देवा महोत्सव की रंगारंग शुरुआत

Barabanki Updated Thu, 01 Nov 2012 12:00 PM IST
देवां (बाराबंकी)। कौमी एकता, शांति व सद्भाव के प्रतीक हाजी वारिस अली शाह की मजार पर लगने वाले मेले का बुधवार शाम आगाज हो गया। इसका उद्घाटन जिलाधिकारी ने शेख मोहम्मद हसन गेट पर फीता काटकर किया। इसके बाद उन्होेंने शांति के प्रतीक कबूतर उड़ाकर गंगा-जमुनी परंपरा के इस महोत्सव का पारंपरिक भ्रमण किया। पीएसी बैंड की मधुर धुन व ढोल की थापाें के बीच कदमताल करते विशिष्ट अतिथि इस ऐतिहासिक पल के गवाह बने। इस दौरान रोशनी से जगमगाती मजार, सजी दुकानाें और रंगारंग प्रस्तुतियों ने हर किसी को मंत्रमुग्ध कर दिया।
ग्यारह दिन तक अपनी विविध कलाओं की छटा बिखेरने वाले देवां महोत्सव का बुधवार को भव्य शुभारंभ सायं 5:10 बजे जिलाधिकारी मिनिस्ती एस. ने फीता काटकर किया। उनके साथ एसपी सैय्यद वसीम अहमद, एडीएम जेपी सिंह, सीडीओ विजय किरन आनंद, मेला समिति के संयुक्त सचिव अताउर्रहमान किदवई व अन्य सदस्य भी मौजूद रहे। समारोह स्थल पर गेरुवा रंग में रंगी धरती और लकदक करते शेख मोहम्मद हसन द्वार पर डीएम व मेला समिति की अध्यक्ष मिनिस्ती एस. की गाड़ी रुकी तो पीएसी बैंड की धुन बजने लगी। इसके बाद अन्य विशिष्ट अतिथियों व मेहमानों की मौजूदगी मेें जैसे ही डीएम ने फीता काटा पूरा समारोह स्थल तालियों से गूंज उठा। इसके बाद डीएम ने शांति के प्रतीक कबूतर और गुब्बारे उड़ाए। इसी के साथ मेले का विधिवत शुभारंभ हो गया। फिर पूरा प्रशासनिक अमला निर्धारित मार्ग पर गाजे-बाजे की धुन पर कदमताल करता हुआ मेला समिति के कार्यालय पहुंचा। इसके बाद सब लोग आडीटोरियम पहुुंचे और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का लुत्फ उठाया। इस मौके पर एएसपी ओपी सिंह, एसडीएम अनिल कुमार सिंह, एसडीएम सदर सुनील चौधरी, सीओ दीपेंद्र चौधरी आदि लोग मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बाराबंकी में 14 मौतों पर बीजेपी सांसद से जवाब देते नहीं बना

बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत पर शनिवार को बीजेपी सासंद प्रियंका रावत ने मीडिया से बात की। बीजेपी सांसद ने कहा कि गुमराह करनेवाले अफसरों को बक्शा नहीं जाएगा।

14 जनवरी 2018