दूषित भोजन से प्री-इंट्रीगेशन कैंप में 18 बच्चे बीमार

Banda Updated Tue, 11 Sep 2012 12:00 PM IST
बांदा। प्री इंट्रीग्रेशन कैंप द्वितीय में सोमवार को दूषित भोजन से 18 बच्चे बीमार हो गए। बुखार, उल्टी, सिरदर्द से बच्चों की हालत बिगड़ी तो वार्डेन ने कुछ बच्चों को जिला अस्पताल व कुछ निजी डाक्टरों के यहां पहुंचाया। जिम्मेदार अधिकारी बीमारी के पीछे बच्चों के बरसात में भीगने की बात बता रहे हैं। कैंप में लकड़ी के चूल्हे में खाना बन रहा है और बच्चे धुएं के बीच रहने व भोजन करने को विवश हैं।
शासन ने विकलांग व अशक्त बच्चों को आवासीय विद्यालय में प्रवेश देकर उन्हें गुणवक्ता युक्त भोजन दिए जाने व साफ-सफाई के बीच रखने के निर्देश दिए हैं। शहर में दो कैंप पुलिस लाइन व अलीगंज में चल रहे हैं। अलीगंज कैंप में करीब 50 बच्चे हैं। सोमवार को सुबह नाश्ता के बाद अचानक 18 बच्चों ने उल्टी-दस्त, बुखार व सिरदर्द की शिकायत वार्डेन से की। यह सब चल रहा था कि कुछ बच्चों की हालत बिगड़ने लगी। वार्डेन शिवराम सिंह ने इसकी सूचना जिला समन्वयक अरिवंद अस्थाना व बीएसए संदीप चौधरी को दी।
वार्डेन ने कुछ बीमार बच्चों को जिला अस्पताल पहुंचाया। कुछ का निजी अस्पताल में इलाज कराया। बीमार बच्चों में शनि, रमेश, फरदीन, नीलम, गणेश, मुस्कान, अभिषेक, पुष्पेंद्र, विनय, धीरेंद्र, शोभा, रेशम, सुरेंद्र, रोशनी, संगम, रामबाबू, अर्चना शामिल हैं। इनकी उम्र 6 से 10 वर्ष के बीच है। करीब आधा दर्जन बच्चों की तबियत ज्यादा गड़बड़ है। फिलहाल इन बच्चों की बीमारी ने इंट्रीग्रेशन कैंप के जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही की पोल खोल दी है। वार्डेन शिवराम ने बताया कि बच्चों को मिलने वाला भोजन गुणवत्ताविहीन रहता है। दूषित भोजन से बच्चे बीमार हो रहे हैं। भोजन की गुणवत्ता में सुधार किया जा रहा है। जबकि वास्तविकता यह है कि बच्चों की देखरेख के लिए विद्यालय में कई महिला कर्मचारी तैनात हैं।
इंट्रीग्रेशन कैंप के जिला समन्वयक अरविंद अस्थाना ने बताया कि बच्चों के बीमार होने की जानकारी मिली है। बारिश में भीगने से बच्चों को सर्दी-जुकाम व बुखार की शिकायत है। उनका उपचार कराया जा रहा है। बच्चों के खानपान पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश वार्डेन को दिए गए हैं।


Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018