सड़क पर आज उतरेंगे सात सौ वर्दीधारी

Basti Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
बस्ती। बुधवार को शहर की सड़कों पर बूटों की आवाज गूंजेगी। सात सौ से अधिक पुलिस, पीएसी के जवान सड़क पर उतरेंगे। चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। किसी भी हालात से निपटने के उपकरणाें से लैस खाकी वर्दीधारी पूरे तेवर में होंगे। आंसू गैस के गोले दागे जाएंगे और बेकाबू भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उद्यम भी किए जाएंगे। मगर यह सब देख घबराइएगा नहीं। और न ही किसी अनहोनी की आशंका से डरने की जरूरत है। यह केवल एक रिहर्सल मात्र का हिस्सा होगा। संभावित दंगे पर नियंत्रण के लिए पुलिस पूर्वाभ्यास करेगी।
एंटी रायट रिहर्सल के लिए शहर को तीन जोन में बांटा गया है। साथ ही सभी जोन दो सेक्टर में बंटे होंगे। सीओ सिटी के नियंत्रण वाले जोन ‘अ’ में दक्षिण दरवाजा सेक्टर और करुआ बाबा सेक्टर बनाए गए हैं। सीओ रुधौली के नियंत्रण वाले जोन ‘ब’ में गांधीनगर और रोडवेज व सीओ कलवारी के नियंत्रण वाले जोन ‘स’ में कंपनी बाग व कटरा का एरिया शामिल किया गया है। ड्यूटी के लिए कुल 93 संवेदनशील प्वाइंट बनाए गए हैं। शहर के धर्मिक, सामाजिक और सार्वजनिक स्थलों पर कड़ी चौकसी रहेगी। जिले के सभी 16 थानेदारों को मय फोर्स के रिहर्सल में ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा करीब छह सौ कांस्टेबल और दो प्लाटून पीएसी तैनात रहेगी। शहर के दर्जन भर से अधिक प्वाइंटों पर छतों पर पुलिस जवान तैनात रहेंगे। इसके अलावा दो थानेदार समेत बड़ी संख्या में फोर्स रिजर्व ड्यूटी के लिए मुस्तैद रहेगी। टीयर गैस दस्ता, अग्निशमन दस्ता के अलावा दंगा नियंत्रण के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सभी उपकरणों से लैस पुलिस कर्मी दंगा की परिस्थितियां पैदा कर उससे निपटने का पूर्वाभ्यास करेंगे।

पूर्वाभ्यास के दौरान डायवर्ट होगा रूट
दंगा नियंत्रण के पूर्वाभ्यास के दौरान शहर के भीतर आने वाले सभी मार्ग डायवर्ट कर दिए जाएंगे। खलीलाबाद-मुंडेरवा होकर आने वाला रोड जिगिना से डायवर्ट कर दिया जाएगा। इसी तरह बडे़वन, भूअर, हड़िया चौराहे की ओर से भी रिहर्सल के दौरान वाहनों का प्रवेश शहर में नहीं होने दिया जाएगा।

परेशान न हों, पुलिस आपके साथ है : एएसपी
एएसपी मनोज कुमार झा के मुताबिक पूर्वाभ्यास के दौरान आम लोगों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। यह जनता को सुरक्षित रखने और किसी भी हालात से निपटने के लिए किया जाने वाला अभ्यास है। चूंकि परिस्थितियों और भौगोलिक चुनौतियों से निपटने की प्रेक्टिस खुले में ही हो सकती है इसलिए इसे शहर में किया जा रहा है।

Spotlight

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper