन अग्निहोत्री के साथ मतदाता पुनरीक्षण अभियान की समीक्षा की। मतदाता पुनरीक्षण केंद्र पर फार्म - 6, 7, 8 की जांच में खामियां मिलने पर नाराजगी जताई। उन्होंने व्यवस्था सुधारने और मतदाता पंजीकरण केंद्र की डेली मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि मतदाता पुनरीक्षण अभियान में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। इससे पूर्व डीएम ने किरतपुर ईदगाह का निरीक्षण कर ईद की नमाज की तैयारी का जायजा लिया। उन्होंने यहां चार-पांच मतदान केंद्रों पर पहुंचकर व्यवस्था देखी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बिजनौर में दिखा पुलिस की नाकामी का सबसे बड़ा सबूत

यूपी के बिजनौर में एक लाख के इनामी बदमाश आदित्य और उसके एक साथी ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। कोर्ट ने दोनों को बिजनौर जेल भेज दिया है। कुख्यात आदित्य और उसके साथी ने लॉडी मर्डर केस में सरेंडर किया है।

11 जनवरी 2018