सिंचाई के अभाव में पिछड़ी रबी की बुआई

Basti Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
महराजगंज। सिंचाई विभाग की लापरवाही किसानों पर भारी पड़ रही है। सिंचाई के अभाव में रबी फसल की बुआई पिछड़ती जा रही है। विभाग के लोग खराब पड़े नलकूपों को ठीक कराने के प्रति जिम्मेदार नहीं दिख रहे हैं।
कप्तानगंज विकास खंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत रतासी के भरथापुर गांव में लगा राजकीय नलकूप संख्या 131 एचजी पिछले छह साल से खराब पड़ा है। उसके बाद भी सिंचाई विभाग इसे ठीक नहीं करा रहा है। ग्राम प्रधान, राम आनंद यादव, नील चंद्र त्रिपाठी, पूर्व प्रधान सर्वदेव दूबे, बहरैची प्रसाद यादव, अशोक कुमार ने बताया कि खराब नलकूप को ठीक कराने के लिए अवर अभियंता से लेकर विभाग के उच्चाधिकारियों को पत्र देकर कहा गया, मगर उसके बाद भी सिंचाई विभाग के कोई भी अधिकारी और कर्मचारी नलकूप ठीक कराने में रुचि नहीं ले रहे हैं। आलम यह है कि पानी के अभाव में यहां के किसान अपनी फसलों का अच्छा उत्पादन नहीं ले पा रहे हैं। डीजल इंजन से 90 रुपये प्रति घंटा मजबूर होकर किसान अपनी फसलों की सिंचाई कर रहे हैं। नलकूप खराब होने से बेलसड़े, नरोत्तमपुर, भरथपुर, रतासी, लक्ष्मनपुर सहित कई गांवों के किसान परेशान हैं। इस संबंध में सिंचाई विभाग के अवर अभियंता रमेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि इसकी कोई जानकारी नहीं है। विकास खंड के कुछ नलकूप पाइप लाइन की खराबी से बंद पड़े हैं, जल्द ही उन्हें ठीक करा दिया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी एसटीएफ ने मार गिराया एक लाख का इनामी बदमाश, दस मामलों में था वांछित

यूपी एसटीएफ ने दस मामलों में वांछित बग्गा सिंह को नेपाल बॉर्डर के करीब मार गिराया। उस पर एक लाख का इनाम घोषित ‌किया गया था।

17 जनवरी 2018

Related Videos

ट्रेन में कर रहा था पाकिस्तान से जुड़ी ऐसी बाते, पुलिस ने लिया हिरासत में

मुंबई से गोरखपुर जा रही कुशीनगर एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर रहे एक संदिग्ध शख्स को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस को ये शिकायत ट्रेन में बैठे एक पैरा मिलिट्री के जवान की ओर से मिली थी।

12 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper