ट्यूशन पढ़ाने वाले शिक्षकों पर पाबंदी

Bareilly Updated Sun, 16 Dec 2012 05:30 AM IST
बरेली। बरेली कॉलेज में पठन-पाठन के बेहतर माहौल के लिये कॉलेज प्रशासन ने शनिवार को खास घोषणा कर दी। बीसीए संकाय में विद्यार्थियों की पिछले कुछ समय से लगातार यह शिकायत बनी हुई थी कि संकाय के प्राध्यापक अपने पास आकर ट्यूशन पढ़ने का दबाव बनाते हैं। ऐसा न करने पर आंतरिक परीक्षा में कम नंबर देते हैं जबकि एक्सटर्नल परीक्षा में अच्छे अंक मिलते हैं। प्राचार्य डा. आरपी सिंह ने शनिवार को संकाय के विद्यार्थियों के बीच पहुंचकर स्पष्ट किया कि अब से ट्यूशन पढ़ाने वाले कोई भी शिक्षक आंतरिक परीक्षा प्रक्रिया में शामिल नहीं किये जाएंगे और विद्यार्थियों के साथ अन्याय नहीं होगा।
शनिवार को इस संकाय के विद्यार्थियों की ओर गत दिनों की गई शिकायतों के मद्देनजर छात्र संघ सदस्यों के साथ प्राचार्य संकाय प्रांगण में पहुंचे। साथ में चीफ प्राक्टर डा. जोगा सिंह होठी, छात्र संघ अध्यक्ष जवाहर लाल, महामंत्री हृदेश यादव और बीसीए संकाय प्रतिनिधि मयंक गौतम, अवनीश गोपी, सुमित सैनी आदि थे। छात्रों को स्वाध्याय के लिये बड़े रीडिंग रूम तत्काल खुलवाया गया। साथ ही लाइब्रेरी में छात्रों की जरूरत वाली पुस्तकों की खरीद के लिये साढ़े तीन लाख रुपये के मद प्रस्तावित कर मंगलवार को कालेज प्रबंधन के समक्ष प्रस्तुत करना तय हुआ। कंप्यूटर लैब दो दिनों में शुरू कराने समेत अन्य समस्याओं का भी यथाशीघ्र निराकरण कराने पर सहमति बनी।

कक्षा में नहीं पहुंचे शिक्षक तो प्राचार्य को घेरा
बरेली। बरेली कालेज में शनिवार सुबह रोचक स्थिति बनी। बीएससी बाटनी प्रथम वर्ष और तृतीय वर्र्ष में सुबह 8.40 बजे से कक्षाएं चलनी थीं। लेकिन वहां तक कोई शिक्षक नहीं पहुंचे थे। छात्र परेशान हो उठे। तभी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) के कालेज यूनिट के सदस्य सुमित गुर्जर मौके पर पहुंचे। इसके साथ नाराज छात्र प्राचार्य के आवास पर पहुंचे और वहीं गेट पर नारे लगाते हुए धरने पर बैठ गये। कुछ देर बाद प्राचार्य बाहर निकले तो छात्रों ने उन्हेें घेर कर अपनी समस्या बताई। प्राचार्य ने कार्यालय चलकर समस्या बताने को कहा। बाद में विभागीय प्राध्यापकों से जानकारी हासिल कर प्राचार्य ने स्पष्ट किया कि सोमवार से विभाग की ओर से शुरू हो रहे अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस की तैयारी में व्यस्तता के चलते कक्षा में शनिवार सुबह शिक्षक समय पर नहीं पहुंच पाये। आगे ऐसा न होने का भरोसा दिये जाने के बाद छात्र शांत हुए।

कल का अवकाश निरस्त
बरेली। बरेली कालेज में 17 दिसंबर का अवकाश निरस्त कर दिया गया है। प्राचार्य डा. आरपी सिंह ने शनिवार को बताया कि कालेज कैलेंडर में त्रुटिवश गुरु गोविंद तेग बहादुर शहीद दिवस के उपलक्ष्य में यह अवकाश दर्शाया गया है जबकि यह अवकाश गत 24 नवंबर को आहरित हो चुका है। ऐसे में अब सोमवार को कालेज यथावत खुला रहेगा।

स्काउट मास्टर गाइड कैप्टन शिविर संपन्न
बरेली। बरेली कालेज में शनिवार को स्काउट मास्टर गाइड कैप्टन सामान्य सूचना शिविर संपन्न हुआ। इसमें बतौर मुख्य अतिथि प्राचार्य डा. आरपी सिंह पहुंचे। अपने संबोधन में उन्होंने स्काउट नियमों का पालन कर अच्छा नागरिक बनने को प्रेरित किया। कार्यक्रम में प्रतिभागियों और अतिथियों का स्वागत बीएड विभागाध्यक्ष डा. उमा व्यास ने किया। अंत में आभार ज्ञापन करते हुए डा. एसपी अरोड़ा ने कहा कि स्काउट गाइड आंदोलन देश के विकास के लिये कर्तव्यनिष्ठ नागरिकों की बुनियाद तैयार करता है। शिविर संचालक डा. पुष्पकांत ने प्रतिभागियों को दीक्षा प्रदान की। इस अवसर पर भ्रष्टाचार पर व्यंग्यात्मक मौन नाटक का प्रभावी मंचन इंद्रजीत सिंह, बृजमोहन सिंह, देवेश गंगवार और ज्ञान प्रकाश ने किया। इस दौरान भावना, अलका, दीक्षा, ज्योति शर्मा, मनोज कुमार, निजामुद्दीन, अर्र्चना, अनिरुद्ध प्रताप सिंह, नागेंद्र मिश्रा आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper