मंदिरों से चौराहों तक नागपंचमी की रौनक

Barabanki Updated Tue, 24 Jul 2012 12:00 PM IST
बाराबंकी। मेला, झूला और बम-बम भोले के उद्घोष के साथ सोमवार को जिले भर में नागपंचमी धूमधाम से मनाई गई। घराें व मंदिराें में पूजापाठ हुआ तो शाम को बच्चों ने चौराहों पर गुड़िया पीटने की परंपरा का निर्वहन किया। मंजीठा स्थित नागदेवता मंदिर व देवां के खागलदेव मंदिर में भक्ताें की भीड़ रही। जिले में कई जगह पर दंगल का आयोजन कर दांव भी लगाए गए। शहरी क्षेत्र में सोमवार सुबह परंपरागत ढंग से पूजापाठ के बाद घराें में प्रसाद के रूप में चने की घुघरी बनाई गई। नागपंचमी पर मंदिराें में भी पूजा होती रही और नाग देवता को दूध चढ़ाया गया। शहर के शिवमंदिराें में पूरे दिन भक्ताें की भीड़ रही। वहीं मंजीठा स्थित नाग देवता मंदिर में भक्ताें ने मिट्टी के बर्तन में दूध व चावल बांबी पर चढ़ाकर मनोकामना पूर्ति की प्रार्थना की। मंदिर के पास मेले में भी रात तक रौनक रही। सिरौलीगौसपुर प्रतिनिधि के अनुसार नागपंचमी को क्षेत्र के मंदिरों में भीड़ रही। शाम को चौराहों पर बच्चों ने गुड़िया पीटी। क्षेत्र के कई स्थानों पर दंगल भी हुआ। बदोसरांय में आयोजित दंगल देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जुटी। देवां प्रतिनिधि के अनुसार कुसुंभा स्थित विषहरण बाबा खागलदेव मंदिर में भक्ताें का जमावड़ा लगा रहा। आजाद नगर स्थित अखाड़े में आयोजित दंगल में पहलवानों ने दांवपेंच दिखाए। भुईया त्रिलोकेश्वर महादेव मंदिर में आयोजित दंगल का उद्घाटन सिद्दीक पहलवान ने किया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बाराबंकी में 14 मौतों पर बीजेपी सांसद से जवाब देते नहीं बना

बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत पर शनिवार को बीजेपी सासंद प्रियंका रावत ने मीडिया से बात की। बीजेपी सांसद ने कहा कि गुमराह करनेवाले अफसरों को बक्शा नहीं जाएगा।

14 जनवरी 2018