न डॉ. तोमर को मिला रिक्शा, न रजनी को

Bareilly Updated Wed, 13 Jun 2012 12:00 PM IST
लाटरी से हुआ चार उम्मीदवारों के दावे का फैसला, ऊषा अग्रवाल के हाथ लगी बाजी


डॉ. तोमर को मिली ‘जीप’, रजनी को ‘सितारा’
अमजद और गुलशन को पार्टी के चुनाव चिह्न

सिटी रिपोर्टर
बरेली। रिक्शे पर डॉ. आईएस तोमर का दांव लग पाया, न रजनी शर्मा का। प्रशासन ने लॉटरी निकाली तो किस्मत की यह बाजी ऊषा अग्रवाल के हाथ लगी। दरअसल, चुनाव चिह्न के तौर पर रिक्शे को चार प्रत्याशियों ने पहली वरीयता दी थी। यह अलग बात है कि डॉ. तोमर और रजनी शर्मा दोनों इसे साइकिल के विकल्प के तौर पर देख रहे थे। डॉ. तोमर को ‘जीप’ मिली है, जबकि रजनी शर्मा का चुनाव चिह्न ‘सितारा’ होगा। हालांकि इससे पहले रजनी शर्मा के समर्थकों ने ‘स्कूटर’ हासिल करने की भी कोशिश की, लेकिन इसमें निर्वाचन आयोग के प्रावधान आड़े आ गए। भाजपा के गुलशन आनंद और कांग्रेस के अमजद सलीम को पार्टी के चुनाव चिह्न मिले।
डॉ. तोमर और रजनी शर्मा दोनों की ख्वाहिश समाजवादी पार्टी के चुनाव चिह्न साइकिल पर चुनाव लड़ने की थी, लेकिन सपा ने इस चुनाव में किसी को समर्थन न देने के फैसले से यह ख्वाहिश पूरी नहीं हो सकी। इसके बाद ही दोनों उम्मीदवारों ने साइकिल के विकल्प के तौर पर रिक्शे को चुनाव चिह्न के तौर पर पहली पसंद के तौर पर भरा था। इसके अलावा मेयर पद के निर्दलीय प्रत्याशी शलभ पथिक और ऊषा अग्रवाल ने भी इसी चुनाव चिह्न को पहली वरीयता दी थी। इसी वजह से मंगलवार को अर्बन हाट में चुनाव चिह्न आवंटन के दौरान अफसरों को लॉटरी डालकर फैसला करना पड़ा। आरओ और एडीएम एके उपाध्याय ने चारों उम्मीदवारों की मौजूदगी में लाटरी निकलवाई, जिसमें ‘रिक्शा’ ऊषा अग्रवाल के हाथ लगा। डॉ. तोमर को ‘जीप’ और शलभ पथिक को उनकी दूसरी पसंद का चुनाव चिह्न ‘शंख’ आवंटित किया गया। रजनी शर्मा की दूसरी पसंद ‘स्कूटर’ थी, लेकिन भाग्य ने यहां भी उनका साथ नहीं दिया। ‘स्कूटर’ को पहली पसंद के रूप में क्योंकि सैयद राशिद अली ने भर रखा था। अर्बन हाट में मौजूद रजनी शर्मा के पति डॉ. अनिल शर्मा ने राशिद अली को मनाया तो वह ‘स्कूटर’ से अपना दावा छोड़ने को तैयार हो गए, लेकिन अफसरों ने निर्वाचन आयोग के प्रावधानों का हवाला देते हुए राशिद अली की पहली वरीयता का चुनाव चिह्न रजनी शर्मा को देने से इनकार कर दिया। पसोपेश में फंसे डॉ. अनिल शर्मा ने पहले समर्थकों और फिर रजनी शर्मा से फोन पर बात की। आखिर में ‘सितारा’ चुनाव चिह्न पर सबकी सहमति बनी। यह चुनाव चिह्न रजनी शर्मा को मिल गया।

बाकी में किसी को कड़ाही, किसी को हंसिया
बाकी प्रत्याशियों में से चंद्रभोज पाठक को क्रेन, नंदकिशोर शर्मा को ईंट, देवेंद्र पाल को रेल का इंजन, इरशाद अली को हेलीकॉप्टर, मो. फरहत को चकला बेलन, महताब सिंह निर्भय को वायुयान, सैयद राशिद अली स्कूटर, पप्पू शर्मा को सैनिक चुनाव चिन्ह आवंटित किया गया। कमल किशोर को कुंआ, रामनिवास आर्य को लड़का-लड़की, राजेंद्र को कड़ाही, भाकपा के मो. उल्ला खां को हंसिया-बाली और इकबाल को छत का पंखा चुनाव चिन्ह मिला।

Spotlight

Most Read

National

राजनाथ: अब ताकतवर देश के रूप में देखा जा रहा है भारत

राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से नया आयाम मिला है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के दो दिन तक बंधक बनाकर किया गैंगरेप

यूपी में जहां एक तरफ अपराधियों पर नकेल कसने के लिए ताबड़तोड़ मुठभेड़ हो रही हैं। वहीं दूसरी तरफ महिलाओं से गैंगरेप की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला शाहजहांपुर का है।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper