विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी में 128 संक्रमित, 24 घंटे में 10 बढ़े, तब्लीगी जमात के 429 लोगों की रिपोर्ट आज

प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना पॉजिटिव में दस नए केस समाने आए हैं।

3 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

भदोही

शुक्रवार, 3 अप्रैल 2020

हजरत निजामुद्दीन मरकज की घटना को लेकर बढ़ा अलर्ट

भदोही। हजरत निजामुद्दीन मरकज में गत दिनों हुए धार्मिक जलसे में 24 लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण मिलने के बाद जिले में अलर्ट बढ़ा दिया गया है। जिला प्रशासन को जानकारी मिली है कि भदोही का एक व्यक्ति उस जलसे में शामिल होने के लिए गया था। प्रशासन के पास उस व्यक्ति का मोबाइल नंबर भी है, जो स्विच आफ बता रहा है। इससे साफ नहीं हो सका है कि उक्त व्यक्ति भदोही वापस लौटा है या नहीं।
जलसे में देशभर से बड़ी संख्या में लोगों की भागीदारी होने और केवल 24 लोगों में कोरोना के लक्षण प्राप्त होने से लोगों को यह डर सता रहा है कि कहीं ऐसा न हो कि और लोगों भी संक्रमित होकर अपने अपने घर को लौटे हों। भदोही मे इसको लेकर लोग खासे परेशान हैं।
सीओ भूषण वर्मा ने बताया कि कोई मो. शारिक है जो वहां जलसे में भाग लेने गया था। उसका मोबाइल नंबर भी प्रशासन के पास है, लंकिन उक्त मोबाइल बंद चल रहा है जिससे पुलिस अब तक उस तक पहुंच नहीं सकी है। पुलिस का कहना है कि हम तो चाहते हैं कि उस शख्स की स्वास्थ्य परीक्षण हो जाए और यह साफ हो जाए कि वह संक्रमित है अथवा नहीं। सीओ ने बताया कि उक्त व्यक्ति की पहचान के लिए स्थानीय अभिसूचना इकाई के अधिकारी भी लगे हैं। सीओ ने कहा कि लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है बल्कि लोगों को अपने बचाव में गंभीर रहना चाहिए। उन्होंने आम नागरिकों से उक्त युवक के बारे में सूचना देने की अपील की है।
... और पढ़ें

बस्तियों में पहुंचे मददगार, मिटाई पेट की भूख

ज्ञानपुर। 21 दिन के लॉकडाउन में कोई भूखा न सोए इसलिए मददगार निर्धन एवं गरीबों के बस्तियों में पहुंच रहे हैं। मंगलवार को भी बड़ी संख्या में प्रधान, संगठनों संग पुलिस-प्रशासन की टीम ने दोपहर का खाना, सात से 10 दिन के राशन को उपलब्ध कराया।
ज्ञानपुर विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय वारी में राशन वितरण कार्यक्रम में 35 मुसहरों को 10-10 दिन का दाल, आटा, चावल, आलू, प्याज, मसाला आदि वितरित किया। मुख्य अतिथि एसडीएम ज्ञानपुर ज्ञान प्रकाश यादव ने मुसहरों को राशन देकर लोगों की सराहना की। इसके बाद कोरोना वायरस के प्रति जागरूक किया।
इस मौके पर प्रधानपति कमलाशंकर यादव, भरतराज सिंह, अरूण कुमार दूबे, कैलाश दूबे, सुदामा यादव, बाबूनंदन, गोपाल मिश्र, सभाजीत, कन्हैया आदि रहे। सुरियावां के बलीपुर, सांडा, चकबनवारी, पूरेबदल, बिसापुर, बहुता चकडाही की वनवासी बस्तियों में क्षेत्र पंचायत सदस्य आशीष सिंह ने चावल, आटा, आलू तेल मसाला, मास्क और साबून का वितरण किया।
मर्दनशाहपुर में प्रधान रमाशंकर यादव ने राहत सामग्री दिया। नेवादा रोही में की मुसहर बस्ती में ग्राम प्रधान चंपा देवी, दानूपुर पूरब पट्टी में ग्राम प्रधान दिनेश कुमार बिंद और सचिव मुकेश कुमार सरोज ने जरूरतमंदो को राशन वितरित किया। हरिकरनपुर गांव में कोटेदार महेंद्र कुमार मोदनवाल ने 70 वनवासी परिवारों को सब्जी का पैकट बंटवाया। औराई के उदय करनपुर गांव में होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. ओम प्रकाश त्रिपाठी ने मुसहर और दलित बस्ती में राशन का पैकेट बांटा। डीघ के चकमानधाता गांव में ग्राम प्रधान निर्मला देवी ने वनवासी बस्ती में राशन का वितरण कराया।
पाली चौकी इंचार्ज ज्ञान चंद्र पटेल ने मंगलवार को नागमलपुर, डंगहर, महासिंहपट्टी, महजूदा गांव में गरीबों को रोशन वितरित किया। भाजपा नेता जेपी सिंह, असनांव मंडल अध्यक्ष वेद प्रकाश मौर्य ने फौदीपुर, विशुनपुर गांव की मुसहर बस्ती में 200 लंच पैकेट वितरित किया। भारत गैस एजेंसी के प्रबंधक एवं समाज सेवी शाहिद खान चौकी इंचार्ज कस्बा ज्ञानपुर उप निरीक्षक मक्खन लाल ने मुहल्ला पुरानी बाजार, धईकरान बस्ती और सरांय मोहाल में गरीबों को राशन बांटा।
मोढ़ के कस्तूरीपुर में बंगाली मजदूरों को सुरियावां पुलिस के इंस्पेक्टर श्रीराम यादव, संतोष उपाध्याय ने अन्नपूर्णा बैंक की ओर से जरूरी राशन वितरित किया। एसओ सुरियावां विजय प्रताप सिंह ने बनकट और सिंहपुर की मुसहर बस्ती में 100 लोगों को राशन वितरण कराया। मोढ़ चौकी इंचार्ज सुनील कुमार यादव ने डुहिया, कीर्तीपुर, बरमोहनी और जमुनीपुर मुसहर बस्ती में 130 लोगों को जबकि भगवा रक्षा वाहिनी के निशांत पाठक, मनोज पाठक ने बनकट में 70 परिवारों को राशन पहुंचाया।
... और पढ़ें

पूर्वोत्तर रेलवे पार्सल वैन से फल, सब्जी, दवा और अनाज की करेगा ढुलाई, व्यापारियों को भी मिलेगा लाभ

पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने लॉकडाउन के मद्देनजर तीनों मंडल वाराणसी, इज्जतनगर और लखनऊ के बीच जीवन उपयोगी वस्तुओं की ढुलाई के लिए पार्सल वैन चलाने का निर्णय लिया है जो व्यवसायियों को रियायती दर पर उपलब्ध होंगी। पीआरओ वाराणसी मंडल अशोक कुमार ने बताया कि लॉकडाउन में यात्री ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से बंद कर मात्र माल ढुलाई के लिए माल गाड़ियों का संचालन कराया जा रहा है।

लोगों के समक्ष खाने-पीने के सामानों को लेकर हो रही समस्या का समाधान कराने के लिए 15 पार्सल वैन ट्रेनें अब फल, सब्जी, दवा, स्वास्थ्य उपकरण, मास्क, सेनिटाइजर, नमक, चीनी, तेल व अन्य खाद्यान्न का परिवहन करेंगी। पांच-पांच वैन बुकिंग कराने पर व्यापारियों को लॉकडाउन में लाभ भी मिलेगा जिसका शुभारंभ सोमवार को डीआरएम वीके पंजियार ने किया।

गंतव्य स्टेशन का निर्धारण किया जायेगा जिसकी बुकिंग पॉइंट टू पॉइंट होगी। कहा कि कोई भी लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य रास्ते में नहीं हो सकेगा सिर्फ निर्धारित स्टेशनों पर संभव होगा। जिस स्टेशन से बुकिंग होगी वहां तक व्यवसायी को अपना माल स्वयं पहुंचाना होगा जिस स्टेशन पर अनलोड कराना है वहां पर व्यवसायी को स्वयं अनलोड कराने, ले जाने की व्यवस्था करनी पड़ेगी।

