राष्ट्रीय लोक अदालत में 12 हजार मुकदमे निस्तारित

Basti Updated Mon, 25 Nov 2013 05:40 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
बस्ती। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर जिले में वृहद राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इसमें 12 हजार से अधिक मुकदमों का सुलह समझौते के आधार पर निस्तारण किया गया। इस आयोजन में उच्च न्यायालय के प्रशासनिक न्यायाधीश आरडी खरे ने जिले के आयोजन का मार्गदर्शन किया। दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत के कार्यक्रमों के प्रसारण से कार्यवाही शुरू हुई। प्रशासनिक न्यायाधीश आरडी खरे, जनपद न्यायाधीश उमेश सिंह, कमिश्नर सुशील कुमार, डीआईजी डॉक्टर आरके स्वर्णकार, डीएम अनिल कुमार दमेले और एसपी वीरेंद्र प्रताप श्रीवास्तव और अन्य न्यायिक व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ अधिवक्ताओं ने प्रसारण देखा।
विज्ञापन

प्रशासनिक न्यायाधीश आरडी खरे ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन वादकारियों की सुविधा को ध्यान में रखकर किया गया है। उन्होंने कहा कि लोक अदालतों के आयोजन से मुकदमों के त्वरित निस्तारण का अवसर प्राप्त होता है। इससे समाज में शांति कायम रखने में मदद मिलती है। साथ ही मुकदमों का बोझ भी घटता है। उन्होंने कहा कि आगे भी इस तरह के प्रयास और पहल किए जाने की जरूरत है, जिनमें न्यायालयों पर दबाव को कम किया जा सके। न्यायमूर्ति ने जनपद न्यायाधीश के साथ दीवानी परिसर में संयोजित अदालतों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने उपस्थित अधिवक्ताओं से अपील की कि लोगों को न्यायिक प्रक्रिया की जानकारी सुलभ कराने की पहल करें। इससे न्याय के प्रति जनता का विश्वास बढ़ेगा। जनपद न्यायाधीश उमेश सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत की तैयारी पिछले अगस्त माह से ही जिले में शुरू की गई थी। उन्होंने आयोजन में सहभागिता के लिए स्वैच्छिक संगठनों और अधिवक्ताओं को धन्यवाद दिया। पारिवारिक विवाद से संबंधित एक दर्जन से अधिक मामलों को राष्ट्रीय लोक अदालत में तय कराया गया। न्यायिक अधिकारियों की टीम ने वादकारियों के बीच मामले को तय करते हुए जोड़ों को फि र से एक साथ रहने के सहमति पत्र को स्वीकृत कर उनकी विदाई भी की। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव सिविल जज सीनियर डिवीजन इंतेखाब आलम तथा कार्यक्रम के नोडल अधिकारी विशेष न्यायाधीश एससीएसटी जेपी तिवारी ने आयोजन में सहभाग के लिए सभी संबंधित के प्रति आभार व्यक्त किया।
----------
निस्तारित हुए 12 हजार मुकदमे
दीवानी परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत में 25 से अधिक न्यायालय लगे। इनमें 12 हजार से अधिक मुकदमों की सुनवाई हुई। बैंकों ने एकमुश्त समाधान योजना के माध्यम से समझौते के आधार पर मामले तय कराने के लिए शिविर लगाए। परामर्श शिविर भी आयोजित किए गए। उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन में तहसीलों से लेकर आयुक्त न्यायालय तक में भी लोक अदालत आयोजित हुए। बस्ती आयुक्त न्यायालय पर आयुक्त सुशील कुमार ने छह मामलों की सुनवाई की। इनमें चार मामले समझौते के आधार पर तय कराए गए। इसी प्रकार अपर आयुक्त न्यायालय पर भी लोक अदालत आयोजित हुई। अपर आयुक्त आत्माराम सगर ने मामलों की सुनवाई की। डीएम अनिल कुमार दमेले, एडीएम राकेश कुमार, सीआरओ सोबरन सिंह, उपजिलाधिकारी के बालाजी ने लोक अदालत का आयोजन कर मामलों का निस्तारण किया। इसी प्रकार सभी तहसीलों में भी लोक अदालतें लगीं। मंडलायुक्त सुशील कुमार ने विभिन्न राजस्व न्यायालयों का भ्रमण कर चल रही सुनवाई तथा निस्तारण का निरीक्षण किया।

पोलियो अभियान का शुभारंभ आज
बस्ती। सघन पल्स पोलियो अभियान के बूथ दिवस का शुभारंभ जिले में रविवार को राजकीय महिला चिकित्सालय में बने बूथ पर बच्चों को पोलियो ड्राप पिलाकर किया जायेगा। इसी के साथ इस अभियान में बनाये गए सभी बूथों पर प्रतिरक्षण का कार्य शुरू होगा। यह जानकारी प्रभारी अधिकारी प्रतिरक्षण ने दी है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us