बर्खास्तगी के बाद भी ग्राम विकास अधिकारी को दे दी तैनाती

Barabanki Updated Tue, 25 Sep 2012 12:00 PM IST
बाराबंकी। नौकरी से निकाले जाने के बाद एक कर्मचारी ने उच्चाधिकारियों को गुमराह कर फिर से अपने को नियमित कर्मचारी बताकर गैर जनपद के लिए शासन स्तर से तबादला भी करा लिया। अधिकारियों की उदासीनता का आलम यह रहा कि बगैर रिलीव आर्डर के ही आनन-फानन उसे जॉइन भी करा दिया। मामले का खुलासा होने पर शासन को तुंरत अपनी गलती को छिपाने के लिए तबादले का आदेश निरस्त कर कर्मचारी को हटाने के निर्देश देने पड़े। यह खेल ग्राम्य विकास विभाग के बर्खास्त ग्राम विकास अधिकारी ने खेला।
गौरतलब है कि जिला विकास अधिकारी के अधीन ग्राम विकास अधिकारी सुशील कुमार गुप्ता की तैनाती बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ विकास खंड में थी। अपनी सेवा काल के दौरान कई बार बिना छुट्टी के ही गायब रहने का तरीका वीडीओ ने अपना लिया था। कई बार निलंबन की कार्रवाई से गुजरने के बाद भी कर्मचारी सुशील कुमार पर कोई असर नहीं पड़ा। नौकरी को खिलवाड़ समझकर बगैर अधिकारियों की अनुमति से कई वर्षों से गायब रहने वाले वीडीओ की तलाश जिला विकास अधिकारी डॉ. एसएफएच रिजवी ने शुरू कराई। कई बार कर्मचारी के मूल गृह जनपद सीतापुर के पते पर पत्राचार भी किया गया। इसके बाद भी कोई जवाब न मिलने पर बर्खास्तगी की पत्रावली विभाग की अनुमति से बनने लगी। 25 जुलाई 2012 को डीडीओ ने ग्राम विकास अधिकारी सुशील कुमार गुप्ता को सेवा से हटाने का आदेश जारी कर दिया। सेवा समाप्ति के आदेश को रिसीव न करने पर डीडीओ के निर्देश पर हैदरगढ़ बीडीओ ने 18 अगस्त को तीन सदस्यीय टीम गठित की। 23 अगस्त को टीम ने कर्मचारी के मूल गृह जनपद सीतापुर सिविल लाइंस के आवास पर नोटिस भी चस्पा की। इस कार्रवाई के बाद कर्मचारी ने साजिश रचकर शासन स्तर से जुगाड़ लगाकर ग्राम्य विकास विभाग से बाराबंकी से सीतापुर जनपद के लिए अपना तबादला भी करा लिया।
ग्राम्य विकास विभाग के अपर आयुक्त प्रशासन द्वारा पंत्राक संख्या-एम-77/स्था.-2/ ग्रा.वि.अ./ स्थाना./ 2012 दिनांक 18 सितंबर 2012 को उसके स्थानांतरण का आदेश हुआ। इसी आदेश के क्रम में बर्खास्त कर्मचारी ने 20 सिंतबर को ही सीतापुर जनपद में अपनी आमद भी करा दी। सीतापुर डीडीओ ने बाराबंकी डीडीओ के बगैर रिलीव आर्डर के उसे जॉइन भी करा दिया। आदेश की प्रतिलिपि बाराबंकी डीडीओ को मिलने पर विभाग में हड़कंप मच गया। बर्खास्त कर्मचारी के तबादले की गूंज शासन स्तर पर पहुंचने से विभाग में अफरातफरी मच गई। अपनी कमियों का छिपाने के लिए आनन-फानन डैमेज कंट्रोल के लिए अधिकारी जुट गए हैं और तबादले का आदेश निरस्त करने की प्रक्रिया अमल में लाई गई।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

बाराबंकी में 14 मौतों पर बीजेपी सांसद से जवाब देते नहीं बना

बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत पर शनिवार को बीजेपी सासंद प्रियंका रावत ने मीडिया से बात की। बीजेपी सांसद ने कहा कि गुमराह करनेवाले अफसरों को बक्शा नहीं जाएगा।

14 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper