सात साल बाद लौटी अनब्याही मां बनकर

Bareilly Updated Thu, 08 Nov 2012 12:00 PM IST
बरेली। सात साल पहले सीमा जब अचानक लापता हुई थी तब 15 साल की किशोरी थी, लेकिन मंगलवार को बरेली लौटी तो दो साल के बच्चे की अनब्याही मां बनकर। आपबीती सुनाई तो पुलिस वाले भी हिल गए। बकौल सीमा, घर के पड़ोस में रहने वाली अपनी जिस सहेली पर उसे सबसे ज्यादा भरोसा था, उसके एक विश्वासघात ने उसकी पूरी जिंदगी बर्बाद कर दी। उसे अगवा करके बेच दिया गया और फिर पूरे सात साल वह बाराबंकी के एक गांव में कैद रहकर तीन लोगों का खिलौना बनी रही।
सुभाषनगर में अपने घर से सीमा (बदला हुआ नाम) अक्तूबर 2005 में एक दिन अचानक गायब हो गई थी। घर वालों ने बहुत ढूंढा, काफी दिनों थाने के चक्कर लगाए लेकिन उसका कुछ पता नहीं लगा। मंगलवार शाम गोद में दो साल का बच्चा लेकर सीमा थाना सुभाषनगर पहुंची और पुलिस को आपबीती सुनाई। सीमा के मुताबिक उसके सहेली ने उसे अपने घर बुलाया था और फिर चाय में कोई नशीली चीज मिलाकर पिला दी। बेहोश होने के बाद सहेली के मां-बाप उसे अगवा कर ट्रेन से लखनऊ ले गए। अगले दिन उसकी बेहोशी टूटी तो वह लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर थी। स्टेशन के बाहर उसकी आंखों के सामने ही तीन लोगों से उसका सौदा किया गया जो उसे कार से अपने साथ बाराबंकी ले गए।
सीमा ने पुलिस को बताया कि उसे खरीदने वाले लोगों ने उसे बाराबंकी जिले के गांव दुल्लापुर में रखा। इस गांव की तहसील राम स्नेही घाट है। तीनों ही लोग उसके साथ जोर-जबर्दस्ती करते थे। उसने चार बार भागने की कोशिश की, लेकिन हर बार पकड़ी गई और उसे बुरी तरह पीटा गया। काफी समय उसे खाना भी सिर्फ एक वक्त दिया गया। तीनों लोग सालों से उसे कैद में रखकर जबर्दस्ती करते रहे, लेकिन उससे व्यवहार हमेशा जानवरों जैसा ही करते थे। आखिरकार तीन दिन पहले वह किसी तरह भाग निकलने में कामयाब हो गई।

स्कूल बस के ड्राइवर ने की मदद
सीमा की मदद गांव में आने वाली एक स्कूल बस के ड्राइवर ने की। सीमा ने उसे अपनी कहानी सुनाई तो वह उसे गांव से निकालने को तैयार हो गया। तीन दिन पहले सीमा अपने बेटे के साथ उसकी बस में बैठकर भाग निकली। तहसील मुख्यालय रामस्नेही घाट आकर उसने कुछ लोगों से मदद मांगकर कुछ पैसे इकट्ठे किए और फिर बस में बैठकर लखनऊ पहुंची। सीमा इतनी डरी हुई थी कि लखनऊ से ट्रेन पकड़कर मंगलवार शाम बरेली आने के बाद घर जाने के बजाय सीधे थाना सुभाषनगर पहुंची।

नहीं मालूम किसका बेटा है यह
सीमा की गोद में दो साल का बच्चा है, लेकिन उसे नहीं मालूम कि उसे भोगने वाले तीन लोगों में से यह किसकी औलाद है। उसने बताया कि गांव दुल्लापुर के जिस घर में उसे कैद करके रखा गया, वहां वह अकेली महिला थी। तीनों लोग उसके साथ जोर-जबर्दस्ती करते थे। शुरू में उसने काफी विरोध किया। इस पर वे उसकी बेरहमी से पिटाई करते थे। हारकर उसने इस जुल्म को अपनी नियति मान लिया।

सात लोगों के खिलाफ एफआईआर
सीमा के अपहरण और बंधक बनाकर दुराचार करने के मामले में सुभाषनगर पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इसमें बरेली के हरगोविन्द शर्मा, रविन्द्र चौधरी, अरविन्द चौधरी और बाराबंकी के गिरीश शुक्ला और उसके पिता भगवती प्रसाद शुक्ला नामजद हैं। सीमा के मुताबिक उसका सौदा करने में उसके घर के पड़ोस में रहने वाले एक दरोगा का भी हाथ था, जो अपनी तैनाती शाहजहांपुर में होना बताते थे। सीमा के गायब होने के बाद उसके पिता ने 26 अक्तूबर 2005 को उसकी सहेली और राजीव कॉलोनी में रहने वाले गौरव शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। थाना सुभाषनगर में सीमा ने जब अपनी दास्तान सुनाई तो यहां लंबे वक्त से तैनात कुछ सिपाहियों को उसके अपहरण का मामला याद आ गया।

लड़की के साथ बहुत ज्यादती हुई है। उसे बेचने वालों को जरूर जेल भेजा जाएगा। इस मामले में पुलिस कर्मी के शामिल होने की बात की भी जांच हो रही है। दोषी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा।
रंजीत सिंह यादव, एसओ सुभाषनगर

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बरेली के अस्पताल के ICU में लगी आग, दो महिला मरीजों की मौत

बरेली के एक प्राइवेट अस्पताल में आग लगने से दो महिला मरीजों की मौत हो गई। जबकि एक मरीज गंभीर रूप से घायल हो गया। आग आईसीयू में लगी थी और बताया जा रहा है मरीजों की मौत दम घुटने से हुई है। हालांकि आग की वजह अभी साफ नहीं हुई है।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper