लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Barabanki News ›   two death from dengue

डेंगू से दो और की सांसें थमीं, 26 मिले पीड़ित

Lucknow Bureau लखनऊ ब्यूरो
Updated Sat, 12 Nov 2022 08:00 AM IST
two death from dengue
विज्ञापन
बाराबंकी। डेंगू का कहर जारी है। इस बुखार की चपेट में आकर शुक्रवार को दो और लोगों की मौत हो गई। जबकि पीड़ित पाए गए 26 लोगों को परिजनों ने अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया है। इस तरह से जिले में अब तक डेंगू से 17 लोगों की मौत हो चुकी है। परन्तु विभाग सिर्फ उन्हीं को डेंगू मान रहा है जिनकी एलाइजा जांच में डेंगू की पुष्टि हो रही है। उधर डेंगू की दहशत इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि अस्पताल से लेकर पैथालॉजी तक मरीजों की लाइन लग रही है।

हैदरगढ़ प्रतिनिधि के अनुसार, क्षेत्र के गौतमनपुरवा मजरे रौनी गांव के कन्हैयालाल (38) की लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतक के भाई रामसजीवन ने बताया कि बुखार से पीड़ित होने पर चार दिन सीएचसी त्रिवेदीगंज पर दिखाया गया था। हालत बिगड़ने पर लखनऊ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

वहां पर चिकित्सकों द्वारा कराई गई जांच में डेंगू होने की जानकारी मिली। शुक्रवार को इलाज के दौरान मौत हुई है। इसके अलावा विकास भवन स्थित कृषि विभाग में तैनात कर्मचारी अभिषेक की भी इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने बताया कि हालत बिगड़ने पर लखनऊ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया था वहां चिकित्सकों ने डेंगू होने की बात कही थी।
इसके अलावा कस्बा के मोहल्ला कुरैशी के सभासद अयूब कुरैशी, इनकी पत्नी समरजहां कुरैशी, मेराज राईन, हसीब राईन, नाजिमा इनकी पुत्री खुशबू, कलीम, घोसियाना के जहीर, रज्जाक, मो. वकील, कोठी के रफीक, बुढनापुर के अभय, रनापुर के राहुल शुक्ला समेत कई अन्य लोग डेंगू से पीड़ित होकर गोसाईगंज से लखनऊ तक निजी अस्पताल में इलाज करा रहे हैं।
इसके अलावा लखपेड़ाबाग के लक्ष्मणपुरी निवासी गौरी, राकेश, गिरधारी, महेश और बीजेमऊ के पवन सिंह, सेठमऊ खातून बानो समेत 26 लोग डेंगू और बुखार जैसे लक्षणों से पीड़ित हैं। जिन्हें परिजनों ने अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया है। सीएमओ डॉ. अवधेश कुमार का कहना है कि जांच के लिए टीमें भेजी जाएगी। जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
न फॉगिंग हो रही न ही दवा का छिड़काव
एसडीएम हैदरगढ सुमित महाजन ने कार्यभार संभालते ही नगर का भ्रमण कर सफाई व दवा का छिड़काव नियमित कराने के निर्देश दिए हैं लेकिन अधिशासी अधिकारी की लंबी छुट्टी व जिम्मेदार कर्मियों की लापरवाही से एक दिन बाद भी सुधार दिखाई नहीं दिया। सभासद अयूब ने बताया घोसियाना मोहल्ले में सभी परिवार बुखार से पीड़ित हैं। इनमें कई लोगों में डेंगू व मलेरिया की पुष्टि हुई है। इसके बाद भी न तो फॉगिंग कराई जा रही है और न ही छिड़काव कराया जा रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00