स्कूल प्रबंधकों ने बनाई रणनीति

Basti Updated Mon, 01 Oct 2012 12:00 PM IST
सल्टौआ। भानपुर और रुधौली तहसील के प्रबंधकों की बैठक किसान इंटर कालेज भानपुर के सभागार में हुई। प्रबंधक महासभा के प्रांतीय अध्यक्ष सूर्य नारायण मणि त्रिपाठी ने कहा कि सरकार और अधिकारी प्रबंधकों के अधिकारों को समाप्त करने पर आमादा हैं। इसके लिए प्रबंधकों को एकजुट होकर संघर्ष करना पडे़गा अन्यथा उनके अधिकारों तथा सम्मान की रक्षा नहीं हो सकेगी।
त्रिपाठी ने कहा कि इस समय प्रबंधकों को नियुक्ति सहित अन्य अधिकारों के वापसी के लिए निर्णायक संघर्ष करने की आवश्यकता है। प्रांतीय उपाध्यक्ष हरिश्चन्द्र सिंह ने कहा कि सरकार की ओर से प्रबंधकों पर आदर्श प्रशासन योजना लागू किए जाने का दबाव बनाया जा रहा है, जो शिक्षा अधिनियम के विरुद्घ है। यह योजना इंस्पेक्टर राज की व्यवस्था को बढ़ावा देने वाली है, जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। प्रांतीय संगठन मंत्री नरसिंह नारायण दुबे ने शिक्षा अधिकार अधिनियम के अंतर्गत सरकार की ओर से विद्यालयों में प्रबंधतंत्र के अतिरिक्त, निर्माण, शैक्षिक आदि अन्य समितियों का गठन कर अस्तित्व को चुनौती दी जा रही है। सूर्य नारायण पांडेय ने कहा कि सरकार नए-नए कानून बना कर प्रबंधकों को पंगु बना रही है। इसके विरोध में हमें एकजुट होकर आर-पार की लड़ाई लड़नी होगी। नगेंद्र पटेल ने कहा कि जूनियर कक्षाओं तक फीस माफ करने के बावजूद सरकार की ओर से प्रबंधकीय विद्यालयों को कोई क्षतिपूर्ति नहीं दी जाती, इससें व्यवस्था को सुचारु रूप सें संचालन करने में भारी दिक्कतें आती हैं। उन्होंने कहा कि अपने अधिकारों की रक्षा के लिए हमें न्यायालय का सहारा लेना पड़ेगा। बैठक की अध्यक्षता रणवीर सिंह और संचालन डा. केपी मिश्र ने किया। इस दौरान अजय कुमार पांडेय, राम फेर आर्य, रवींद्र उपाध्याय, चित्रसेन सिंह, जीवन दास, मदनसेन चौधरी आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018