विज्ञापन

मौसम के बदले मिलाज ने किसानों को किया परेशान

pawan chandra पवन चंद्रा Updated Thu, 14 Feb 2019 05:46 PM IST
ख़बर सुनें
लखीमपुर खीरी। मौसम ने एक बार फिर तीखे तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। बृहस्पतिवार को सुबह से ही आसमान में घने बादल छाए रहे। इससे दिन भर सूरज नहीं निकला। दोपहर तक कई बार बूंदाबांदी हुई और दोपहर बाद तेज हवा के साथ बारिश हुई। मोहम्मदी और अमीरनगर समेत कई जगहों पर ओले भी गिरे। तेज हवा के साथ बारिश होने और ओले गिरने से तापमान में गिरावट आई है। दिन भर मौसम खराब रहने से आम जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। मौसम के बदले मिजाज को देखकर किसानों के चेहरों पर हवाइयां उड़ने लगी हैं। वे फसलों के नुकसान से आहत हैं। सुबह से लेकर शाम पांच बजे से 2.2 मिमी वर्षा रिकार्ड हुई।
विज्ञापन
विज्ञापन
बृहस्पतिवार को सुबह से ही आसमान में घने बादल छाए रहे। इसके चलते महज कुछ समय के लिए ही सूरज निकला। इसके बाद दिन भर सूरज बादलों की ओट में छिपा रहा। दोपहर 10 बजे के बाद बादलों की गरज और चमक के साथ कई बार बूंदाबांदी हुई। जबकि दोपहर बाद तेज हवा के साथ बारिश भी हुई। कई जगह ओले भी गिरे जिससे फसलों को नुकसान हुआ। इससे तापमान में गिरावट आई और ठंड बढ़ गई। मौसम के बदले मिजाज से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया।
बृहस्पतिवार को मौसम खराब रहने से बाजार और सड़कों पर सन्नाटा पसरा दिखा। पिछले दिनों जिले में हुई बरसात और ओले गिरने से फसलों को भारी क्षति हुई थी। इस बार मौसम के बिगड़ते तेवर देखकर किसान हलकान हैं। उन्हें और ओले गिरने का डर सता रहा है। इस समय सरसों की फसल तैयार होने को है ओले गिरने से सरसों का फूल झड़ जाएगा और सरसों के उत्पादन में कमी आ सकती है। इसी तरह आलू, टमाटर, मटर और मसूर की फसलों को भी नुकसान हुआ है।
कृषि वैज्ञानिकों का कहना है कि यदि सामान्य वर्षा होती है तो फसलों को फायदा होगा लेकिन ओले गिरने और तेज हवा के साथ बारिश होने से फसल को नुकसान हो सकता है। पिछली बार जिले में कुछ जगहों पर ओले गिरने से फसलों को आंशिक नुकसान हुआ था। इस बार मौसम के बदले रुख से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें दिखने लगी हैं।
बृहस्पतिवार को लखीमपुर शहर समेत, फूलबेहड़, शारदानगर, निघासन, सिंगाही बेलरायां, तिकुनिया, ईसानगर, पलिया, बिजुआ, भीरा, गोला, ममरी, अमीरनगर, मोहम्मदी, बरवर, कस्ता, मितौली, बेहजम, नीमगांव, मैगलगंज समेत जिले की लगभग सभी जगहों पर सुबह से बादल छाए रहे और दिन भर बूंदाबांदी और बारिश का सिलसिला जारी रहा।
मैलानी। बृहस्पतिवार को मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया। दोपहर बाद घने बादल छा गए और दो बजे से शुरू हुई बारिश एक घंटे तक होती रही। छुट्टी के समय बारिश होने से स्कूली बच्चे भीगते हुए घर पहुंचे तो रिक्शेवालों ने बारिश से बचने के लिए पॉलिथीन लगाकर बच्चों को घर पहुंचाया।
बांकेगंज। बृहस्पतिवार दोपहर अचानक आसमान में छाए काले बादलों के बाद बारिश शुरू हो गई। बादलों की गड़गड़ाहट और हवाओं के साथ रुक-रुक हुई बारिश से जगह-जगह जलभराव हो गया। बारिश से जहां एक तरफ गेहूं और गन्ने की फसल को फायदा पहुंचा है तो दूसरी तरफ हवाओं के चलने से खेतों में पककर तैयार खड़ी लाही और मसूर की फसलों को नुकसान पहुंचा है। वहीं बादलों की गड़गड़ाहट के बीच बिजली चमकने पर ओले गिरने की संभावना के चलते किसानों के चेहरे मुर्झाने लगे हैं।
धौरहरा। बृहस्पतिवार दोपहर बाद मौसम में आए अचानक बदलाव के चलते तेज हवाएं चली और रिमझिम बारिश हुई जिससे पूरे इलाके में ठंड बढ़ गई है।

Recommended

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से
ज्योतिष समाधान

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का-  यहाँ register करें-
Register Now

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का- यहाँ register करें-

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

किशोरी पर तेजाब फेंकने का आरोपी गिरफ्तार, ट्रैक्टर की बैटरी से निकालकर लाया था एसिड

थाना पसगवां पुलिस ने शुक्रवार को किशोरी पर तेजाब फेंकने के आरोपी शैलेंद्र कुशवाहा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि आरोपी ने तेजाब अपने ट्रैक्टर की बैटरी से निकाला था।

22 फरवरी 2019

विज्ञापन

कुंभ के प्रचार प्रसार के लिए भारत आए 187 देशों के डेलिगेट्स, कुंभ में हुआ भव्य स्वागत

प्रयागराज वैश्विक स्तर पर कुम्भ मेले का प्रचार प्रसार करने के लिए प्रयागराज कुम्भ में 187 देशों के 189 विदेशी मेहमान पहुंचे। जहां इन मेहमानों का भव्य स्वागत किया गया।

22 फरवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree