डीआईओएस दफ्तर में मिलीं खामियां

Basti Updated Sun, 27 Oct 2013 05:39 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
बस्ती। प्रमुख सचिव चीनी उद्योग राहुल भट्नागर ने शनिवार को शहर में स्थिति कई कार्यालयों पर पहुंच गए। डीआईओएस कार्यालय के निरीक्षण में ढेरों खामियां मिलीं। इसके लिए प्रमुख सचिव ने कर्मचारियों को फटकार लगाई। उन्होंने व्यापार कर विभाग का भी हाल जाना। पहले दौरे में भी प्रमुख सचिव व्यापार कर कार्यालय का निरीक्षण किए थे। शनिवार को व्यापार कर कार्यालय पहुंचे प्रमुख सचिव ने वहां की व्यवस्था पर संतोष जताया। प्रमुख सचिव के दौरे क ो लेकर सभी विभाग पहले से ही सतर्क थे। शुक्रवार को प्रमुख सचिव ने पीडब्लूडी के तीन अधिकारियों पर कार्रवाई करने का फरमान सुनाया था।
विज्ञापन

प्रमुख सचिव राहुल भट्नागर ने शनिवार को बस्ती शहर में सबसे पहले व्यापार कर कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कार्यालयों में पत्रावलियों का रख-रखाव ठीक था। साफ-सफाई व्यवस्था भी दुरुस्त मिली। असिस्टेंट कमिश्नर आरके सिंह, आरएन त्रिपाठी, जीएन राय, आरके राय, एडिशनल कमिश्नर रामरूप, डिप्टी कमिश्नर आरपी मल्ल, रामराज, अधिववक्ता मनमोहन श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे। बता दें कि पिछली बार निरीक्षण में प्रमुख सचिव ने यहां की व्यवस्था पर नाराजगी जताई थी।
व्यापार कार्यालय निरीक्षण से प्रमुख सचिव का काफिला डीआईओएस कार्यालय की तरफ बढ़ा। यहां प्रमुख सचिव ने एक-एक कक्ष का बारीकी से मुआयना किया। शिविर सहायक से कर्मचारियों की सामूहिक बीमा की पत्रावलियां दिखाने को कहा। पत्रावलियों के रख-रखाव से अंसतुष्ट दिखे प्रमुख सचिव ने शिविर सहायक को फटकार लगाई। रामउजागिर नामक कर्मचारी के साथ ही कई लोगों को बीमा की धनराशि का पेमेंट दो साल से नहीं हो पाने के मामले में शिविर सहायक ने बताया कि ये लोग कार्यालय आए ही नहीं। प्रमुख सचिव ने उन्हें बुलवाकर पेमेंट करने का निर्देश दिया। अगले कक्ष में वरिष्ठ लिपिक गिरिजेश यादव से प्रमुख सचिव ने छात्र-छात्राओं के रजिस्ट्रेशन के बारे में जानकारी मांगी। गिरिजेश चंद्र यादव ने बताया कि नौवीं और 11वीं में कुल 86798 छात्र-छात्राओं का रजिस्ट्रेशन हुआ है। 20 विद्यालय डिबार घोषित किए गए हैं। बोर्ड परीक्षा में इस बार पिछले सत्र की तुलना में 7500 परीक्षार्थी अधिक होंगे। लिपिक अशोक पांडेय की स्कूलों की मान्यता को लेकर क्लास लगाने के बाद नफीस के कमरे में पहुंचे प्रमुख सचिव ने फाइलों के बारे में पूछताछ की। लिपिक रामभवन से पेंशन पत्रावलियों के संबंध में पूछताछ करते हुए प्रमुख सचिव ने पेंशन पंजिका देखी तो नाराज हो गए। पंजिका में हंसराज लाल इंटर कालेज के राजेंद्र प्रसाद पाठक सहित 47 रिटायर्ड कर्मचारियों के पीपीओ (पर्सनल पेंशन आर्डर नंबर) अंकित नहीं थे। उन्हाेंने कड़ी आपत्ति जताई। प्रमुख सचिव ने डीआईओएस रामकृपाल प्रसाद को व्यवस्था ठीक करने का निर्देश दिया।
देखी रेलेवे स्टेशन रोड की बदहाली
डीआईओएस कार्यालय से निकल प्रमुख सचिव का काफिला दक्षिण दरवाजा-रेलवे स्टेशन पर गया। वहां सड़क की हालत देख डीएम अनिल कुमार दमेले, सीडीओ आईपी पांडेय से इसके बारे में जानकारी ली। स्थानीय लोगाें ने भी प्रमुख सचिव के सामने सड़क की बदहाली का मुद्दा उठाया।

पीएचसी मरवटिया का निरीक्षण
व्यापार कार्यालय का निरीक्षण करने से पूर्व प्रमुख सचिव पीएचसी मरवटिया पहुंच गए। साफ-सफाई व्यवस्था देखने के बाद अस्पताल के वार्डों को देखा और मरीजों से बात की। उनसे पूछा कि दवा अस्पताल में मिलती है कि बाहर से मंगाना पड़ता है। मरीजों ने कहा कि यहीं से मिलती हैं। प्रमुख सचिव ने दवा का स्टाक चेक किया। वैक्सीन का रख-रखाव देखा। इतना ही नहीं, अस्पताल कर्मचारियों से भी उनकी समस्याएं पूछीं। इस मौके पर प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. विजय गौतम, आयुष चिकित्सक डॉ. अनिल श्रीवास्तव, स्वास्थ्य शिक्षाधिकारी एएन सिंह, शिवशंकर, शैलेश सिंह, सौरभ श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us