बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

मीटर चेकिंग के दौरान बुजुर्ग की मौत का मामला गरमाया

Bareilly Updated Sat, 09 Feb 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
बरेली। कूर्मांचल नगर में मीटर चेकिंग की दौरान हार्ट अटैक से मौत के मामले में आयकर विभाग के कर्मचारियों ने चीफ इंजीनियर दफ्तर में प्रदर्शन किया। उनके साथ शहर विधायक भी थे। ये लोग चेकिंग के नाम पर हो रहे उत्पीड़न को बंद करने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि पूरे मामले में एसडीओ दोषी हैं, इसलिए उन्हें बर्खास्त किया जाए। दूसरी ओर बिजली विभाग के तमाम कर्मचारी और जेई एसडीओ के पक्ष में लामबंद हो गए हैं। बृहस्पतिवार को कूर्मांचलनगर में कनेक्शन चेकिंग के दौरान विवाद में आयकर अफसर दिनेश नेगी के पिता केएस नेगी की मौत हो गई थी। इससे कालोनी के बाशिंदों में जबरदस्त गुस्सा है। मामले में एसडीओ एसके गुप्ता, जेई सुभाष चंद्र कश्यप और 15-16 अन्य लोगों के खिलाफ थाना इज्जतनगर में गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया था।
विज्ञापन

शुक्रवार सुबह ही आक्रोशित लोग चीफ इंजीनियर कार्यालय परिसर में एकत्र होने लगे। आक्रोश को देखते हुए प्रशासन ने पहले ही पीएसी बल लगा दिया था। कोतवाल शक्ति सिंह भी फ ोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए थे। इन लोगों के साथ नगर विधायक डॉ. अरुण कुमार और आयकर कर्मचारी संगठन नेता भी थे। कार्यालय के बाहर नारेबाजी और प्रदर्शन करने के बाद चीफ इंजीनियर पीके गुप्ता से मुलाकात कर लोगों ने एक स्वर में कहा कि चेकिंग के नाम पर उत्पीड़न तुरंत रोका जाए। नगर विधायक ने कहा कि कूर्मांचल नगर में हुई इस मौत के लिए पूरी तरह से एसडीओ जिम्मेदार हैं। इसलिए उन्हें तुरंत निलंबित कर बर्खास्त किया जाए। विधायक ने पीड़ित पक्ष को उचित मुआवजा देने को भी कहा। कुछ लोगों ने बताया कि चेकिंग के दौरान कई मीटर खराब कर दिए गए हैं। इन लोगों ने एक ज्ञापन भी सौंपा और बताया कि इस कालोनी से एक लाइन विभागीय मिलीभगत से अवैध रूप से चल रही है।


मीटर बदलेंगे
चीफ इंजीनियर पीके गुप्ता ने आक्रोशित लोगों से बातचीत में घटना पर अफसोस जताया। गुप्ता ने कहा कि कालोनी में लगे सभी संदिग्ध मीटर बिना किसी भुगतान के बदल दिए जाएंगे। वादा किया कि कालोनी की जिस लाइन से अवैध सप्लाई गांवों को दी जा रही है, उसे काट दिया जाएगा। इस संबंध में एसई विपिनचंद सक्सेना से कहा कि वे जल्द अवैध लाइन उतरवा दें। इस दौरान सपा के जिला महासचिव प्रमोद विष्ट, आयकर कर्मचारी संघ प्रमुख रविंद्र सिंह, व्यापारी नेता देवेंद्र जोशी, पुष्पेंद्र शर्मा, एमएस नेगी, पर्वतीय समाज शासकीय और संस्थागत कर्मचारी संगठन नेता भी मौजूद रहे।

कर्मचारी संगठन भी लामबंद, कामकाज ठप
इस मामले में कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने भी मोर्चा खोल दिया है। इसमें अभियंता और जेई संगठन भी शामिल हो गया है। प्रभावित पक्ष जैसे ही वापस गया कि संयुक्त समिति नेताओं ने चीफ को घेर लिया और ज्ञापन सौंपा। इसमें कहा गया है कि चेकिंग सही हुई थी और जुर्माना भी वसूला गया, लेकिन इसके बाद ही हादसा हुआ। इस मामले में विभागीय चेकिंग दल दोषी नहीं है। इसलिए एकतरफा दर्ज मुकदमा खारिज होना चाहिए। संगठन ने पीड़ित पक्ष के प्रति संवेदना जताते हुए कहा कि अगर कोई कार्रवाई हुई तो सोमवार 11 फरवरी से धरना और आंदोलन शुरू होगा। इस दौरान एके शुक्ला, देवेंद्र सिंह, सीबी सक्सेना, विनम्र मिश्रा, आरके शर्मा और एके त्रिपाठी आदि मौजूद रहे। संगठन कमिश्नर, आईजी और जिला प्रशासन आदि को पत्र प्रेषित कर न्याय की गुहार लगाई है।

चेकिंग अभियान ठप
दिनभर चले घटनाक्रम के चलते किसी दफ्तर में कामकाज नहीं हुआ। बिल आदि भी जमा नहीं हो पाए और चेकिंग अभियान भी ठप हो गया। पूरे दिन बिजली कार्यालयों में अफरातफरी का माहौल बना रहा। साथ ही उपकेंद्रों पर भी मनमानी का माहौल बना रहा, जिससे फाल्ट आदि भी दूर नहीं हो पाए।

---------------------
चेकिंग रिपोर्ट पर बाद में करवाए दस्तखत : जेई
घटनाक्रम में आरोपी जेई सुभाष कश्यप ने कहा है कि वे निर्दोष हैं। उनका नाम मामले में जबरन जोड़ा गया है। कश्यप ने बताया कि चेकिंग के दौरान वे मौजूद ही नहीं थे, अन्य लोग जगह चेकिंग कर रहे थे। चेकिंग रिपोर्ट में उनके हस्ताक्षर बाद में कराए गए थे। ऐसे हस्ताक्षर कुछ अन्य कर्मचारियों से भी कराए गए हैं। यहां बता दें कि नियमानुसार मौके पर मौजूद कर्मचारियों और इंजीनियरों से ही चेकिंग रिपोर्ट पर दस्तखत करवाए जा सकते हैं। जेई सुभाष कश्यप का यह बयान गड़बड़ की ओर इशारा करता है।
------------
घटना की निंदा
मनमानी चेकिंग प्रक्रिया और कूर्मांचल नगर की घटना की निंदा तमाम संगठनों ने करते हुए मामले के दोषी पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। इंडियन जस्टिस पार्टी, दलित चेतना दल, नागरिक कल्याण संघ समेत विभिन्न संगठनों ने कहा है कि चेकिंग पारदर्शी होनी चाहिए। इसके नाम पर उत्पीड़न न किया जाए।



हैडिंग--
चेकिंग के दौरान ही पड़ा था हार्ट अटैक

एसएसपी ने गृह विभाग को भेजी रिपोर्ट

बरेली। बिजली चेकिंग के दौरान बुजुर्ग केएस नेगी की मौत के मामले में गृह विभाग ने विवरण तलब किया है। प्रभारी एसएसपी ने शासन को भेजी रिपोर्ट में कहा है कि चेकिंग के दौरान ही दिल का दौरा पड़ा था।
प्रभारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शिवसागर सिंह द्वारा प्रेषित रिपोर्ट में कहा गया है कि गुरुवार शाम को चेकिंग टीम कूर्मांचलनगर पहुंची। दल ने दिनेश नेगी निवास पर चेकिं ग शुरू करायी, इसी दौरान वाद विवाद हो गया। इसी दौरान केएस नेगी का दिल का दौरा पड़ गया। इस पर तुरंत एबुंलेंस से गंगाशील अस्पताल ले जाया गया लेकिन रास्ते में भी उनकी मौत हो गयी। इसके बाद प्रभावित पक्ष की तहरीर पर थाना इज्जतनगर पर एसडीओ एसके गुप्ता समेत 17 लोगों पर मामला दर्ज करा गया है। मामले की जांच की जा रही है। जांच आख्या उत्तरप्रदेश महानिदेशक पुलिस, अपर महानिदेशक कानून व्यवस्था आदि को प्रेषित की गयी है।
जिला समाजवादी पार्टी महासचिव प्रमोद विष्ट ने बताया कि इस आख्या से प्रभावित पक्ष द्वारा लगाए जा रहे आरोपों की पुष्टि हो रही है। जबकि विभाग का दावा है कि नेगी को दिल का दौरा चेकिंग दल के लौटने के बाद हुआ है।



डीएम का फोटो भी लगाएं--
प्रशासनिक जांच होगी: डीएम

बरेली। जिला अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने निर्देश दिए हैं कि बिजली कनेक्शन चेकिंग कराने से पहले संबंधित थाने पर सूचना जरूर दी जाए, ऐसे निर्देश पहले भी दिए जा चुके हैं,लेकिन इसका पालन नहीं किया जा रहा है। इसी वजह से विवाद हो जाते हैं। डीएम ने साफ कहा है कि कूर्मांचलनगर मामले में नियमानुसार जांच होगी।
चेकिंग के नाम पर हुए विवाद को लेकर शुक्रवार को दोनों पक्षों ने डीएम से मुलाकात कर अपना-अपना पक्ष रखा।साथ ही जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपे और हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई। डीएम ने दोनों पक्षों से कहा कि वे पक्षपात नहीं होने देंगे साथ ही प्र्रभावित पक्ष को पूरा न्याय मिलेगा। अगर जरूरत पड़ी तो प्रशासनिक जांच भी होगी।
डीएम ने निर्देश दिए हैं कि बिजली विभाग अधिकारी किसी भी स्थान विशेष पर चेकिंग कराने से पहले संबंधित पुलिस अधिकारी को सूचित जरूर करें। साथ ही चेकिंग नियमानुसार कराई जाए,किसी का उत्पीड़न नहीं होना चाहिए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us