जेल में बंदियों को व्यावसायिक प्रशिक्षण

Banda Updated Sat, 11 Aug 2012 12:00 PM IST
बांदा। मंडल कारागार में सजा काट रहे महिला व पुरुष बंदी अब व्यवासायिक व तकनीकी गुर सीखेंगे। आकांक्षा समिति चित्रकूट मंडल के तत्वावधान में पांच सदस्यीय टीम इन कैदियों को पांच दिनों का विशेष प्रशिक्षण देगी। पांच सदस्यीय टीम के प्रमुख देवेंद्र कुमार त्रिपाठी ने बताया कि मंडल कारागार में शुक्रवार से पांच दिनों का प्रशिक्षण शुरू किया गया है। इसमें महिला कैदियों ने रंगोली व मेंहदी के गुर सीखे तो पुरुषों को अन्य व्यवासायिक जानकारियां दी गईं। प्रशिक्षण समिति में शामिल डॉ. लखन त्रिपाठी, संतोष यादव, दुर्गेश पांडेय व केएन भारद्वाज पांच दिनों तक महिला व पुरुष बंदियों को प्रशिक्षित करेंगे ताकि वे जेल से छूटने के बाद आत्मनिर्भर बनकर खुशहाली के बीच अपना परिवार चला सकें। ब्यूरो

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018