विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों ने सीएम को भेजा ज्ञापन

Banda Updated Tue, 31 Jul 2012 12:00 PM IST
बांदा। विशिष्ट बीटीसी टीचर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने सोमवार को मुख्यमंत्री को संबोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा और विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों की समस्याओं के निराकरण की मांग की।
संगठन जिलाध्यक्ष दुर्गाचरन श्रीवास्तव ने भेजे गए ज्ञापन में कहा कि त्रुटिपूर्ण अंतर्जनपदीय स्थानांतरण सूची निरस्त कर गृह जनपद से दूर नियुक्त विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों का अपने मूल जिले में रिक्त पदों के सापेक्ष स्थानांतरण या समायोजन किया जाए। जिलों का प्रतिबंध हटाकर पुरुषों को भी अंतर्जनपदीय स्थानांतरण सूची में स्थान दिया जाए। एक जनवरी 2006 के बाद पदोन्नति प्राप्त प्राथमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापक व जूनियर के सहायक अध्यापक का न्यूनतम मूल वेतन 17,140 निर्धारित किया जाए। पदोन्नति पर रोक हटाते हुए परिषदीय विद्यालयों में प्रधानाध्यापक और सहायक अध्यापक के रिक्त पदों पर पदोन्नति किया जाए। 31 मार्च 2005 के बाद नियुक्त शिक्षकों के लिए पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल कर जीपीएफ की कटौती अविलंब शुरू की जाए। ज्ञापन सौंपने वालों में डॉ. सीबी चक्रवर्ती, दिलीप त्रिपाठी, आलोक कुमार, महेंद्र साहू, धर्मेंद्र सिंह, भुजबल सिंह, चंद्रशेखर, अखिलेश यादव, अजय साहू, आशिक अली, नंदकिशोर, महावीर, हेमंत शुक्ला शामिल रहे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls