शहीद किसान मेले में गरजे भाकियू नेता

Basti Updated Wed, 12 Dec 2012 05:30 AM IST
मुंडेरवा (बस्ती)। भारतीय किसान यूनियन की ओर से मंगलवार को आयोजित शहीद किसान मेले मेें भाकियू नेता खूब गरजे। केंद्र से लेकर प्रदेश सरकार को किसानों के सवाल पर कठघरे में खड़ा किया। मंच से जिला प्रशासन को आगाह करते हुए राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि प्रशासन 10 मिनट के भीतर मुंडेरवा मिल के बारे में सीएम अखिलेश यादव से बात कर ले। मिल चलेगी या नहीं स्पष्ट कर ले। वरना जिन 35 किसानों की 44 एकड़ जमीन मिल विस्तारीकरण के नम पर ली गई थी, उस पर अब किसान हल चलाएंगे। इतना सुनते ही एडीएम राम एकबाल, एएसपी मनोज कुमार झा मंच पर पहुंच गए। अफसरों ने वार्ता का हवाला देते हुए उन्हें मनाया।
भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव राजपाल शर्मा ने कहा कि चुनाव के दौरान सपा ने किसानों से कई वादे किए थे। समय के साथ ही सपा अपने वादे को भूलती जा रही है। सपा अपने मिशन-2014 को भूल जाए। भाकियू नेता ने कहा कि प्रदेश औरा केंद्र की दमनात्मक नीतियों के कारण ही भाकियू की नींव पड़ी। आजादी के बाद से केंद्र और प्रदेश की सरकारों ने सिर्फ किसानों का शोषण किया। कहा कि महंगाई ने किसानों की कमर तोड़ दी। कहा कि पहले प्राथमिक स्कूल का शिक्षक एक माह के वेतन से एक क्विंटल गेहूं खरीद सकता था। अब वही शिक्षक एक माह के वेतन से 35 क्विंटल गेहूं खरीद सकता है। भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष दीवान चंद्र चौधरी ने कहा कि 13 दिसंबर को सीएम ने वार्ता के लिए भाकियू को बुलाया है। वार्ता किसानों के हित में रही तो ठीक है, नहीं तो प्रदेश में एक बड़ा किसान आंदोलन किया जाएगा। कहा कि एफडीआई लागू करने वाली सरकार 2006 के राष्ट्रीय किसान आयोग की रिपोर्ट अब तक लागू नहीं कर सकी है। कहा कि सरकार यदि उनकी समस्याओं पर ध्यान नहीं देगी तो इसका परिणाम भी भुगतने के लिए तैयार रहे। शहीद किसान मेले को भाकियू के जिलाध्यक्ष शोभाराम ठाकुर, जिला महासचिव डा.आरपी चौधरी, मंडल उपाध्यक्ष दीवान चंद्र पटेल, राम नवल किसान, सुभाष चंद्र, रणजीत सिंह, रामदुलारे सिंह आदि ने भी संबोधित किया। किसान मेले में बड़ी संख्या में भाकियू कार्यकर्ता मौजूद रहे।

काले अंग्रेजों से लेनी होगी आजादी : राजपाल
भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव राजपाल शर्मा ने कहा कि जिस तरह देश को गोरे अंग्रेजों से आजाद कराने में समय लगा, उसी तरह इस बार काले अंग्रेजों से संघर्ष करना है। यह अपने बीच के हैं ऐसे में इन से आजादी लेने में समय लगेगा। शहीद किसान मेले में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुंडेरवा मिल को चलाने की पहल अब तक नहीं हो पाई। दस साल बीत गए, मगर सरकारें इसे लेकर बेपरवाह बनी रहीं। 13 दिसंबर को सीएम से वार्ता के बाद भी कोई हल नहीं निकला तो भाकियू बड़ा आंदोलन चलाने को मजबूर होगी। सरकार किसानों को धान, गेहूं और गन्ने का लागत मूल्य भी नहीं दे पा रही है। किसान अपनी उपज का वाजिब मूल्य न पाने से निराश है। ऐसे में खेती किसानी को लेकर उसका मनोबल गिर रहा है। शहीद किसानों के सवाल पर कहा कि शहीद किसानों के आश्रितों को भाकियू हमेशा मदद देगी।

शहीद किसानों की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण
भाकियू नेताओं ने शहीद मेला में पहुंचकर सबसे पहले शहीद तीन किसानों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। उन्हें नमन कर श्रद्धांजलि दी गई। माल्यार्पण करने वालों में भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव राजपाल शार्मा प्रदेश अध्यक्ष दीवान चंद्र चौधरी, प्रदेश महासचिव घनश्याम वर्मा, मंडल अध्यक्ष पटेश्वरी चौधरी, मंडल उपाध्यक्ष दीवान चंद्र पटेल, सुबास चंद्र किसान, जय भारत सिंह, विनय सिंह, वेनी माधव तिवारी आदि शामिल हैं।

चाक-चौबंद रही सुरक्षा व्यवस्था
किसान मेले को लेकर जिला प्रशासन काफी सतर्क रहा। एडीएम रामएकबाल सिंह, एएसपी मनोज कुमार झा, कई थानों की फोर्स और सीओ के साथ मौजूद रहे। मेला परिसर में चप्पे चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात रहे। मंडल मुख्यालय से कमिशभनर, डीआईजी,डीएम और एसपी पल पल की खबर लेते रहे।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

ट्रेन में कर रहा था पाकिस्तान से जुड़ी ऐसी बाते, पुलिस ने लिया हिरासत में

मुंबई से गोरखपुर जा रही कुशीनगर एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर रहे एक संदिग्ध शख्स को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस को ये शिकायत ट्रेन में बैठे एक पैरा मिलिट्री के जवान की ओर से मिली थी।

12 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper