विज्ञापन
विज्ञापन

इस्कान मंदिर का निर्माण फॉर्मेट के अनुरूप नहीं

Bareilly Updated Fri, 15 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें

विज्ञापन
विज्ञापन
गवर्निंग बॉडी काउंसिल ने एतराज जताया

फॉर्मेट के अनुरूप ही निर्माण कराने का निर्देश
एक साल देर से पूरा हो पाएगा मंदिर निर्माण

सिटी रिपोर्टर
बरेली। शहर में बन रहे इस्कान मंदिर का निर्माण पूरा होने में देर हो सकती है। इस्कान के फॉर्मेट के अनुरूप निर्माण न होने पर उसकी गवर्निंग बॉडी काउंसिल ने एतराज जताया है। दरअसल इस्कान के बरेली प्रोजेक्ट के कोऑर्डिनेटर शौनक ऋषि दास के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम ने पिछले दिनों साइट पर पहुंचकर निरीक्षण किया था। उन्होंने निर्माण को फॉर्मेट के अनुरूप नहीं माना। स्थानीय कार्य समिति को फॉर्मेट के मुताबिक ही निर्माण कराने का निर्देश दिया गया है।
पिछले साल उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने भूमि पूजन कर इस्कान मंदिर का शिलान्यास किया था। यह मंदिर सन् 2014 तक बनाया जाना था। साल भर गुजरने के बाद इस्कान की टीम यहां पहुंची तो पाया कि मंदिर का निर्माण तय दिशा-निर्देशों के अनुरूप नहीं हो रहा है। दरअसल इस्कान समूह के मंदिर जहां भी बनाए जाते हैं, वहां उनके लिए दिशा-निर्देश तय होते हैं। उस पर खर्च होने वाले बजट में आम लोगों की हिस्सेदारी होती है, लेकिन अभी तक हुए निर्माण कार्य में लोगों से कोई सहायता नहीं ली गई। टीम ने इस पर एतराज जताया।

‘इस्कान की ओर से किसी फॉमेट या दिशा-निर्देशों के संबंध में बात नहीं हुई है। उनकी टीम आई थी, लेकिन उनका मकसद हरिनाम यात्रा निकालने की योजना बनाना था। निकाय चुनावों के चलते यह अनुमति नहीं मिल सकी। मंदिर निर्माण में हम लोगों का सहयोग लेंगे और इसे 2015 तक पूरा कर लेंगे। अभी हम शिक्षण केंद्र, गौशाला और आध्यात्मिक केेंद्र बना रहे हैं। इसके बाद अंत में मुख्य मंदिर बनाने की बारी आएगी। हम इस्कान से मशविरा लेते रहते हैं।’ -गिरधर गोपाल खंडेलवाल, चेयरमैन केसीएमटी समूह

‘इस्कान के भक्तों द्वारा प्रमोट बरेली मंदिर प्रोजेक्ट को फॉर्मेट में लाने की कोशिश की जा रही है। हमने उन्हें मंदिर के फॉर्मेट की जानकारी दे दी है। फॉर्मेट में आने के बाद निर्माण कार्य में तेजी आएगी। इस फॉर्मेट का महत्वपूर्ण हिस्सा लोगों की भागीदारी भी है।’ शौनक ऋषिदास, बरेली प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर, इस्कान, नई दिल्ली


21 जून को निकलेगी रथयात्रा
मंदिर परिसर में 21 जून को रथयात्रा निकाली जाएगी। यह जानकारी देते हुए मंदिर की हरिनाम कमेटी के वरिष्ठ सदस्य डॉ. त्रिवेणी दत्त ने बताया कि राधा कृष्ण की रथयात्रा निकाली जाएगी। मंदिर परिसर में ही यात्रा का आयोजन किया जाएगा।

Recommended

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
UP Board 2019

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान
ज्योतिष समाधान

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
लोकसभा चुनाव - किस सीट पर बदले समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पड़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

मोदी से पहले अखिलेश और मायावती देवचरा में करेंगे जनसभा, यह रहा पूरा प्लान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा से एक दिन पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा अध्यक्ष मायावती 19 अप्रैल को देवचरा में संयुक्त रूप से सभा करेंगे।

18 अप्रैल 2019

विज्ञापन

बुलंदशहर से भाजपा प्रत्याशी भोला सिंह पर चुनाव आयोग सख्त, नोटिस जारी करके मांगा जवाब

बुलंदशहर से भाजपा प्रत्याशी डॉ भोला सिंह को बूथ के अंदर जाकर वोट मांगना भारी पड़ गया। भाजपा प्रत्याशी के बूथ के अंदर जाकर वोट मांगने के कुछ वीडियो वायरल हो रहे थे। जिसके बाद उन्हे नोटिस जारी करके जवाब मांगा गया है।

18 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election