मंत्री के आश्वासन पर शिक्षकों में खुशी

Banda Updated Wed, 08 Aug 2012 12:00 PM IST
तिंदवारी। सीनियर बेसिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अधिवेशन में शिक्षकों की लंबित मांगे दो माह के भीतर पूरी करने का बेसिक शिक्षा मंत्री के भरोसा देने पर शिक्षकों ने खुशी जताई है।
लखनऊ में प्रांतीय अधिवेशन से वापस लौटे मंडल अध्यक्ष लखन सिंह (बेंदा) व प्रांतीय उपाध्यक्ष जगमोहन सिंह (चित्रकूट) ने बताया कि शिक्षा मंत्री रामगोविंद ने 14 प्रमुख मांगों को स्वीकार कर लिया है। इनमें मान्यता प्राप्त ‘ए’ श्रेणी विद्यालयों को अनुदान, नए विद्यालयों को सवित्त मान्यता दिए जाने, सेवा नियमावली 1978 में संशोधन, 30 अप्रैल 2010 के शासनादेश द्वारा कई सालों से काम कर रहे शिक्षकों का रुका वेतन अविलंब भुगतान किए जाने, बीएड की आर्हता तिथि 12 जून 2008 के बजाए सेवा नियमावली 1978 के प्रभावी होने की तिथि से स्वीकार किए जाने, प्रधानाध्यापक का पद रिक्त होने पर वरिष्ठ सहायक अध्यापक को अवसर देने, अवशेष संस्कृत अध्यापकों का वेतन भुगतान और त्रिभाषा फार्मूला पुन: लागू किए जाने की मांग शामिल है। 22 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले सभी शिक्षकों को प्रोन्नति वेतनमान दिए जाने, पुरानी पेंशन योजना लागू करते हुए जीपीएफ कटौती शुरू करने की भी मांग को मंजूरी दिए जाने का आश्वासन मिला है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018