विज्ञापन
विज्ञापन

किशोरी को चाकू से गोदकर पिता-भाई ने नहर में फेंका

Bareily Bureauबरेली ब्यूरो Updated Sun, 16 Jun 2019 02:55 AM IST
ख़बर सुनें
जंगबहादुरगंज (लखीमपुर खीरी)। फुफेरे भाई से शादी की जिद करने पर एक व्यक्ति ने अपने बेटे की मदद से 15 वर्षीय बेटी को शुक्रवार की रात जसमड़ी पुल पर ले जाकर उसका सीना और पेट चाकू से गोद डाला। इसके बाद दोनों उसे मृत समझकर नहर में फेंककर चले गए। इधर, नहर में पानी कम होने के कारण डूबने से बची किशोरी किसी तरह बाहर निकलकर कुछ दूरी पर बनी झोपड़ी में छिप गई। बाद में पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया।
विज्ञापन
विज्ञापन
यह किशोरी रोजा (शाहजहांपुर) से सटे हथौड़ा बुजुर्ग इलाके की रहने वाली है। किशोरी ने बताया कि वह अपने फुफेरे भाई के साथ शादी करना चाह रही है। जबकि पिता और भाई दूसरी जगह शादी करना चाहते हैं। दो महीने पहले पिता उसे बड़ी बहन की ससुराल जरीयनपुर में छोड़ आए थे, जहां वह रह रही थी। शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे पिता और भाई जरीयनपुर पहुंचे। घर चलने की बात कहकर बाइक पर बैठाने के बाद पिता और भाई उसे शाहजहांपुर में चाचा के घर लाए, जहां उसे करीब दो घंटे तक रोका। अंधेरा होने पर फिर बाइक पर बैठाया और करीब 35 किलोमीटर दूर जसमड़ी पुल पर ले आए। किशोरी के मुताबिक वहां दोनों ने उसके पेट में साइड से और सीने पर चाकू से कई वार किए और शारदा नहर की हरदोई ब्रांच में फेंककर चले गए। उसने नहर से बाहर निकलने के बाद अपनी जान बचाई। रातभर पास में ही एक झोपड़ी में वह छिपी रही। शनिवार सुबह पता चलने पर पुलिस ने उसे पसगवां सीएचसी में भर्ती कराया। उसकी आंत बाहर निकल आई है। हालत गंभीर होने के कारण पहले उसे जिला अस्पताल और फिर लखनऊ रेफर कर दिया गया।

जान की भीख मांगती रही... नहीं आई पिता-भाई को दया
जंगबहादुरगंज। पिता और भाई के हाथों चाकू से गोदी गई किशोरी अपने पिता और भाई के सामने गिड़गिड़ा कर जान की भीख मांगती रही, लेकिन खून के प्यासे बने पिता और भाई को उस पर जरा भी दया नहीं आई। यही नहीं, नहर में फेंककर जाने के बाद उसे मरा हुआ देखने की चाह में वे दोनों एक बार लौटे। नजरें दौड़ाईं, मगर जब वह नजर नहीं आई तो दोनों चले गए। पुलिस दोनों हमलावर की तलाश कर रही है, अभी रिपोर्ट भी दर्ज नहीं हो सकी है।
हाईस्कूल में पढ़ने वाली किशोरी ने बताया कि फुफेरे भाई से रिश्ता मंजूर न होने के कारण घर वाले जल्द ही उसकी शादी कहीं दूसरी जगह करने की कोशिश में लगे हुए थे। इसका विरोध करने पर पिता ने कई बार उसे पीटा। बड़ी बहन के घर छोड़े जाने के बावजूद वह अपनी जिद पर अड़ी रही तो शुक्रवार रात उसकी हत्या का प्लान बना डाला। जसमड़ी पुल पर लाने के बाद जब पिता और भाई उसे चाकू से गोद रहे थे तो जान बख्शने के लिए वह रोती-गिड़गिड़ाती रही, लेकिन उन्हें दया नहीं आई। इसके बाद दोनों नहर में डाल गए।
नहर में पानी कम था, इसलिए डूबने से बच गई। इसके बाद वह किसी तरह बाहर निकली और नजदीक में एक टूटी झोंपड़ी में छिप गई। किशोरी ने बताया कि कुछ देर बाद पिता और भाई फिर बाइक से आए। इधर-उधर नजर दौड़ाई, लेकिन वे उसे देख नहीं पाए। जबकि वह उन दोनों को देख रही थी। शनिवार सुबह करीब छह बजे झोपड़ी के पास से निकले एक राहगीर को उसने अपनी आप बीती बताई। राहगीर की सूचना पर यूपी 100 और पसगवां कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई और अस्पताल में भर्ती कराया। पसगवां कोतवाली प्रभारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने किशोरी के बयान दर्ज किए।

किशोरी के बयान लिए गए हैं। उसने अपने पिता-भाई पर चाकू मारने और नहर में फेंकने की बात बताई है। छानबीन की जा रही है। उसके रिश्तेदारों और घरवालों को बुलाया गया है। यदि कोई नहीं आता है तो लड़की की ओर से तहरीर लेकर रिपोर्ट दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।- शैलेंद्र कुमार सिंह, प्रभारी निरीक्षक थाना पसगवां

Recommended

'अभिरुचि' एक नई पहल जो बना रही है छात्रों का भविष्य
Invertis university

'अभिरुचि' एक नई पहल जो बना रही है छात्रों का भविष्य

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 22/ जुलाई/2019
Astrology

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 22/ जुलाई/2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

24 तक रद्द रहेगी कई ट्रेनें, यहां जाने सभी के नाम

रेलवे ने शहीद एक्सप्रेस, जनसाधारण एक्सप्रेस और हावड़ा-काठगोदाम एक्सप्रेस समेत चार जोड़ी ट्रेनों को 24 जुलाई तक के लिए निरस्त कर दिया है।

21 जुलाई 2019

विज्ञापन

यूपी की जेल होगी पूरी तरह सुरक्षित, देखिए अमर उजाला से बातचीत में क्या बोले डीजी जेल आनंद कुमार

पिछले कई दिनों से यूपी से क्राइम की एक के बाद एक खबरें सामने आ रही हैं। कई जेलों के अंदर अपराधियों की पार्टी करने की तस्वीरें भी सामने आईं। प्रदेश की लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति को लेकर अमर उजाला ने खास बातचीत की डीजी जेल आनंद कुमार से।

21 जुलाई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree