मंजूर नहीं महंगाई और एफडीआई

Bareilly Updated Fri, 21 Sep 2012 12:00 PM IST
बरेली। खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश, कीमतों में बढ़ोत्तरी और सब्सिडी में कटौती के खिलाफ पूरा शहर एकजुट दिखा। व्यापारियों ने जगह-जगह प्रदर्शन और जुलूस निकालकर बाजार बंद कराया। राजनीतिक पार्टियों से जुड़े लोग और आम नौकरीपेशा लोग भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने भी अपनी-अपनी तरह से विरोध कर यूपीए सरकार को अंधाधुंध महंगाई बढ़ाने के लिए जिम्मेदार ठहराया।
बृहस्पतिवार को साप्ताहिक बंदी की वजह से बड़ा बाजार, कुतुबखाना और सिविल लाइंस समेत कई इलाकों के बाजार तो बंद थे ही, शहामतगंज में भी बंद को जबरदस्त समर्थन मिला। कुछ दुकानें खुली रहीं तो बंद समर्थकों ने इन्हें भी बंद करा दिया। सुभाषनगर और कैंट इलाके की दुकानें सुबह खुलीं, मगर बाद में व्यापारी नेताओं ने इन्हें भी बंद करा दिया। शाहदाना रोड और राजेंद्रनगर इलाके में बड़ी दुकानें तो बंद थीं, लेकिन छोटी दुकानें जरूर खुली रहीं।
शहामतगंज में सुबह 10 बजे से ही उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल (मिश्रा गुट) से जुड़े व्यापारी इकट्ठा हो गए। बाजार बंद सफल बनाने के लिए छह टीमें बनाई गईं। करीब 10.30 बजे एक टीम जायजा लेने निकली तो शहामतगंज में एक टी कंपनी के फ्रेंचाइजी की शॉप खुली थी। दुकान बंद करने को कहा तो दुकानदार आनाकानी करने लगा। हल्की नोकझोंक के बाद दुकान बंद कर दी गई। यहीं रवि जनरल स्टोर खुला होने पर गुस्साए व्यापारियों ने वहां रखे स्टूल को पटक दिया। शाहदाना में राजीव नमकीन की दुकान खुली होने की पर व्यापारी नेता मौके पर पहुंचे तो दुकानदार ने शटर गिरा लिया और ग्राहकों को भी अंदर बंद कर लिया। मिश्रा गुट के युवा विंग के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र गुप्ता और संजीव चांदना के समझाने पर दुकानदार मान गया। जिला केमिस्ट एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दुर्गेश खटवानी ने दवा की दुकानें बंद कराईं। हालांकि, नर्सिंग होमों के अंदर मेडिकल स्टोर खुले रहे।
उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल (कंछल गुट) के जिलाध्यक्ष राजेश अग्रवाल के नेतृत्व में व्यापारी सुबह नौ बजे हनुमान मंदिर के सामने इकट्ठा हुए। इन व्यापारियों ने स्कूटर-बाइक रैली निकाली और व्यापारियों ने गधे को यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का प्रतीक बनाकर उन्हें नोट खिलाए। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष गगन गुप्ता की अगुवाई में अय्यूब खां चौराहे पर काले गुब्बारे उड़ाए। पश्चिमी उत्तर उद्योग व्यापार मंडल के महानगर अध्यक्ष राम कृष्णा शुक्ला के नेतृत्व में व्यापारियों ने शहामतगंज चौराहे पर इकट्ठा होकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रूहेलखंड उद्योग व्यापार मंडल के शहर अध्यक्ष संजीव अग्रवाल के नेतृत्व में नावल्टी चौराहे से अय्यूब खां चौराहे तक कें द्र सरकार की शवयात्रा निकाली। अल्पसंख्यक समाज उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष नदीम कुरैशी ने एफडीआई के विरोध में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन जिला प्रशासन के अफसरों को सौंपा।
वाम मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने निकाला जुलूस
बरेली। डीजल मूल्यों में बढ़ोत्तरी, गैस सिलेंडरों का कोटा कम करने और एफडीआई के विरोध में वाम मोर्चे के आह्वान पर सभा कर भारत बंद का समर्थन किया गया। सभा के बाद वाम मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने अंबेडकर पार्क से अयूब खां चौराहा, चौकी चौराहा होते हुए कचहरी तक महंगाई के विरुद्ध जुलूस निकाला। जुलूस में कार्यकर्ता एफडीआई वापस जाओ, डीजल के बढ़े दाम वापस लो आदि नारे लगाए जिला मुख्यालय पर पहुंचकर महंगाई का पुतला भी फूंका।
अंबेडकर पार्क में साजिद अब्बासी की अध्यक्षता में केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों के विरुद्ध सभा को संबोधित करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिलामंत्री राजेश तिवारी ने कहा कि केंद्र की नई गठबंधन सरकार और उनके मुखिया अर्थ व्यवस्था को सुधारने के षड्यंत्र के तहत देश में अमेरिका की जन विरोधी नीतियां लागू करने में लगे हैं। इससे भारत का कृषि बाजार और उद्योग जगत विदेशी पूंजीपतियों के हाथ में चला जाएगा। हम विदेशी पूंजीपतियों के गुलाम बनकर रह जाएंगे। प्रदर्शन करने वालों में राजेंद्र सिंह चौहान, मोहम्मद उल्ला खां, तारकेश्वर चतुर्वेदी, डीडी बेलवाल, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रांतीय नेता विजय शांत, राजीव शांत, गीता शांत, आबिद अली, अंगन लाल शर्मा, रीतराम, रामनाथ राठौर, कमल हसन, सूर्य प्रकाश आदि शामिल रहे।
भाजपाइयों ने किया पैदल मार्च, बाइक रैली भी निकाली
बरेली। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में भाजपाइयों ने सुबह शहर में पैदल मार्च किया और फिर मोटर साइकिल रैली भी निकाली। बटलर प्लाजा और कोहाड़ापीर समेत कई इलाकों में जहां-जहां उन्हें दुकानें खुली मिलीं, उन्होंने उन्हें बंद करा दिया।
भाजपा कार्यकर्ता सुबह नौ बजे कैंट विधायक राजेश अग्रवाल के आवास के पास इकट्ठे हुए। इसके बाद भारत बंद के बरेली प्रभारी डॉ. नेपाल सिंह के नेतृत्व में राजेश अग्रवाल, शहर विधायक डॉ. अरुण कुमार, महानगर संयोजक सुधीर जैन, महानगर महामंत्री पुष्पेंदु शर्मा आदि के साथ पैदल मार्च करते हुए कालीबाड़ी से शहामतगंज और फिर सिकलापुर पहुंचे। रास्ते में जहां-जहां दुकानें खुली मिलीं, उन्होंने आग्रहपूर्वक उन्हें बंद करा दिया। बरेली कॉलेज मुख्य गेट के सामने कई किताबों की दुकानें भी खुली हुई थीं, जिन्हें उन्होंने बंद कराया। वे वहां तब तक डटे रहे, जब तक दुकानें बंद नहीं हो गईं। भाजपा नेता यहां से पैदल मार्च करते हुए वापस कैंट विधायक के आवास पर पहुुंचे। इसके बाद करीब डेढ़ सौ मोटर साइकिलों पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली। वे रामपुर गार्डेन होते हुए बटलर प्लाजा पहुंचे। यहां पर मोबाइल की कुछ छिटपुट दुकानें खुलीं थीं तो उन्होंने उसे बंद करा दिया। रैली इसके बाद अयूब खां चौराहे होते हुए कुतुबखाना और बड़े बाजार पहुंची। कोहाड़ापीर इलाके में भी कई दुकानें खुली मिलीं, जिन्हें बंद करा दिया गया। रैली वापस कालीबाड़ी आकर खत्म हुई। प्रमुख भाजपा नेताओं में बहोरनलाल मौर्य, केवल कृष्ण, गुलशन आनंद, राजकुमार शर्मा, ललित सक्सेना, मुदित अग्रवाल और कमल चतुर्वेदी आदि शामिल रहे।
बंद के दौरान दो खेमों में दिखे सपाई
बरेली। बाजार बंद कराने के दौरान आगे चलने को लेकर सपाई दो खेमों में बंट गए। एक खेमे को दूसरे खेमे में शामिल नेताओं का आगे चलना बर्दाश्त नहीं हुआ तो वे वापस पार्टी कार्यालय पर आ गए। जबकि दूसरे खेमे ने शाहदाना रोड पर खुली दुकानों को बंद कराया।
गुरुवार को सपा जिलाध्यक्ष वीरपाल सिंह यादव के नेतृत्व में सपाई सुबह 9.30 बजे पार्टी कार्यालय से निकलकर अयूब खां चौराहा पहुंचे। यहां से एफडीआई के विरोध में दुकानें बंद कराते हुए सपाई सिकलापुर, साहू गोपीनाथ से शहामतगंज चाौराहा आ गए। जुलूस की शक्ल में चलते वक्त रास्ते में कुछ कार्यकर्ताओं में आगे चलने को लेकर विवाद हो गया। यहीं से जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में सपाइयों की एक टीम ने कालीबाड़ी, शाहदाना, गंगापुर, मठ की चौकी, आलमगीरीगंज, कुतुबखाना, बड़ा बाजार, किला का बाजार बंद कराया और फिर पार्टी कार्यालय आ गए।
जिलाध्यक्ष के साथ महानगर अध्यक्ष फहीम साबिर अंसारी, जिला सचिव ओमपाल सिंह यादव,मलखान सिंह यादव, संजीव यादव, नीरज तिवारी और मनु नीरस आदि मौजूद रहे। दूसरी टीम में जिला महासचिव प्रमोद कुमार विष्ट की अगुवाई में सपा नेताओं ने शहामतगंज और शाहदाना का बाजार बंद कराया। इस मौके पर जफर बेग, शुभलेश यादव, शमीम सुल्तानी, अफरोज अंसारी, रिजवान नियाजी आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

शिवपाल के जन्मदिन पर अखिलेश ने उन्हें इस अंदाज में दी बधाई, जानें- क्या बोले

शिवपाल यादव ने अपने समर्थकों संग लखनऊ स्थित आवास पर जन्मदिन मनाया। अखिलेश यादव ने उन्हें मीडिया के माध्यम से बधाई दी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper