विज्ञापन

उर्स-ए शराफती: कुल में उमड़ा हुजूम

Bareilly Updated Fri, 25 Jan 2013 05:32 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विज्ञापन

बरेली। हजरत शाह शराफत मियां की दरगाह पर गुरुवार को भोर से ही जश्न का सा माहौल था। दरगाह और आसपास के इलाकों में रूहानियत तारी थी। जिधर देखो जायरीन की भीड़। आठ बजते-बजते शहर के अलग-अलग कोनों से लोग निकल पड़े। दरगाह की तरफ जाने वाले रास्तों पर अकीदतमंदों की लंबी कतारें लग गईं। कुल की रस्म शुरू हुई तो जिसके कदम जहां थे वहीं रुक गए।
शाहबाद स्थित दरगाह शरीफ पर चार दिनों से उर्स-ए-शराफती चल रहा था। गुरुवार को सुबह 11 बजे कुल शरीफ की रस्म अदा की गई। इससे पहले तकरीरी जलसा हुआ। इस जलसे में ककराला के मौलाना फहीम अजहरी सकलैनी, मौलाना रिफाकत सकलैनी नईमी, बदायूं के मौलाना राशिद सकलैनी आदि उलेमा ने अपनी तकरीर से महफिल को रोशन किया। इस बीच नातो मनकबत का दौर भी चला। जिसमें आमिल सकलैनी, इकबाल बहेड़वी, मुम्बई के उमर नूर शुमार, अब्दुल कादिर व झांसी के निसार सकलैनी ने कलाम पेश किए। अंत मेें कुल शरीफ पढ़ा गया। बाद में साहिबे सज्जादा पीरो मुर्शिद शाह सकलैन मियां ने दुआ की। दुआ के बाद जब भीड़ वापस हुई तो कई इलाकों में जाम लग गया। कुल के दौरान औरतों की भी बड़ी संख्या में भागीदारी रही।
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
देश में अमन-ओ-खुशहाली को दुआ
बरेली। कुल के बाद साहिब-ए-सज्जादा पीरोमुर्शिद शाह सकलैन मियां ने मुल्क और आवाम के लिए खुसूसी दुआ की। उन्होंने अपनी दुआ में कहा कि देश में अमन चैन हो, खुशहाली हो। बार्डर पर पाकिस्तान की शरारतों के मद्देनर देश को दुश्मनों से महफूज रखने की भी दुआ की। उर्स में शिरकत करने आए तमाम जायरीन के लिए खुदा से भननकी नेक तमन्नाएं और मुरादें पूरी करने की दुआ की।
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
कई जगह हुआ लंगर
बरेली। कुल के बाद दरगाह और आस पास के इलाकों में लोगों निजी तौर पर लंगर किया जहां जायरीन की भीड़ उमड़ पड़ी। गलियों की रास्ता बंद होते देख लंगर को कई बार बीच में रोकना भी पड़।
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
चादरों का जुलूस आज
बरेली। हजरत शाह शराफत मियां की दरगाह से शुक्रवार को चादरों का जुलूस गुलाब नगर स्थित हजरत मौलाना शाह वशीर मियां की दरगाह पर जाएगा। यह जुलूस पीरोमुर्शिद शाह सकलैन मियां की कयादत में शाहबाद स्थित दरगाह से सुबह 10 रवाना होगा। मीडिया प्रभारी आफताब आलम ने बताया कि हजरत वशीर मियां की दरगाह पर चादरपोशी के बाद फातेहा होगी। इसके बाद नबी-ए-करीम मोहम्मद साहब और हजरत वशीर मियां के तबर्रुकात की जियारत कराई जाएगी।
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
रात भर आते रहे जायरीन
बरेली। हजरत शाह शराफत मियां के कुल में शिरकत करने के लिए रात भर जायरीन पहुंचते रहे। ट्रेन हो या बस सभी में जयारीनों की भीड़ थी। काफी तादाद में लोग अपने निजी वाहनों से भी यहां पहुंचे थे। खास तौर से मुरादाबाद, बदायूं, पीलीभीत, नैनीताल, हल्द्वानी, लालकुंआ, किच्छा सहित आसपास के जिलों से पूरी रात जायरीन के आने का तांता लगा रहा।
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
कई जगह लगा जाम
बरेली। कुल के बाद जब आकीदतमंद वापस होने लगे तो कई इलाकों में जाम लग गया। इसमें कुतबखाना, बड़ा बाजार, कोहाड़ापीर, आलमगीरीगंज, चौक बाजार, बासमंड़ी, शाहदाना चौराहा आदि मार्ग लगभग आधा घंटे तक जाम रहे।
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
फोटो.......................
जब बच्ची बेहोश हो गयी
बरेली। कुल के बाद जब भीड़ ने वापसी का रुख किया तो कई लोग बुरी तरह फंस गए। उन्हें रुकने और संभलने का मौका ही नहीं मिल रहा था। दरगाह के पास तो हालत ऐसी थी कि कोई बुजुर्ग या महिला जहां फंस गये वहां से घंटा भर पहले नहीं निकल सके। बच्चों का तो और भी बुरा हाल था। इसी बीच एक बच्ची भी फंस गयी। जो तमाम कोशिश के बाद भी नहीं निकल पा रही थी। इसी जद्दोजहद में वह बेहोश सी होकर गिर पड़ी।
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
विदेशों में भी अदा हुई कुल की रस्म
बरेली। हजरत शाह शराफत मियां के मानने वाले विदेशों मेें भी बड़ी संख्या है। इस बार उर्स में जो लोग नहीं आ सके उन्होंने अपने मुल्क में ही रहकर कुल की रस्म अदा की। मलेशिया के कुआलालांपुर से आई खबर के अनुसार वहां भी मुरीदीन ने उर्स-ए-शाह शराफत का आयोजन किया। जहां कुल की रस्म में बड़ी संख्या में लोगों की शिरकत रही। इसी तरह खानपुर दलपतपुर सहित देश के कई हिस्सों से कुल किए जाने की खबर यहां पहुंची है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us