तीनों मंडलों के स्टेशनों पर पार्सल घर, मंडल वाणिज्य निरीक्षक, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक कार्यालय से व्यवसायी संपर्क कर माल ढुलाई के लिए पार्सल ट्रेनों की बुकिंग करा सकते हैं। असुविधा होने पर वाणिज्य नियंत्रक के नंबर 9794843966 मिलाकर व्यापारी समाधान पा सकेंगे।

... और पढ़ें

नमाज अदा करने के लिए जुटाई भीड़, मौलवी समेत नौ पर मुकदमा

मोढ़। दिल्ली के मरकज का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ था कि बुधवार की शाम को कोछिया में जौनपुर के एक मौलवी ने दर्जनों मुस्लिमों को नमाज अदा करने के लिए एकत्रित कर लिया। मामले की खबर मिलते ही पुलिस वहां पहुंच गई। पुलिस को आते देख सभी वहां से गायब हो गए। पुलिस ने मौलवी समेत नौ के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर देश भर में लॉकडाउन है। इस दौरान किसी भी धर्म के किसी कार्यक्रम को अनुमति नहीं दी जा रही है। धारा 144 प्रभावी होने से पांच से अधिक लोगों को एकत्रित नहीं होने दिया जा रहा है। इसको लेकर अधिकतर मंदिरों में ताला बंद है, लेकिन कुछ लोग नियमों को ताक पर रखकर कोरोना वायरस संक्रमण फैलाने में भूमिका अदा कर दे रहे हैं। बुधवार की रात आठ बजे सुरियावां थानाक्षेत्र के कोछिया गांव की मुस्लिम बस्ती में ऐसा ही मामला सामने आया। जौनपुर के बरसठी थानाक्षेत्र के आलमगंज का निवासी मौलवी मोहम्मद इसरार गांव में आया।
उसने अल्लाह की इबादत के लिए नमाज अदा करने एवं जलसा करने की बात कहकर बस्ती के 50 से अधिक लोगों को एकत्रित कर लिया। इसकी खबर लगते ही सुरियावां थाने के सब इंस्पेक्टर श्रीराम यादव, शिवशंकर राम, कांस्टेबल संतोष उपाध्याय और इस्टालिन सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस को देख भीड़ तितर बितर हो गई। लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस ने मौलवी मो. इसरार के अलावा कोछिया निवासी मजीर, मो. अली, शमीम, रिजवान, आदाब, इम्तियाज, सद्दाम और नूरमोहम्मद के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 269, 270 के तहत मुकदमा दर्ज किया।
... और पढ़ें

कालाबाजारी के लिए जा रहे 40 सिलिंडर सीज

ज्ञानपुर। लॉकडाउन में भी एजेंसी संचालक कालाबाजारी से बाज नहीं आ रहे हैं। बृहस्पतिवार को कालाबाजारी के लिए जा रहे 40 सिलिंडर को एसडीएम ज्ञानपुर ने पकड़ लिया। कागजात न प्रस्तुत करने पर सिलिंडरों और चार पहिया को सीज करा दिया। आपूर्ति विभाग विधिक कार्रवाई में जुटा रहा। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण समूचा देश 21 दिनों के लिए लॉकडाउन है। इसलिए प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के लाभार्थियों को नि:शुल्क रसोई गैस सिलिंडर की व्यवस्था कराई जा रही है। कई एजेंसी संचालकों ने मुसहर एवं गरीब तबके के लोगों के अभिलेख लगाकर फर्जी तरीके से उज्जवला योजना का सिलिंडर पास करा लिया है।
अब इसकी कालाबाजारी शुरू हो गई है। एक अप्रैल से वितरण शुरू होने के बाद एजेंसी संचालक ऐसे सिलिंडरों को दुकानदारों के यहां भेज रहे हैं। जिससे आने वाले दिनों में उनसे मोटी रकम ले सके। बृहस्पतिवार को पकरी खुर्द से गुजर रहे चार पहिया वाहन को एसडीएम ज्ञानप्रकाश यादव ने रोक लिया। जांच करने पर पता चला कि वाहन चालक के पास सिलिंडर से जुड़े एक भी कागजात नहीं हैं। इससे एसडीएम का माथा ठनका। उन्होंने सुरियावां पुलिस को सूचना देकर चार पहिया वाहन और उस पर लदे सिलिंडरों को जब्त कराया। एसडीएम ने कहा कि कालाबाजारी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कोरोना जैसे आपदा में कोटेदार और एजेंसी संचालक ऐसा करेंगे तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम के निर्देश पर पूर्ति विभाग ने एजेंसी संचालक पर विधिक कार्रवाई कराने की तैयारी में जुट गया। सुरियावां थानाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह ने कहा कि उक्त सिलिंडर जमुनीपुर अठगवां के किसी एजेंसी के हैं।
पकरी खुर्द में वाहन चालक से सिलेंडर का कागजात मांगते एसडीएम ज्ञानपुर ज्ञान प्रकाश यादव दाएं।
पकरी खुर्द में वाहन चालक से सिलेंडर का कागजात मांगते एसडीएम ज्ञानपुर ज्ञान प्रकाश यादव दाएं।- फोटो : BHADOHI
... और पढ़ें

11 बांग्लादेशियों की समेत 14 की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव

11 बांग्लादेशियों की समेत 14 की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव
ज्ञानपुर। दिल्ली में निजामुद्दीन के धार्मिक जलसे में शामिल होकर लौटे 11 बांग्लादेशियों समेत 14 की कोरोना जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इससे भदोही के लोगों ने राहत की सांस ली। जलसे में शामिल होने के बाद सभी मरकजी कमेटी के गेस्ट हाउस में ठहरे हुए थे। इस मामले में कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो चुका है।
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर सरकार गंभीर है। तब्लीगी जमात की ओर से दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में देश के कई प्रांतों से उलमा आदि पहुंचे थे। उसी जलसे में शामिल होकर भदोही में बांग्लादेशी आए थे। दो दिन पूर्व भदोही के एक गेस्ट हाउस में 11 बांग्लादेशियों की बरामदगी के बाद पुलिस और प्रशासन के कान खड़े हो गए थे। प्रशासन को आशंका थी कि कहीं वे कोरोना से संक्रमित हुए तो कई लोगों की मुश्किलें बढ़ जातीं।
प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से 11 बांग्लादेशियों, दो पश्चिम बंगाल तथा एक असम निवासी व्यक्ति का नमूना जांच के लिए बीएचयू लैब भेजा गया था। बृहस्पतिवार को निगेटिव रिपोर्ट आई तो प्रशासन को राहत मिली। पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने कहा कि जांच रिपोर्ट निगेटिव आना राहत भरी खबर है। बताते चलें कि 11 बांग्लादेशी 24 फरवरी को बांग्लादेश से चले थे। 27 फरवरी को दिल्ली पहुंचे। तीन मार्च तक दिल्ली मरकज के जलसे में रहे। चार मार्च को मंडुआडीह एक्सप्रेस से ज्ञानपुर रोड स्टेशन पहुंचे। उसी दिन कार से भदोही जमात में शामिल होने के लिए आए। उन सभी के पास टूरिस्ट वीजा है। भदोही शहर के काजीपुर मोहल्ले में स्थित गेस्ट हाउस के एक कमरे में होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मंगलवार को दरवाजा खुलवाकर इन लोगों की जांच कराई थी।
... और पढ़ें

170 लोगों की हुई थर्मल स्क्रीनिंग, 76 को किया गया क्वारंटीन

ज्ञानपुर। जिले में विभिन्न प्रांत और महानगरों से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से लगातार की जा रही है। बृहस्पतिवार को जिला अस्पताल और जिला पंचायत बालिका इंटर कॉलेज गोपीगंज में कुल 170 लोगों की स्क्रीनिंग हुई।
महाराजा चेतसिंह जिला चिकित्सालय में 94 लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग हुई। इसमें स्वधार गृह में दूसरे जिल से आई एक महिला भी शामिल रही। डॉ. अशोक पराशर ने बताया कि स्क्रीनिंग के बाद सभी को 14 दिनों तक घर से बाहर न निकलने की हिदायत दी गई। जिला पंचायत बालिका इंटर कॉलेज में कुल 76 लोगों की स्क्रीनिंग हुई। इसमें सात दूसरे जिले के शामिल रहे, शेष को वहीं पर क्वारंटीन किया गया। इस मौके पर अमरेश पांडे, अनिल कुमार श्रीवास्तव, विश्वेंद्र सिंह, रमाशंकर लाल, केके मौर्य, संदीप पाल, डॉक्टर लवकुश राठौर, सुरेखा राज आदि रहे।
... और पढ़ें

