दधिकांधौ पर पाबंदी के खिलाफ जाम

Bareilly Updated Wed, 08 Aug 2012 12:00 PM IST
बरेली। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अगले दिन निकलने वाली दधिकांधौ शोभायात्रा पर प्रशासन की पाबंदी के खिलाफ मंगलवार को लोग भड़क उठे। सैकड़ों की भीड़ ने कालीबाड़ी रोड पर जाम लगा दिया और प्रशासन के साथ कैंट भाजपा विधायक राजेश अग्रवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। गुस्साए लोगों ने बाजार बंद कराने की भी कोशिश की, लेकिन पुलिस ने डंडे चलाकर उन्हें खदेड़ दिया। हालांकि लोगों में गुस्सा देखते हुए शाम को कई शर्तों के साथ प्रशासन ने दधिकांधौ शोभायात्रा निकालने की इजाजत दे दी।
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अगले दिन कटरा चांद खां से हर साल दधिकांधौ शोभायात्रा निकाली जाती है। रविवार को इस शोभायात्रा को लेकर प्रशासन के अफसरों और इसका आयोजन करने वाली चंद्रनगर धार्मिक समिति पदाधिकारियों के बीच बातचीत हुई थी, जिसमें तय हुआ था कि शोभायात्रा में इस बार डीजे का इस्तेमाल नहीं होगा, न भाला-तलवार आदि का प्रदर्शन होगा। मगर सोमवार को प्रशासन रविवार को हुई बातचीत से मुकर गया। अफसरों ने आयोजन समिति के पदाधिकारियों को थाना बारादरी बुलाया और डीजे-लाउडस्पीकर, अखाड़ों और माइक पर भजन-कीर्तन करने पर प्रतिबंध लगाए जाने का फरमान सुना दिया। समिति के पदाधिकारियों को यह शपथ पत्र भी देने को कहा गया कि वे इन शर्तों का उल्लंघन नहीं करेंगे। समिति ने प्रशासन की यह शर्त मानने से साफ इनकार कर दिया।
शोभायात्रा पर पाबंदियों के खिलाफ लोगों में गुस्सा फैल गया। मंगलवार सुबह तमाम लोग कटरा चांद खां स्थित सीताराम मंदिर में जमा हो गए। करीब 11 बजे चंद्रनगर धार्मिक समिति के पदाधिकारी इस बारे में विधायक राजेश अग्रवाल से बातचीत करने कालीबाड़ी स्थित उनके आवास पर पहुंचे तो पीछे-पीछे यह भीड़ भी वहां जा पहुंची। कुछ लोगों ने इसी दौरान राजेश अग्रवाल के कार्यालय में घुसने की कोशिश की। वहां मौजूद लोगों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनका गुस्सा और भड़क गया। उन्होंने विधायक के आवास के सामने ही सड़क पर जाम लगा दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। कालीबाड़ी के भी तमाम लोग इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हो गए। हंगामे के बीच कुछ लोगों ने दुकानें भी बंद करानी शुरू कर दीं। इसी बीच यहां पहुंची बारादरी पुलिस ने डंडे फटकारकर लोगों को खदेड़ दिया। लोग भाग तो गए, लेकिन कुछ देर बाद दोबारा सड़क पर इकट्ठे हो गए।
हालात नाजुक होते देख चंद्रनगर धार्मिक समिति के महामंत्री दिनेश दद्दा और राजेश अग्रवाल के प्रतिनिधि राकेश ने पुलिस को लाठीचार्ज करने से रोका। इस बीच राजेश अग्रवाल ने भी फोन पर कमिश्नर के राममोहन राव से बात कर उन्हें हालात के बारे में बताया। कमिश्नर ने इस मसले पर कोई फैसला करने के लिए शाम चार बजे तक का वक्त मांगा। राजेश अग्रवाल ने इसके बाद हंगामा कर रहे लोगों से भी बात की और उन्हें शाम तक इंतजार करने को कहा। शाम को प्रशासन ने फिर चंद्रनगर धार्मिक समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक की और शोभायात्रा निकालने की अनुमति दे दी। हालांकि कुछ प्रतिबंध भी लगाए हैं।

