विज्ञापन

अखलाक और मोहब्बत का पैगाम देता है इस्लाम

Basti Updated Mon, 28 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बस्ती। गनेशपुर के मदरसा इस्लामिया में जलसे का आयोजन किया गया। इसमें शामिल हजरात ने कहा कि इस्लाम अखलाक और मोहब्बत का पैगाम देता है। दुनिया में अमन चैन कायम रखने के लिए इस्लाम संदेश देता है।
विज्ञापन

जामा मस्जिद के निकट मदरसा इस्लामियां में मुतवल्ली अब्दुर्रहमान पिंडारी के जेरे निगरानी में आयोजित जलसे में हजरत मौलाना हसमुल्लाह ने कहा कि इस्लाम इंसानियत का पैगाम देता है। सभी को सचाई की राह दिखाने के साथ ही खुदा की इबादत को प्रेरित करता है। कहा कि इस्लाम का मकसद दुनिया में भाईचारे के साथ मोहब्बत फैलाना है।हजरत मौलाना अनवार साहब ने कहा कि इस्लाम के लिए बारह रबी अव्वल सबसे बड़ा त्यौहार है। इसी दिन हमारे आला का जन्म हुआ था। हमारे आला ने दुनिया में इंसानियत और अखलाक के साथ ही इस्लाम को फैलाने का काम किया। जामा मस्जिद के पेश इमाम हजरत हाफिज और कारी दानिश रजा ने नातिया कलाम पेश किया।
इस मौके पर हजरत मौलाना गुलामनबी, हजरत मौलाना जफरूल हसन, मगरू शाह, शमसुद्दीन अंसारी, पूर्व प्रधान अब्दुल रहमान, नूर मोहम्मद खां, आबिद अली, राष्ट्रीय युवा लोकदल के प्रदेश महासचिव इरफान पिंडारी, मुज्जमिल, बेचू अंसारी, मो. मुकीम, बदरे आलम, फिरोज, अफजल, दाऊद, डा.नसीर, सब्बू खान, अब्दुल समीद, अब्दुल बशर, दानिश खान, सलीम अंसारी, मो.उमर शेख, लारेब, शहनवाज, भोलू खान आदि लोग मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us