कहीं पिटे तो कहीं राशन डकार गए कोटेदार

जिला अस्पताल ज्ञानपुर में परदेश से आए युवक की स्क्रीनिंग करते चिकित्सक।
ज्ञानपुर। लॉकडाउन में कोटे की दुकानों पर राशन वितरण में काफी समस्याएं आ रही हैं। कहीं गरीबों का राशन बेच दिया गया तो कहीं पर कार्डधारकों ने ही कोटेदार को पीट दिया। सभी मामलों की पुलिस जांच कर रही है। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते 14 अप्रैल तक देश में लॉकडाउन है। खाने-पीने को लेकर दिक्कत न हो, इसलिए सरकार ने मजदूर, श्रमिक, ठोला-खोमचा, अंत्योदय और पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को नि:शुल्क राशन देने की व्यवस्था की गई है।
एक अप्रैल से राशन की दुकानों पर वितरण भी शुरू हो गया, लेकिन कई दुकानों पर राशन वितरण में समस्या आ रही है। सुरियावां थानाक्षेत्र के पकरी कला गांव में बुधवार को पूर्ति निरीक्षक की जांच में 30 क्विंटल से अधिक राशन कम मिला। पूर्ति निरीक्षक की आख्या पर एसडीएम ज्ञानपुर ज्ञान प्रकाश यादव ने तलब किया। एसडीएम ने बताया कि राशन वितरण में घपलेबाजी का मामला डीएम के संज्ञान में है। निर्देश मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। घोसिया संवाददाता के अनुसार, बुधवार शाम को घोसिया के वार्ड 12 में राशन वितरण के दौरान पॉस मशीन फेंकने और कोटेदार से मारपीट के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया।
घोसिया मिश्रानी के कोटेदार उमाशंकर शर्मा बुधवार की देर शाम कार्ड धारकों को अनाज का वितरण कर रहे थे। आरोप है कि वार्ड के बहारुद्दीन का लड़का नूरुद्दीन आया और कहा कि अपने और अपने पिता के कार्ड यूनिट के हिसाब से चावल के स्थान पर सिर्फ गेहूं चाहिए। यूनिट के हिसाब से 18 किलो गेहूं और 12 किलो चावल मिलता, लेकिन वह 30 किलो गेहूं लेने के लिए अड़ा रहा। इसको लेकर विवाद हुआ तो उसने पॉस मशीन फेंक दिया। कोटेदार की तहरीर पर बहारूद्दीन समेत दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं दूसरी तरफ कोटेदार संघ के अध्यक्ष गिरजाशंकर तिवारी कल्लू ने कहा कि कोटेदारों को कुछ मनबढ़ परेशान कर रहे हैं। घोसिया और सूर्यभानपुर में कोटेदारों के साथ मारपीट की गई। मामले में पुलिस कार्रवाई करे अन्यथा आंदोलन होगा।
... और पढ़ें

कुएं से पानी निकालने के विवाद में चाचा की लाठियों से पीटकर हत्या

भदोही कोतवाली क्षेत्र के पिपरिस डीह गांव में बुधवार दोपहर कुएं से मशीन से पानी निकालने को लेकर हुए विवाद में पट्टीदारों ने चाचा की लाठियों से पीटकर हत्या कर दी। घटना में मृतक के पुत्र और आरोपी पक्ष के भी दो लोग घायल हुए हैं।
 
पिपरिस डीह गांव निवासी जोखई राम मौर्य (70) बुधवार दोपहर खानदानी कुएं से मशीन से पानी निकाल कर खेतों की सिंचाई कर रहे थे। इस पर विपक्षी उनके भतीजे लालमणि मौर्य समेत चार-पांच लोग आए और कुएं से पानी निकालने से मना करने लगे। इसमें बात बढ़ गई और उन्होंने लाठी डंडे से पीटना शुरू कर दिया। जोखई लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़े तब वे उन्हें मरा समझकर फरार हो गए।

इसमें मृतक के पुत्र महेंद्र को भी चोटें आई हैं। घटना की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। परिजन जोखई राम को एंबुलेंस से महाराजा बलवंत सिंह राजकीय अस्पताल ले गए जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। महेंद्र मौर्य की तहरीर पर पुलिस ने लालमणि, निखिल, प्रदीप और सुरेश के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। मारपीट में विपक्ष के सुरेश और प्रदीप भी घायल हुए हैं, जिनका मेडिकल मुआयना कराया गया।
... और पढ़ें

वृद्ध चाचा की लाठियों से पीट पीटकर हत्या

भदोही। कोतवाली क्षेत्र के पिपरिस डीह गांव में बुधवार को दोपहर कुएं से मशीन से पानी निकालने को लेकर हुए विवाद में पट्टीदारों ने अपने चाचा की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतक जोखई राम मौर्य (70) को सिर में कई जगह घाव लगने के कारण तेज रक्तस्राव हो रहा था। उन्हें राजकीय एंबुलेंस से महाराजा बलवंत सिंह राजकीय अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। घटना में मृतक का पुत्र महेंद्र और आरोपी पक्ष के भी दो लोग घायल हुए हैं।
मृतक के पुत्र महेंद्र मौर्य ने पुलिस को दी अपनी तहरीर में कहा है कि खानदानी कुएं से उसके पिता मशीन के जरिए पानी निकाल कर खेतों की सिंचाई कर रहे थे। इस पर विपक्षी उनके भतीजे लालमणि मौर्य समेत चार-पांच लोग आए और कुएं से पानी निकालने से मना करने लगे। इसमें बात बढ़ गई और उन्होंने लाठी डंडे से मारना पीटना शुरू कर दिया। जब जोखई लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़े तब वे उन्हें मरा समझकर फरार हो गए। घटना की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। परिजन राजकीय एंबुलेंस से घायल जोखई को राजकीय अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मारपीट में बीच बचाव करने वाले मृतक के पुत्र महेंद्र को भी चोटें आई हैं। इसके अलावा विपक्ष के सुरेश और प्रदीप भी घायल हुए हैं, जिनका मेडिकल मुआयना कराया गया। पुलिस ने लालमणि, निखिल, प्रदीप और सुरेश के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

चोरी-छिपे जा रहे 300 मजदूर किए गए क्वारंटीन

ज्ञानपुर (भदोही)। जिले की सीमाएं सील होने के बाद भी मजदूर, श्रमिक चोरी-छिपे घर जाने का प्रयास कर रहे हैं। बुधवार को पुलिस ने तीन सौ लोगों को पकड़ा। ज्ञानपुर में दो ट्रकों से जा रहे करीब सौ लोग पकड़े गए। सभी राजस्थान से झारखंड जा रहे थे। पुलिस ने ट्रक चालक को हिरासत में ले लिया। जबकि घोसिया में आगरा से बिहार जा रहे 200 मजदूरों को क्वारंटीन किया गया।
कोरोना वायरस को लेकर 21 दिनों के लिए देश को लॉकडाउन किया गया है। इससे दूसरे प्रांत और महानगरों में रहने वाले बड़ी संख्या में मजदूर और कामगार अपने घर निकल रहे है। सोशल डिस्टेंसिंग न करने पर वायरस बढ़ने की आशंका में जिले की सीमाएं सील कर दी गईं हैं, लेकिन मजदूर ट्रक चालकों को मिलाकर दूसरे रास्तों से निकलने का प्रयास कर रहे हैं। बुधवार को ज्ञानपुर नगर से गुजर रहे दो ट्रक मजदूरों को पुलिस ने रोक दिया। सभी की स्क्रीनिंग कराने के बाद आश्रय स्थल में क्वारंटीन किया गया।
सीओ ज्ञानपुर कालू सिंह ने कहा कि 100 मजदूरों को खाना आदि खिलाने के बाद क्वारंटीन किया गया है। ट्रक चालकों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है। इसी तरह आगरा से बिहार दो ट्रक से जा रहे मजदूरों को प्राथमिक विद्यालय घोसिया के समीप रोका गया। ब्लॉक एवं नोडल अधिकारियों की टीम ने स्कूल को सैनिटाइज कराने के बाद सभी 200 मजदूरों को क्वारंटीन किया। राइस मिलर की ओर से सभी को लंच पैकेट दिए गए। इस मौके पर श्याम मुरारी दुबे, कानूनगो विनय कुमार श्रीवास्तव, अरुण सिंह, धर्मेंद्र सिंह के अलावा एसडीएम चंद्रशेखर, तहसीलदार मृत्युंजय सिंह, कोतवाल रामजी यादव आदि रहे। परदेशी लोगों की जांच के लिए अलमऊ गांव के पंचायत भवन को आइसोलेशन वार्ड बनाया गया। यहां पर वह 14 दिनों तक क्वारंटीन रह सकेंगे।
डीएम ने लिया आश्रय स्थल का जायजा
ज्ञानपुर। जिला पंचायत बालिका इंटर कॉलेज में बने आश्रय स्थल का बुधवार को डीएम राजेंद्र प्रसाद और एसपी रामबदन सिंह ने निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि देश के विभिन्न प्रांतों और महानगरों से लौट रहे मजदूरों की स्क्रीनिंग कराने के बाद क्वारंटीन किया जाए। इस दौरान 35 मजदूरों की स्क्रीनिंग की गई, जबकि ज्ञानपुर जिला अस्पताल में 215 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई।
... और पढ़ें

गेस्ट हाउस संचालक पर मुकदमा

ज्ञानपुर (भदोही)। भदोही नगर के काजीपुर स्थित मस्जिद के गेस्ट हाउस में 28 दिन से 11 बांग्लादेशियों समेत 14 लोगों के छिपकर रहने के मामले में गेस्ट हाउस संचालक कमालुद्दीन अंसारी पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। साथ ही बांग्लादेशी नागरिकों के लंबे समय से देश की सीमा में रुके रहने को लेकर भी जांच शुरू हो गई है। वीजा ऑफिस से उनका रिकॉर्ड मंगाया गया है।
भदोही नगर के काजीपुर मोहल्ले में स्थित मरकजी कमेटी के गेस्ट हाउस में मंगलवार को छिप कर रह रहे 14 लोगों को पुलिस ने पकड़ा था। ये सभी दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित मरकज जमात में शामिल होकर लौटे थे और बिना किसी सूचना के गेस्ट हाउस में रह रहे थे।
पुलिस के मुताबिक दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए धार्मिक जलसे में शिरकत करने वाले उलेमा में 11 बांग्लादेशी नागरिक हैं, जबकि दो बंगाल और एक असम का निवासी है। यह लोग यहां मरकजी कमेटी के गेस्ट हाउस में 28 दिनों से रह रहे थे। बांग्लादेशी 24 फरवरी को बांग्लादेश से भारत के लिए चले थे। 27 फरवरी को दिल्ली पहुंचे। तीन मार्च तक दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में रहे। चार मार्च को ट्रेन से ज्ञानपुर रोड स्टेशन पहुंचे और कार से भदोही आए। इन सभी के पास टूरिस्ट वीजा बताया गया। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मंगलवार को दरवाजा खुलवाकर इन लोगों की जांच कराई। लेकिन, कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं।
पुलिस निजामुद्दीन जमात से लौटे और लोगों की भी तलाश कर रही है। पुलिस कप्तान रामबदन सिंह ने कहा कि गेस्ट हाउस संचालक पर केस दर्ज कर लिया गया है। विदेशी लोगों की भी जांच की जा रही है। उनके दस्तावेज वीजा ऑफिस से मंगाए गए हैं। यह देखा जाएगा कि उनका यहां रुकना वैध था या अवैध। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने अपील की कि निजामुद्दीन से लौटा कोई भी शख्स अगर जिले में है तो बिना किसी डर और संकोच के उसे सामने आकर अपनी चिकित्सकीय जांच करानी चाहिए। अन्यथा उसके साथ-साथ दूसरों की जिंदगी भी खतरे में पड़ सकती है।
... और पढ़ें

अन्नदान को लेकर उत्साहित हैं मददगार

ज्ञानपुर (भदोही)। लॉकडाउन के आठवें दिन बुधवार को भी जरूरतमंदों की मदद को लेकर सामाजिक संगठन और ग्राम प्रधान उत्साहित है। लोग नवरात्र में अन्नदान, भोजन कराना महापुण्य का काम मानते हुए पूरी तन्मयता से लगे हुए हैं।। जरूरतमंदों तक लंच पैकेट, राशन पहुंचाने को लेकर लोगों को आश्वस्त कर रहे हैं कि कोई भी एक दिन भूखा नहीं रहेगा।
नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के नगर अध्यक्ष श्रीकांत जायसवाल, घनश्याम दास गुप्ता, शुभम पाठक, मुन्ना कौशल, चौकी प्रभारी दयाशंकर ओझा और कोतवाली प्रभारी कृष्णानंद राय ने बुधवार को 225 लोगों को भोजन का पैकेट बांटा। गिराई मुसहर बस्ती, कठौता मोड़ मुसहर बस्ती, ज्ञानपुर रोड मुसहर बस्ती, नोनियान गली, गोपपुर मुसहर बस्ती, बर्दवारी, स्टेशन रोड पर लंच पैकेट दिया गया। अंजान आदमी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशुतोष मिश्रा ने 200 परिवारों को राशन वितरित किया।
ओम गुरुदेव धर्म काटा और गायक राजेश परदेशी ने कुशौली, अमिलहरा, गणेशरायपुर, नऊआपुर, बवई, कारीगांव, जीयनपुर, रमईपुर, दशरथपुर,चकगुमानी में झुग्गी झोंपड़ी में रहने वालों को राहत सामग्री वितरित किया। औराई के रैपुरी गांव में ग्राम प्रधान कैलाशनाथ यादव ने जरूरतमंदों को अनाज वितरित किया। मोढ़ बाजार में कर्मचारियों ने ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया। औराई के उचेठा गांव में ग्राम प्रधान सुनील सिंह ने जरूरतमंदों को राशन वितरित किया। माधोसिंह बाजार में मोहम्मद सागर खिदमत फाउंडेशन की ओर से गरीबों को राशन बांटा गया। दरवांसी में ग्राम प्रधान योगेंद्र सिंह बाबा ने गरीबों को राशन दिया। आश्वस्त किया कि जब तक लॉकडाउन रहेगा कोई भूखा नहीं सोएगा।
चौरी के विभिन्न वनवासी बस्तियों में पुलिस की ओर से राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है। बुधवार को थानाध्यक्ष सूर्यभान के नेतृत्व में पुलिस ने जमुवा, डोमनपुर, चकभुईधर, वेदमनपुर, गोहिलांव, ममहर, भकोडा की वनवासी बस्ती में खाद्य सामग्री वितरित किया। गजधरा गांव में कंकड़ यादव ने गरीबों को अनाज और सब्जी का वितरण किया। भाजपा नेता रत्नाकर पाठक ने कई मुसहर बस्तियों में राशन का वितरण किया। वह गत एक सप्ताह से गरीबों तक राशन पहुंचा रहे हैं। मोढ़ के नरोत्तमपुर गांव में 100 से अधिक मुसहरों को ग्राम प्रधान संतोष जायसवाल और चौकी इंचार्ज सुनील यादव ने राशन पहुंचाया। कस्तूरीपुर में प्रधान चंदा यादव ने 30 मजदूरों को खान-पान की व्यवस्था कराई। बदलीपुर गांव में ब्लीचिंग का छिड़काव प्रधान पंकज मिश्र ने कराया साथ ही 35 मुसहरों को राशन पहुंचाया। कोछिया गांव में समाजसेवी शिव मोहन पांडेय, लक्ष्मी शंकर पांडेय ने मुसहर परिवार में आटा, चावल, नमक, मसाला, साबुन आदि को वितरित किया। महुआपुर में भाजपा मंडल अध्यक्ष दीपक पाठक ने मुसहरों और मजदूरों को राहत सामग्री बांटी।
रोटी बैंक बनाए, एसडीएम ने किया आग्रह
ज्ञानपुर। लॉकडाउन के बीच बुधवार को वारी खुर्द गांव के मुसहर बस्ती में पहुंचे एसडीएम ज्ञान प्रकाश ने गरीबों को 10-10 दिन का राशन वितरित किया। उन्होंने युवाओं से कहा कि वह गांव में रोटी बैंक बनाएं। कई गरीब परिवारों के बुजुर्ग खाना नहीं बना सकते। ऐसे लोगों के लिए समृद्ध परिवारों में जाकर दो से चार रोटी एकत्रित करें। अगर 200 रोटी भी एकत्रित हो गए तो 50 लोग अचार से भी खा सकेंगे। इस मौके पर प्रधान राजकुमारी देवी, अरुण दूबे आदि रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us