-----------

देना होगा शपथपत्र, रूट का नक्शा भी
रेली। दधिकांधौ शोभायात्रा की आयोजक चंद्रनगर धार्मिक समिति को शोभायात्रा के पूरे रूट का नक्शा प्रशासन को शपथपत्र के साथ देना होगा। डीजे का इस्तेमाल नहीं होगा, न ही भाले और तलवार का प्रदर्शन। डांडिया खेलने वालों की संख्या को भी स्पष्ट करना होगा। लाउडस्पीकर रहेंगे, लेकिन इनकी संख्या सीमित रहेगी। प्रशासन और आयोजन समिति की बैठक में यह सब तय हुआ। इस बैठक में एडीएम (सिटी), एडीएम (ई) और एडीएम (एफआर) के साथ आयोजन समिति के दिनेश कुमार गुप्ता, उदय प्रकाश गुप्ता आदि मौजूद थे। समिति के महामंत्री दिनेश दद्दा ने बताया कि शोभायात्रा परंपरागत अखाड़े के साथ निकलेगी। प्रशासन ने इसमें लाठियां और लाउडस्पीकर शामिल करने की अनुमति दे दी है। एडीएम सिटी देवेंद्र दीक्षित ने बताया कि कुछ प्रतिबंधों के साथ जुलूस निकलेगा। मगर डांडिया खेलने वालों की संख्या बतानी होगी, साथ लाउडस्पीकर भी सीमित संख्या में ही रहेंगे।

-------------

बिना इजाजत नहीं बजेगा डीजे और बैंड
बरेली। प्रशासन ने अब सड़क पर डीजे बजाने को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया है। पुलिस ने डीजे और बैंड संचालकों को धारा 30 (1) पुलिस एक्ट 1881 के तहत नोटिस जारी किया है। इसमें कहा गया है कि किसी कार्यक्रम में डीजे या बैंड भेजने से पहले संबंधित थाने को सूचना दी जाएगी। यदि इस पाबंदी का पालन नहीं किया गया तो दोषी व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एसपी सिटी शिवसागर सिंह ने बताया कि शहर में शांति का माहौल स्थापित करने के लिए यह कदम उठाया गया है।
---------
रात में लाउडस्पीकर बजाने पर पाबंदी लगे
बरेली। हिंदू जागरण एकता समिति ने आईजी और डीएम को ज्ञापन देकर रात में लाउडस्पीकर का प्रयोग किए जाने की शिकायत की है। समिति के प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का स्पष्ट आदेश है कि लाउडस्पीकर का रात दस बजे के बाद प्रयोग वर्जित होगा, मगर इसके बावजूद शहर में रात को लाउडस्पीकर बजाए जा रहे हैं। प्रतिनिधिमंडल में नरेंद्र पाल, मनोज सक्सेना, राकेश सक्सेना, वीनू बहल, मनोज रस्तोगी, अभय भटनागर, शैलेंद्र सिंह, शोभित सक्सेना आदि शामिल थे। जुलूस की शक्ल में कलेक्ट्रेट पहुंचे शिवसैनिकों ने भी इस बावत डीएम को ज्ञापन दिया। उन्होंने कांवरियों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने, उनसे जब्त किए गए डीजे बिना शर्त लौटाने, शहर में उपद्रव के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की।

Spotlight

Most Read

Lucknow

भयंकर हादसे के शिकार युवक ने योगी से लगाई मदद की गुहार, सीएम ने ट्विटर पर ये दिया जवाब

दुर्घटना में रीढ़ की हड्डी टूटने से लकवा के शिकार युवक आशीष तिवारी की गुहार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुनी ली। योगी ने खुद ट्वीट कर उसे मदद का भरोसा दिलाया और जिला प्रशासन को निर्देश दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

शाहजहांपुर के अटसलिया गांव में नहीं हो रही लड़कों की शादी, ये है वजह

केंद्र सरकार खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर जिले में एक गांव ऐसा है जहां महिलाओं को आज भी खुले में शौच जाना पड़ता है।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper