कॉलेज आई मगर क्लास में नहीं पहुंची छात्रा, जल्दी में थी

Bareily Bureau बरेली ब्यूरो
Updated Thu, 25 Feb 2021 12:09 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
शाहजहांपुर। नगरिया मोड़ पर अधजली मिली छात्रा सोमवार की सुबह एसएस कॉलेज तो पहुंची लेकिन वह क्लास में दाखिल नहीं हुई। होम साइंस की एक फाइल उसे जमा करनी थी, जिसे जमा नहीं किया । लाइब्रेरी गई और एक किताब वहां पर जमा की और आधे घंटे में कॉलेज से बाहर निकल गई। अभी तक सीसीटीवी फुटेज की जांच में ऐसा सामने आया कि छात्रा कुछ जल्दी में थी।
विज्ञापन

सीसी टीवी फुटेज के अनुसार छात्रा दिन में 11.40 पर कॉलेज में पहुंची थी। इसके बाद वह इधर-उधर अकेले टहलती रही। वह तीसरी मंजिल पर पहुंची और वहां से अकेले नीचे आई। तीसरी मंजिल में बीए द्वितीय वर्ष की कक्षाएं चलती हैं। होम साइंस की प्रयोगशाला के बाहर दो-तीन छात्राओं के साथ वह बात करती नजर आ रही है। हालांकि किसी फुटेज में उसके साथ कोई साथ चलता नहीं दिख रहा। इसके बाद वह एसएस लॉ कॉलेज के गेट से जाती हुई नजर आ रही है।

छात्रा मंगलवार को भी चुप्पी साधे रही। उसने परिजन से मंगलवार को भी दोहराया कि वह अपनी एक सहेली के साथ कॉलेज की तीसरी मंजिल पर थी। वहां से दोनों दूसरी मंजिल पर आईं। इसके बाद सहेली कहीं चली गई और उसके बाद का उसे कुछ याद नहीं। उसे बाद में मेडिकल कॉलेज में होश आया।
एक छात्रा से पुलिस ने की पूछताछ
जिन दो-तीन छात्राओं से पीड़िता ने थोड़ी देर बातचीत की थी, उनसे पुलिस पूछताछ करेगी। इनमें से एक छात्रा से पुलिस ने मंगलवार की शाम पूछताछ भी की। इसी छात्रा के साथ पीड़िता तीसरी मंजिल में जाने की बात कह रही है।
दर्द से तड़प रही छात्रा
छात्रा को लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। यहां पर छात्रा दर्द से तड़प रही है। परिजन के मुताबिक वह दर्द के कारण बेड से उठकर भागने का प्रयास कर रही है। डॉक्टरों ने उसे नींद की दवाई देकर शांत कराया है। डॉक्टर केरोसिन से जलाए जाने की पुष्टि कर रहे हैं।
बाग में मिले शराब के पौव्वे
जिस बाग में छात्रा से हैवानियत की कोशिश की गई वहां पर नमकीन और शराब के पाउच, कुछ बोतलें भी बरामद हुई हैं। पुलिस ने सभी वस्तुओं को जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिया है। सोमवार देर रात और मंगलवार सुबह फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड ने नगरिया मोड़ के समीप गांव राईखुर्द के पास वारदात स्थल का निरीक्षण किया। पुलिस का यह भी कहना है कि बाग में गांव के अराजकतत्व शराब पीते रहते हैं। वारदात में एक से अधिक लोगों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। मौके पर छात्रा से संबंधित कोई ऐसी चीज नहीं मिल सकी जिससे डाग स्क्वायड को कोई सफलता मिलती। चप्पलें जरूर बाग में मिली हैं।
सकते में परिवार, गांव में सन्नाटा
छात्रा कांट थाना क्षेत्र के जिस गांव की रहने वाली है वहां वारदात के बाद से सन्नाटा-सा पसरा हुआ है। छात्रा भाई-बहनों में सबसे बड़ी है। परिवार के लोग छात्रा के साथ लखनऊ गए हुए हैं जबकि घर पर चाचा रुके हुए हैं। गांव वालों के मुताबिक छात्रा काफी खुशमिजाज और भली लड़की है। उसके साथ हुए हादसे से सभी सन्न रह गए हैं।
प्रत्यक्षदर्शी की जुबानी
गांव राईखुर्द निवासी आसिफ अली ने बताया कि शाम करीब साढ़े छह बजे जब वह मौके पर पहुंचा तो देखा कि युवती काफी हद तक जली हुई है। वह नग्न अवस्था में गेहूं के खेत में खड़ी थी। यहां ग्रामीणों ने अपना गमछा और अन्य वस्त्र देकर उसके तन को ढका। फिर तिलहर थाने की पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने 108 नंबर एंबुलेंस का बहुत देर इंतजार करने के बाद डायल-112 वाहन से मेडिकल कॉलेज भेजा। गेहूं के खेत के पीछे बाग से लड़की के जले हुए कपड़े व चप्पल पुलिस ने मौके से बरामद किए। ग्रामीणों ने यह भी बताया की घटनास्थल के पास से एक चकरोड नदी के किनारे को जाता है जिससे आने वाले वाहनों में लड़के और लड़कियां अक्सर यहां देखे जाते हैं। डैम रोड से नगरिया मोड़ तक भी नई बनी सड़क पर लोग अक्सर बाइकों से तफरीह करते दिखते हैं।
गांव के एक युवक को भी पूछताछ के लिए उठाया
घटना के 20 दिन पहले ही घर में एक मोबाइल खरीदा गया था। घटना वाले दिन मोबाइल घर पर ही था। पूरे घर में सिर्फ एक ही मोबाइल है। इसे पूरा घर इस्तेमाल करता है। छात्रा ने इस फोन से घटना वाले दिन गांव के एक व्यक्ति को फोन किया था। पुलिस ने उसे भी पूछताछ के लिए उठाया है।
एमएलसी उठाएंगे विधान परिषद में मुद्दा
एमएलसी अमित यादव रिंकू ने बताया कि वह छात्रा को जलाए जाने और दो बच्चियों पर हुए हमले का मुद्दा विधान परिषद में उठाएंगे। इस पर बृहस्पतिवार को सदन में चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि इतने जघन्य अपराध शाहजहांपुर की धरती पर पहले कभी नहीं हुए। भाजपा की सरकार में अपराधी बेलगाम हैं।
छात्रा के बयान दर्ज
एसपी एस आनंद ने बताया कि लखनऊ के अस्पताल में मजिस्ट्रेट ने छात्रा का बयान दर्ज किया है। बयान लेने के दौरान पुलिस वहां उपस्थित नहीं होती है, इस संबंध में विवेचक बुधवार को लखनऊ जाकर बयान को देखेगा, बयान में क्या है इसकी जानकारी मुझे नहीं है।
--
पुलिस की कई टीमें वारदात के खुलासे के लिए प्रयास कर रही हैं। जल्द ही अपराधी पकड़े जाएंगे।
-एस आनंद, एसपी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X