हार्टमैन रेलवे क्रॉसिंग बंद करने की तैयारी, लोग भड़के

Bareilly Updated Fri, 28 Sep 2012 12:00 PM IST
बरेली। हार्टमैन ओवरब्रिज शुरू होने से शहरियों को काफी सहूलियत मिलेगी, लेकिन आसपास के तमाम लोगों के लिए मुश्किल भी खड़ी हो गई है। दरअसल एनई रेलवे हार्टमैन रेलवे क्रॉसिंग को बंद करने जा रहा है। बृहस्पतिवार को उसने क्रॉसिंग को बंद करने के लिए दीवार का निर्माण शुरू कराया तो लोग भड़क उठे। उन्होंने रेलवे क्रॉसिंग पर दीवार बनाने का विरोध करते हुए रेलवे लाइन पर जाम लगाने की कोशिश की और काफी देर प्रदर्शन किया। शाम को शहर विधायक की अगुवाई में डीआरएम को ज्ञापन भी सौंपा, लेकिन फिर भी उन्होंने साफ कर दिया कि हार्टमैन ओवरब्रिज शुरू होते ही उसके नीचे से गुजर रहे रेलवे क्रॉसिंग को बंद कर दिया जाएगा।
बृहस्पतिवार की सुबह उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम ने हार्टमैन रेलवे फाटक को बंद करने के लिए नींव खोदनी शुरू की तो वहां लोगों का जमघट इकट्ठा हो गया। लोगों ने इसका विरोध शुरू कर दिया। कुछ देर बाद कांग्रेस नेता अमजद सलीम भी कई साथियों के साथ पहुंच गए। लोगों ने रेलवे फाटक पर काफी देर तक हंगामा किया। फिर रेलवे लाइन पर खड़े हो गए और डीआरएम के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस बीच रेलवे फाटक पर जाम लगाकर रेल यातायात रोकने की भी कोशिश की गई। लोगों का कहना था कि हार्टमैन क्रॉसिंग के दोनों तरफ दो बड़े स्कूल हैं। इन स्कूलों में हजारों बच्चे पढ़ने जाते हैं। क्रॉसिंग बंद हो जाने से बच्चों को ओवरब्रिज पर हैवी ट्रैफिक के बीच गुजरते हुए स्कूल आना-जाना पड़ेगा। इससे दिक्कतें बढ़ेंगी और हादसों का भी खतरा बना रहेगा। दोनों तरफ की घनी आबादी में बसे लोगों को अस्पताल आने जाने में दिक्कत होगी।
बता दें कि हार्टमैन रेलवे क्रॉसिंग के आसपास करीब ढ़ाई लाख की आबादी है। लोगों का कहना है कि रेलवे क्रॉसिंग बंद होने से मिनटों की दूरी तय करने में घंटे भर का समय लग जाएगा।

शहर विधायक ने डीआरएम को दिया ज्ञापन
शहर विधायक डॉ. अरुण कुमार ने पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल के डीआरएम को ज्ञापन देकर बरेली -लालकुंआ रेल लाइन के हार्टमैन ओवरब्रिज के नीचे के रेलवे क्रासिंग को बंद न करने की मांग की। इससे पहले प्रदर्शन के दौरान डॉ. अरुण रेलवे क्रॉसिंग पर भी पहुंचे और लोगों को आश्वासन दिया कि उनकी समस्याओं के समाधान के लिए वह हर तरह से संघर्ष करेंगे।

एक किलोमीटर का फेर पड़ेगा
हार्टमैन (चौधरी तालाब) रेलवे क्रॉसिंग बंद हो जाने के कारण दोनों तरफ के लोगों को ओवरब्रिज से आने-जाने के लिए एक किलोमीटर दूरी ज्यादा तय करनी होगी। हार्टमैन की तरफ से आने वाले छावनी अशरफ खां, कर्मचारी नगर, शास्त्रीनगर आदि के लोगों की शहर आने के लिए दिक्कतें बढ़ेंगी। क्रॉसिंग के इस पार बानखाना, गुलाबनगर, सुर्खा, स्टेट बैंक कालोनी के लोगों को हार्टमैन की तरफ जाने के लिए भी तकरीबन एक किलोमीटर ही चलना होगा। क्रॉसिंग बंद होने से करीब ढाई लाख लोग प्रभावित होंगे।


-हार्टमैन ओवरब्रिज बना ही इसलिए है कि रेलवे क्रॉसिंग की वजह से लोगों को परेशानी न हो। पूरे देश में यही नियम है कि ओवरब्रिज बनने के बाद रेलवे फाटकों को बंद कर दिया जाता है। हार्टमैन ओवरब्रिज के चालू होते ही इस रेलवे फाटक को भी बंद कर दिया जाएगा। - उमेश सिंह, डीआरएम, पूर्वोत्तर रेलवे, इज्जतनगर मंडल

Spotlight

Most Read

Chandigarh

Report: पंजाब में टूटने लगी है ड्रग माफिया की कमर, जानिए कैसे और क्यों?

पंजाब में अब ड्रग माफिया की कमर टूटने लगी है, मतलब सरकार ने प्रदेश में नशा खत्म करने के लिए जो वादा किया था, वह पूरा होता दिख रहा है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

शाहजहांपुर के अटसलिया गांव में नहीं हो रही लड़कों की शादी, ये है वजह

केंद्र सरकार खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर जिले में एक गांव ऐसा है जहां महिलाओं को आज भी खुले में शौच जाना पड़ता है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper