बारिश ने उजाड़े कई आशियाने

Bhadohi Updated Sun, 16 Sep 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। 48 घंटों की बरसात ने जिले में कई परिवारों को बेघर कर दिया। खपरैल और कच्चे मकानों के धराशायी होने का सिलसिला शनिवार शाम तक जारी रहा। इस दौरान बड़ी तादाद में मवेशी दबे और लाखों के सामान मलबे में दबकर नष्ट हो गए। कई साल बाद तबाही मचाने वाली इस बरसात ने ग्रामीणों को सबसे ज्यादा परेशानी में डाला है। शुक्रवार की देर रात से लेकर शनिवार शाम तक सैकड़ों मकान मिट्टी में मिल गए।
ऊंज संवाददाता के अनुसार मूसलाधार बारिश से क्षेत्र के नवधन ग्राम में कड़ेदीन गुप्ता, विजयलाल गुप्ता, पन्नालाल गुप्ता, वंशीलाल, विश्वनाथ, सीताराम, विजयी, कमलाशंकर, कन्हैयालाल, कालीदास, गिरधारी दुबे, जटाशंकर का आपस में सटा हुआ कच्चा मकान गिर गया। दशरथपुर बयांव में रामचंद्र शर्मा, गंगाधर पांडेेय, रमाशंकर का कच्चा मकान गिरने से उसमें रखे अनाज, भूषा, बर्तन आदि सामान नष्ट हो गए। मीनापुर में छोटेलाल बिंद, रामआसरे के मकान पर विशालकाय पेड़ गिर जाने से ध्वस्त हो गया। अइनछ में राजकुमार प्रजापति, सुधवैं में राधेश्याम दलित, उमाशंकर यादव के मकान धराशायी हो गए। कुरमैचा में श्रीराम बिंद, हंसराज बिंद, देवी प्रसाद दलित और हुट्टर दलित, छोटेलाल पासी, मिश्रीलाल गौड़, राकेश गौतम, भोलानाथ विश्वकर्मा, वृद्धि नारायण बिंद, राकेश चौबे के मकान ध्वस्त हुए हैं। पूरे विश्वनाथ में रामदेव, हैदर अली, राजमनि, राजेंद्र हिंछलाल, सीकीचौरा में फक्कड़ी प्रजापति, चिंतामणि प्रजापति, लालचंद विश्वकर्मा रमापति बिंद, अमृतलाल बिंद, गंगा सागर बिंद, सुरेश शुक्ला के कच्चे मकान और मल्लू बिंद का छप्पर, सरावां माला बिंद, रामनिहोर बिंद का मकान, रमईपुर बसंतलाल बिंद का मकान गिरने से दबकर भैंस दबकर मर गई और रोही के लालधर गोबर्धन, लालजी बिंद का कच्चा मकान, ऊंज ग्राम में सूर्यमणि गौतम, छोटकऊ गौतम, बुदुल गौतम, सुभाष यादव के मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। अकोढ़ा में विमला देवी, संजय बिंद, भोला बिंद, इंद्रमणि, राजपति दलित, गुल्लूर पाल, छबीला देवी, नईम का कच्चा मकान धराशायी हुआ और काफी नुकसान हो गया। अभोली संवाददाता के अनुसार बिसौली कृपालपुर निवासी बनारसी लाल कहार, विजय कुमार मिश्रा, जन्नू अली, जोखूलाल बिंद घमहां, मुरली बिंद, गुवाली में देवी प्रसाद दुबे, जय नारायण गिरी, सोनू सिंह, शिव कुमार गौड़, अभोली गांव में शिवनाथ यादव, मनीष बिंद, बुचुनू दलित के कच्चे मकान धराशायी हो गए। इससे मकान में रखे काफी सामान नष्ट हो गए।
सुभाषनगर संवाददाता के अनुसार पूरेनगरी में भरतलाल, संतलाल, शेषमणि बिंद का कच्चा मकान धराशायी हो गया। बरईपुर में धर्मूराम के मकान पर पेड़ गिर गया। साथ ही राजकुमार चौकीदार का कच्चा मकान धराशायी हो गया। ऊंज में राज नारायण यादव, शीतला प्रसाद दुबे, गणेश प्रसाद, नवधन में अनिल मौर्य, अरविंद उपाध्याय, मुरलीधर यादव का कच्चा मकान गिरा है। इस दौरान परिवार के लोगों को भी मामूली चोटें आईं। वहिदानगर संवाददाता के अनुसार सीतामढ़ी नारेपार में सहदेव का दलित कच्चा मकान बीतीरात गिर गया। इससे भैंस और गाय दबकर बेहोश हो गईं। ग्रामीणों ने बाहर निकाला। गरेड़िया की बारी में दशरथ पाल, बारीपुर में सूर्यप्रताप दुबे, उमाशंकर दुबे, निर्मला देवी, नगीना देवी, गोलखरा में फुलगेन सिंह, सत्यप्रकाश, विजय नारायण यादव का कच्चा मकान गिरा। जलजमाव से मझंगवा में आदित्य प्रकाश यादव का पक्का मकान, श्याम बिहारी यादव का कच्चा मकान, रामू प्रजापति भावापुर, कन्हैयालाल, रामधन यादव, जोगापुर के नंदलाल बिंद, होलपुर के श्यामलाल लाल बिंद, मझगंवा में रामअवध बिंद, रामकशुनपुर बसही में विजय बिंद का कच्चा मकान रात में गिर गया। मलबे में भैंस दब गई। हालांकि ग्रामीणों ने प्रयास कर उसे बचा लिया। रामआसरे बिंद के चार जानवरों को मकान के मलबे में दबने से ग्रामीणों ने बचाया। मोतीलाल बिंद के पक्के मकान पर महुआ का पेड़ गिर गया। इससे काफी नुकसान हो गया। सीतामढ़ी संवाददाता के मुताबिक भारी वर्षा से क्षेत्र में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। नारेपार गांव में रमाशंकर और राजा विश्वकर्मा के घर में पानी घुस गया जिससे घर में रखे सारे सामान भीगकर खराब हो गए। इसी तरह गांव के नंदलाल शर्मा, आशा माझी, आश बहादुर, रामबहादुर, राजपति, हंसराज, जीत नारायण, काशीपाल, फूंकनी, माल्टा माझी, जिमनी माझी, बड़कऊ, महादेव, वंशराज, रामउचित, रामरेखा, पन्ना लाल, चैटू, कल्लू, आदि का कच्चा मकान गिर गया। बारीपुर में राधेश्याम, सभापति, पियारे, ऊर्ध सोनार, तीरथ दूबे का, बनकट में राधेश्याम, हिंछ नारायण, कल्लू, लालजी, शिवजी, शिव पूजन, आदि के कच्चे मकान धराशायी हुए हैं। सीतामढ़ी हनुमान मंदिर के पास कई मीटर मिट्टी कट गई है और कच्चा बंधा भी बह गया है। सुरियावां संवाददाता के मुताबिक भटेवरा निवासी दुर्गावती देवी पत्नी स्व. नंदलाल गौतम का कच्चा मकान शनिवार को धराशायी हो गया।
कोतवाली ज्ञानपुर क्षेत्र के सरपतहां गांव निवासी धनीराम शुक्ल का कच्चा मकान तेज बरसात के कारण धराशायी हो गया। उसमें दबकर कई बोरा गेहूं, चावल सहित बर्तन, बिस्तर, चारपाई आदि नष्ट हो गया। घटना में परिजन बाल-बाल बच गए, जबकि गृहस्वामी धनीराम शुक्ल को मामूली चोटें आई हैं। जबकि एक गाय भी दबकर गंभीर रूप से घायल हो गई। ज्ञानपुर देहाती में शारदा प्रसाद और मूलचंद्र का कच्चा मकान गिरने से हजारों का सामान नष्ट हो गया। गोपीगंज संवाददाता के अनुसार नगर पालिका परिषद के कई मोहल्ले बरसात के चलते जलमग्न हो गए हैं। घरों में पानी भर जाने के कारण लोगों का जनजीवन प्रभावित हो रहा है। पालिका प्रशासन की ओर से जल निकासी की कोई व्यवस्था न होने के कारण नागरिकों में जबर्दस्त आक्रोश व्याप्त हो गया है। नागरिकों का कहना है कि ऐसी नारकीय व्यवस्था नगर में पहले कभी नहीं देखी गई। नगर के चुड़िहारी मुहाल अस्पताल के पीछे स्थित मोहम्मद खलीला का कच्चा मकान पानी भर जाने के कारण धराशायी हो गया। पूरे घर में पानी भर जाने से सारे सामान नष्ट हो गए। अस्पताल गली निवासी मोहम्मद मजीद के घर में पानी भरने से सारा सामान नष्ट हो गया। उसकी लड़की की शादी के लिए काफी मात्रा में सामान आदि रखे थे जो मकान गिरने के कारण दबकर नष्ट हो गए। रजईपुर सोहगी में मुकुंदलाल जायसवाल का सारा सामान दबकर नष्ट हो गया। क्षेत्र के जगन्नाथपुर में सुरेंद्र नाथ यादव का कच्चा मकान गिरने से हजारों की क्षति हो गई।
जंगीगंज संवाददाता के अनुसार गोपीगंज थानाक्षेत्र के महुआरी निवासी कलावती देवी का मकान गिरने से उसमें रखा सारा सामान नष्ट हो गया। कोइरौना थानाक्षेत्र के कलिंजरा निवासी ननकू मांझी, बुल्लू मांझी और सुरसत्ती का मकान गिरने से गृहस्थी के सामान दबकर नष्ट हो गए। डुहिया में रविंद्र मिश्र का कच्चा मकान और दलान गिरने से हजारों की क्षति हो गई। क्षेत्र के चेरापुर में जलभराव के चलते मार्ग बाधित हो गया है। तमाम स्कूलों के प्रांगण में पानी भर जाने के कारण पठन पाठन प्रभावित हो रहा है।

Spotlight

Most Read

Champawat

एसएसबी, पुलिस, वन कर्मियों ने सीमा पर कांबिंग की

ठुलीगाड़ (पूर्णागिरि) में तैनात एसएसबी की पंचम वाहिनी की सी कंपनी के दल ने पुलिस एवं वन विभाग के साथ भारत-नेपाल सीमा पर सघन कांबिंग कर सुरक्षा का जायजा लिया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

निर्भया कांड की बरसी के दिन किया था रेप, भदोही से गिरफ्तार

निर्भया काण्ड के दिन दिल्ली के शालीमार बाग में एक नाबालिक लड़की के साथ तीन लोगों ने रेप की वारदात को अंजाम दिया था। दिल्ली पुलिस ने भदोही पुलिस के सहयोग से रेप के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

4 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper