Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Bareilly ›   Railway will build wall to prevent encroachment in Model Town

मॉडल टाउन में अतिक्रमण रोकने को रेलवे बनाएगा दीवार

Bareily Bureau बरेली ब्यूरो
Updated Fri, 22 Jan 2021 02:04 AM IST
मकानों के आगे लगे कूड़े के ढेर।
मकानों के आगे लगे कूड़े के ढेर। - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, बरेली
विज्ञापन
ख़बर सुनें

मकानों के आगे तक कूड़े के ढेर पहुंचते देख लिया फैसला

बरेली। इज्जतनगर से शहदाना मालगोदाम तक पटरी किनारे की अपनी जमीन पर अतिक्रमण रोकने के लिए रेलवे जल्द ही दीवार बनाएगा। वहीं इस बीच मॉडल टाउन में घरों के आगे बनीं दीवारें व अन्य अवैध कब्जे हटने के बाद कूड़ा और मलबे के ढेर लोगों के दरवाजे तक पहुंच गए है। बदबू से क्षेत्र में लोगों का घर से निकलना बैठना मुश्किल हो गया है। ऐसे में संक्रामक रोग फैलने की आशंका हो गई है। दीवार बनने से लोगों को इस गंदगी से भी राहत मिलेगी।
इज्जतनगर मंडल के डीआरएम अविनाश पंत ने बताया कि जल्द ही कूड़ा और मलबा हटाकर दीवार बनाई जाएगी जिससे दोबारा अतिक्रमण न हो सके। इज्जतनगर रेल मंडल के इंजीनियरिंग अनुभाग ने पांच जनवरी से शहदाना मालगोदाम के आसपास रेलवे की जमीन से अवैध कब्जे हटाना शुरू किए थे। तीन दिन तक जेसीबी मशीनें अवैध कब्जे हटाती रहीं, लेकिन मॉडल टाउन पहुंचकर अभियान ठिठक गया। दरअसल माडल टाउन के लोगों का कहना था कि दोनों ओर एक की दूरी के निशान लगाए जाए। लेकिन रेलवे अधिकारियों के नक्शे के मुताबिक, मॉडल टाउन की ओर 60 और प्रेमनगर की ओर 40 मीटर तक अवैध कब्जा हटना था। मॉडल टाउन के लोगों ने नगर निगम के नक्शे के मुताबिक कब्जे हटाने को कहा। इसके बाद लेखपाल और काननूगो भी पहुंचे, लेकिन उनके पास नक्शा नहीं था। फिलहाल डीआरएम ने अगले आदेश तक अवैध कब्जे हटाने पर रोक लगा दी है।

इधर, मॉडल टाउन में अवैध कब्जे हटाने के बाद पटरी और आसपास फैला कूड़ा और मलबा लोगों के घरों तक आ गया है। कूड़े की वजह से लोगों का निकलना मुश्किल हो गया है। रेलवे ने घरों के बाहर बनी दीवारें भी तोड़ दीं। सर्दियों में लोग धूप में बाहर बैठते थे। अब कूड़े की बदबू की वजह से लोगों के दरवाजे तक नहीं खुलते हैं, इसके अलावा गाय और अन्य जानवर भी दरवाजे के बाहर गंदगी करते हैं। ऐसे में संक्रामक रोग फैलने की आशंका हो गई।

ऐसे तो मकान बेचकर ही जाना पड़ेगा

निजी कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र साहिब का कहना है कि गंदगी की वजह से बाहर धूप में बैठना मुश्किल हो गया है। बीस दिन हो गए हैं, कूड़ा तक नहीं हटा है, ऐेसे में घर बेचना पड़ेगा, गंदगी से बीमारियां बढ़ जाएंगी।

हर समय दरवाजा बंद रखते हैं

सतनाम कौर ने बताया कि हर समय घर के दरवाजे बंद रखने पड़ते हैं। पहले बाउंड्री होने से कुत्ते, गाय आदि घर में नहीं घुसते थे। रेलवे कब सफाई कराएगा, पता नहीं चल रहा है।

कूड़ा और मलबा हटवाकर दीवार बनाई जाएगी। रेलवे ने कुदेशिया रेलवे क्रॉसिंग से सिटी स्टेशन तक भी दीवार बनाई है। दोनों काम जल्द शुरू कराए जाएंगे। जिससे लोगों को राहत मिले। -अविनाश पंत, डीआरएम

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00