आपूर्ति विभाग ने डकारी 503 मीट्रिक टन चीनी

Barabanki Updated Fri, 24 Jan 2014 05:46 AM IST
बाराबंकी। जिले का आपूर्ति और विपणन महकमा बीते नवंबर व दिसंबर माह में गरीबों के हक की करीब पांच सौ मीट्रिक टन चीनी डकार गया है। मामला प्रकाश में आने के बाद कोटेदारों से लेकर विभागीय अधिकारियों मेें हड़कंप मचा है। मामला गले की हड्डी न बन जाए इससे पहले ही इसका वितरण कागजों पर दिखाने की तैयारी जोरों पर शुरू हो गई है।
जिले में करीब पौने तीन लाख बीपीएल व अंत्योदय कार्डधारक हैं। इन्हें जनवरी में चीनी का एक भी दाना नहीं दिया गया। पीसीएफ के क्षेत्रीय प्रबंधक फैजाबाद का कहना है कि बाराबंकी को नवंबर में 531 एमटी और दिसंबर में 992 एमटी मिलाकर कुल 1523 एमटी चीनी दी गई है। वहीं, विपणन शाखा का कहना है कि नवंबर में 503 और दिसंबर में 517 मिलाकर कुल 1020 एमटी चीनी मिली है। जिसका उठान की तिथि पर कोटेदारों में वितरण करा दिया है। अब सवाल ये है कि 503 एमटी चीनी कहां चली गई? हिसाब-किताब किसी के पास नहीं है और ये चीनी कागजों पर ही बांट दी गई है। जबकि कार्डधारकों का कहना है कि जनवरी में उन्हें चीनी का एक भी दाना कोटेदारों द्वारा नहीं दिया गया। ऐसे में जो कोटेदारों ने चीनी का उठान किया वो भी कार्ड धारकों तक नहीं पहुंचा। कार्ड धारकों का आरोप है कि कोटेदारों ने चीनी की उठान की और विभागीय अधिकारियाें की मिलीभगत से उसे खुले बाजार में बेच दिया है।
वहीं, कोटेदारों का कहना है कि दिसंबर में चीनी देने की बात विभाग ने करते हुए पैसा भी जमा कराया था। मगर जब उठान का समय आया तो ये कहा गया कि चीनी अभी नहीं आई है जब आएगी तो उठान कराया जाएगा। इसी वजह से जनवरी में चीनी का वितरण नहीं किया जा सका। कोटेदारों का कहना है कि दिसंबर का पैसा समायोजित किए बिना ही जनवरी में फिर चीनी के मद में लाखाें रुपये जमा कराए जा रहे हैं।
कागजों पर की हेराफेरी ः दोनों विभागों के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो नवंबर में करीब 28 एमटी और दिसंबर में 475 एमटी मिलाकर दो महीने में कुल 503 एमटी चीनी की कागजों में हेराफेरी की गई है। ये चीनी कहां गई? इसका जवाब किसी के पास नहीं है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू यादव को तीसरे केस में 5 साल की सजा, कोर्ट ने 10 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बाराबंकी में 14 मौतों पर बीजेपी सांसद से जवाब देते नहीं बना

बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत पर शनिवार को बीजेपी सासंद प्रियंका रावत ने मीडिया से बात की। बीजेपी सांसद ने कहा कि गुमराह करनेवाले अफसरों को बक्शा नहीं जाएगा।

14 जनवरी 2018