कार्डधारक को सात साल बाद मिला राशन

Basti Updated Sat, 25 Jan 2014 05:46 AM IST
गौर। सात वर्ष से बीपीएल कार्ड धारक को राशन न मिलने की शिकायत हर्रैया तहसील दिवस में उठी। शासन के निर्देश पर जिले में पहुंचे उप भूमि व्यवस्था आयुक्त के निर्देश पर पूर्ति निरीक्षक ने मौके पर जाकर कोटेदार से शिकायतकर्ता को राशन दिलाया।
हर्रैया तहसील के अन्तर्गत आने वाले गौर ब्लॉक के ग्राम सभा परास डीह निवासी बीपीएल कार्ड धारक उदयराज यादव कार्ड संख्या 023260 ने पिछले करीब सात सालों से कोटेदार की ओर से मनमानी कर राशन न दिए जाने की शिकायत कर रहे हैं। मगर उसको न्याय नहीं मिला। थक-हारकर वह मंगलवार को फिर तहसील दिवस में पहुंचे। वहां पर उपस्थित उप भूमि व्यवस्था आयुक्त को शिकायत पत्र सौंपा और बताया कि सात साल से गांव के कोटेदार ने राशन, चीनी, मिट्टी तेल नहीं दी। इसकी शिकायत तहसील दिवस के अलावा जिले स्तर के अधिकारियों से कई बार की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। उप भूमि व्यवस्था आयुक्त ने पूर्ति निरीक्षक हर्रैया दिनेश चंद्र कन्नौजिया को तत्काल मौके पर जाकर कोटेदार से कार्ड धारक को राशन दिलाने का निर्देश दिया। निर्देश से सहमे पूर्ति निरीक्षक दिनेश चंद्र कन्नौजिया तत्काल गांव में पहुंचे और कोटेदार से उदयराज को गेहूे और चालन दिलाया। बताया कि कोटेदार के माध्यम से एक क्विंटल अस्सी किलो गेहूं और दो कुंतल चालीस किलो चावल दिला दिया गया है। चीनी और मिट्टी तेल का उठान होने पर कोटेदार से कार्डधारक को बुलाकर देने को निर्देशित किया गया है।
सिर्फ एक साल का मिला राशन
कार्डधारक उदयराज का कहना है कि अभी उसको सिर्फ एक साल का राशन मिला है। अभी छह साल का राशन और मिलना चाहिए। इसके लिए वह दोबारा अधिकारियों से मिलेगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018