भक्तिमय हुई शृंगी ऋषि की तपस्थली

Basti Updated Wed, 04 Jul 2012 12:00 PM IST
परशुरामपुर। अषाढ़ के अंतिम मंगलवार को लगने वाले बुढ़वा मंगल मेले पर शृंगीनारी मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ इकट्ठा हुई। विभिन्न संस्कारों के साथ-सत्यनारायण व्रत कथा व दुर्गा सरस्वती का पाठ विद्वान पंडितों ने संपन्न कराया।
रामयण कालीन कथाओं के अनुसार अयोध्या के राजा दशरथ के लिए मखधाम में पुत्रेष्ठि यज्ञ कराने के बाद शृंगी ऋषि अपनी पत्नी शांता देवी के साथ इस स्थान पर रुके थे। बाद में शृंगी ऋषि चले गए और उनकी पत्नी शांतादेवी आश्रम बनाकर इसी स्थान पर रहने लगीं। कलांतर में इसी स्थान को शृंगी नारी के रूप में ख्याति मिली। तभी से प्रत्येक मंगलवार को यहां शांता देवी के दर्शनार्थ श्रद्धालुओं की भीड़ इकट्ठा होने लगी। सच्चे मन से देवी की मनौती करने वाले लोगों की इच्छाएं पूरी होने लगीं और इस शक्ति पीठ का महत्व बढ़ता ही गया। बुढ़वा मंगल के दिन देश के विभिन्न स्थानोें से अपनी मनौती पूरी होने पर देवी के दर्शन के लिए आते हैं। महिलाएं ‘पूड़ी-लपसी’ मंदिर में चढ़ाकर प्रसाद ग्राहण करती हैं। शादी के बाद नव विवाहित जोड़े मंदिर में आकर शादी का मौर चढ़ाते हैं। आस्थावान अपने बच्चों का मुुंडन संस्कार मंदिर परिसर में करवाकर उनमें उच्च संस्कारों की कामना करते हैं।

दोपहर में उमड़ा आस्था का जन सैलाब
सुबह से श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुटी थी मगर, दोपहर तक ऐसी स्थित पहुंच गई कि पूरे परिसर में कहीं खड़े होने की जगह नहीं रह गई। जगह-जगह जल जमाव होने के कारण श्रद्धालुओं को काफी परेशानी हुई। इंडिया मार्का हैंड पंपों पर निर्भर होने के नाते पानी पीने में काफी कठिनाई उठानी पड़ी। मंदिर परिसर में जगह-जगह अतिक्रमण होने के नाते श्रद्धालुओं को पूरा परिसर घूमने में दिक्कत हुई।

मुख्य आकर्षण
मेले का मुख्य आकर्षण सरकास व झूला देखने वालों की काफी भीड़ लगी रही। बच्चों ने अपने परिजनों के साथ झूला व सरकार का आनंद लिया। साथ ही मिठाइया खिलौने लकड़ी के सामानों की भी खरीदारी की।
स्नैचर ने उड़ा दी महिला के गले से चेन
परशुरामपुर। बुढ़वा मंगल को लगने वाले मेले में चेन स्नेचरों ने एक बार फिर पुलिस प्रशासन की कलई खोल दी। मेले में भारी पुलिस फोर्स होने के बाद भी चेन स्नेचर एक महिला के गले से चेन छीन ले गया।
मंगलवार को शृंगीनारी मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी। भीड़ को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने 20 पुरुष कांस्टेबल व 7 महिला कांस्टेबल के साथ एसओ परशुरामपुर स्वयं मेले की कमान संभाले हुए थे। इसके बावजूद दोपहर में जब मेले में भीड़ का रेला बढ़ा तो स्नेचरों ने रमावती सिंह पत्नी वीरेंद्र बहादुर सिंह ग्राम तुरकाडीहा थाना खोड़ारे जनपद गोंड की चेन छीन कर पुलिस व्यवस्था की पोल खोल दी। इससे पहले भी पिछले मंगलवार को मेले में लगी भीड़ में चेन स्नेचरों ने कमला देवी पत्नी रामयज्ञ ग्राम शृंगीनारी के गले का चेन छीन कर पुलिस को चुनौती दी थी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

मरीज की मौत पर परिजन ने सरकारी अस्पताल में किया तांडव

बस्ती के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत के बाद तिमारदार ने खूब तांडव मचाया। तीमारदार ने अस्पताल में रखी कुर्सी और मेज को फेंकना शुरू कर दिया।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper