आशंका : दुष्कर्म के इरादे से अपह्त की गईं थीं बच्चियां, हैवान कोई परिचित

Bareily Bureau बरेली ब्यूरो
Updated Wed, 24 Feb 2021 12:55 AM IST
विज्ञापन
कांट (शाहजहांपुर) में वह स्थान जहां बच्ची की हत्या की गई । संवाद
कांट (शाहजहांपुर) में वह स्थान जहां बच्ची की हत्या की गई । संवाद - फोटो : SHAHJAHANPUR

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
शाहजहांपुर। कांट थाना क्षेत्र के एक गांव में अपहरण के बाद एक बच्ची की हत्या और दूसरी बच्ची को मरणासन्न छोड़ने के मामले पुलिस अभी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाई। आशंका जताई जा रही है कि कोई परिचित ही दोनों बहनों को बरगलाकर खेतों की ओर ले गया। बड़ी बहन से दुष्कर्म की कोशिश की। असफल होने पर दोनों के सिर, गर्दन और मुंह पर किसी भारी वस्तु से प्रहार किया। फिर मरा समझकर उन्हें छोड़कर चला गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में छोटी बहन की सिर की हड्डियां टूटने से मौत की बात सामने आई है। जबकि बड़ी बहन बरेली के एक निजी अस्पताल में मौत से जूझ रही है।
विज्ञापन

बड़ी बहन के मेडिकल परीक्षण दुष्कर्म की कोशिश की पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन हालात बता रहे हैं हैवान ने उन दोनों को इसी इरादे अपह्त किया था। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि परिचित होने के नाते दोनों बहनें बहकावे में आकर ुउसके साथ चली गई हों। लेकिन जैसे ही उसकी नीयत भांपकर दोनों ने शोर मचाया होगा तभी उसके सिर पर खून सवार हो गया होगा। इसके बाद उसने दोनों पर निर्मम प्रहार किया और मरा समझकर भाग गया। इसमें एक बच्ची की जान चली गई पर दूसरी बच गई।

बेटियों के बाबा ने अज्ञात हमलावर के खिलाफ कांट थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। बाबा के मुताबिक उसकी पांच और सात साल की दो पोतियां सोमवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे प्राथमिक स्कूल के पास बने सरकारी नल के पास देखी गईं थीं। इसके बाद दोनों लापता हो गईं। शाम छह बजे तक दोनों के वापस न आने पर उन लोगों ने दोनों की खोज शुरू की। रात लगभग आठ बजे गांव से करीब एक किलोमीटर दूर उसकी छोटी पोती का शव एक खेत में मिला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी तो वह मौके पर पहुंची। पुलिस के साथ काफी देर तक तलाशने के बाद रात करीब 11 बजे दूसरी पोती सौ मीटर दूर बुरी तरह से घायल अवस्था में मिली। पुलिस ने आननफानन उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। यहां डॉक्टरों की टीम ने उसका प्राथमिक उपचार किया। मंगलवार सुबह करीब दस बजे बेहतर इलाज के लिए उसे बरेली के एक निजी मेडिकल कॉलेज के लिए भेजा गया। छोटी बच्ची के शव का डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया है। पोस्टमार्टम में छोटी बच्ची के सिर पर वजनी वस्तु से प्रहार किए जाने से सिर की हड्डियां टूटने से मौत की बात सामने आई है। दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है।
बड़ी बहन के सिर पर गंभीर चोट है। उसके मस्तिष्क में ऑक्सीजन लेवल काफी कम है, जिसकी वजह से उसे होश नहीं आ रहा। एसपी संजय कुमार ने बताया कि संदिग्ध लोगों की धरपकड़ की जा रही है। बच्ची को बेहतर इलाज मुहैया कराया जा रहा है। पुलिस जल्द वारदात का खुलासा कर देगी।
गरीब के घर पर आफत
शाहजहांपुर। कांट थाना क्षेत्र के जिस गांव में दो बेटियों के साथ वारदात हुई उनके परिवार वाले काफी गरीब हैं। बच्चियों के बाबा, चाचा और उनके बेटा-बेटी सब एक ही घर में रहते हैं। ये फेरी लगाकर विभिन्न चीजें क्षेत्र में बेचा करते हैं। खेतों में मजदूरी भी करते हैं।
बाबा ने बताया कि चार साल की पोती और सात साल की दूसरी पोती दोनों हमेशा साथ रहतीं थीं। साथ-साथ खेलती थीं और पढ़ने जाती थीं। सोमवार को भी दोनों साथ में घर से निकली थीं। दोनों आसपास खेलती रहती हैं इसलिए शाम तक तो चिंता नहीं हुई मगर अंधेरा घिरने लगा और दोनों लौटीं नहीं तो पूरा परिवार परेशान होकर उन्हें ढूंढने लगा। वारदात के पीछे किसी रंजिश या साजिश से परिवार इंकार कर रहा है। उनका कहना है कि उन्हें किसी पर शक नहीं है। एक बच्ची की मौत और दूसरी के बुरी तरह घायल होने के बाद से परिवार बहुत सदमे में है। कुछ लोग मासूम बच्ची के साथ बरेली गए हुए हैं। शाम को मृत बच्ची को सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया।
क्षेत्र के तमाम लोगों को पुलिस ने उठाया
संगीन वारदात के बाद एडीजी अविनाश चंद्रा और आईजी राजेश पांडेय सोमवार रात करीब साढ़े बारह बजे वारदात स्थल पर पहुंचे थे। उन्होंने वारदात के शीघ्र खुलासे के निर्देश दिए थे। इसके बाद पुलिस ने गांव के कई संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए उठाया है। खासतौर पर आपराधिक छवि के लोगों को निशाने पर लिया गया है। गांव में कई थानों का फोर्स पहुंचा था। एसपी सिटी संजय कुमार ने बताया कि कई लोगों से शक के आधार पर पूछताछ की जा रही है।
पीड़ित परिवार को मुआवजे की उठाई मांग
कांट। सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां के नेतृत्व पाटी के कुछ सदस्य मंगलवार को पीड़ित के घर पहुंचे। उन्होंने घटना की निंदा की। सपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि सरकार मृतक बच्ची के आश्रितों को 50 लाख व मरणासन्न बच्ची के परिजनों को 25 लाख रुपये मुआवजा देकर अभियुक्तों को तत्काल गिरफ्तार करे। पीड़ित के घर पहुंचने वालों सपा नेताओं में पूर्व मंत्री अवधेश वर्मा, जिला महामंत्री रणंजय सिंह यादव, नीरज मिश्रा, मिश्रीलाल पटेल, अब्दुल सत्तार, आनंद शुक्ला, शफीकुर्रहमान, रफत खां, आरिफ आदि शामिल रहे। मंगलवार को सुबह कांट द्वितीय से निवर्तमान जिला पंचायत सदस्य राकेश कुमार मिश्रा ने पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया। संवाद
शाहजहांपुर में कांट में घटित घटना में घायल बच्ची को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रवाना किया गया, इ?
शाहजहांपुर में कांट में घटित घटना में घायल बच्ची को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रवाना किया गया, इ?- फोटो : SHAHJAHANPUR
 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X