मामूली विवाद को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश

Bareilly Updated Fri, 10 Aug 2012 12:00 PM IST
बरेली। अब तो छोटे-छोटे विवादों को भी लोग सांप्रदायिक रंग देने लगे हैं। बीती रात बिहारीपुर में रिक्शा गली के अंदर ले जाने को लेकर मामूली मारपीट हो गई थी। लेकिन, कुछ लोगों ने इसे इस तरह से पेश किया, मानों दो समुदाय आमने सामने आ गए।
बिहारीपुर निवासी अख्तर रिक्शा चलाते हैं। बुधवार की रात वह बिहारीपुर ढाल से सेंट्रल स्कूल की एक टीचर और उनकी भतीजी को बैठाकर होलिका मंदिर के पास ले गए। बिजली चली जाने की वजह से टीचर ने गली के अंदर छोड़ने को कह दिया, लेकिन अख्तर इसके लिए तैयार नहीं हुए। वहां मौजूद लड़कों ने भी रिक्शा आगे ले जाने का दबाव बनाया तो उन्होंने रिक्शा छोड़ दिया। ढाल होने से रिक्शा पीछे हटकर नाली में चला गया, जिससे बुआ-भतीजी सड़क पर गिर गईं। इस पर गुस्साए युवकों ने अख्तर को पीट दिया। इसके दूसरा मुद्दा बनाकर लोगों ने पहले चौकी और फिर कोतवाली में हंगामा किया। अख्तर की तरफ से बिहारीपुर सिविल लाइन निवसी शीतल सुरेश, दीपक गोपाल और 10-12 अज्ञात लोगों पर रिपोर्ट लिखा दी। कोतवाल वीरेंद्र सिंह यादव के मुताबिक, छानबीन में मामूली मारपीट की बात सामने आई है। आज देर शाम तक दोनों पक्षों में समझौते की बात चलती रही।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018