प्रेमीयुगल को धमकाने वाले गए जेल

Bareilly Updated Sat, 01 Dec 2012 12:00 PM IST
बरेली/ हाफिजगंज। प्रेमीयुगल को धमकाने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कस दिया है। शुक्रवार को हाफिजगंज पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया। इनमें बीडीसी सदस्य, प्रेमिका के चाचा और दो भाई शामिल हैं।
हाफिजगंज इलाके के गांव सावरखेडा निवासी अहमद नबी और परवीन ने महीने भर पहले प्रेम विवाह कर लिया। दो दिन पहले उनके गांव लौटने पर परवीन के परिजनों ने गांव में पंचायत बैठा दी। पंचायत ने उन्हें दो साल तक गांव से बाहर रहने का फरमान सुना दिया था। हाफिजगंज थाने से मदद नहीं मिली तो 29 नवंबर 2012 को अहमद नबी और परवीन एसपी देहात विनय यादव के सामने पेश हुए। इसके बाद से प्रेमीयुगल की सुरक्षा में पुलिस मुस्तैद है।
एसपी देहात के निर्देश पर शुक्रवार को थाना हाफिजगंज में अहमद नबी की तहरीर पर चार लोगों के खिलाफ एनसीआर दर्ज कर ली। इनमें बीडीसी सदस्य अबरार अहमद, परवीन के चाचा मुस्ताक, भाई आरिफ और जाबिर नामजद हैं। पुलिस ने उन्हें शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर सदर एसडीएम की कोर्ट में पेश किया। हाफिजगंज पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में आरोपियों के गांव रहने पर माहौल बिगड़ने और ऑनर किलिंग की आशंका जताई। इस पर एसडीएम ने चारो आरोपियों को जेल का आदेश जार कर दिया।

दहशत में प्रेमी युगल
पुलिस की सुरक्षा मिलने के बावजूद प्रेमीयुगल दहशत में हैं। परवीन और अहमद नबी का कहना है कि दूसरे पक्ष के लोग जेल से छूटने के बाद कुछ कर सकते हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018