केन-बेतवा गठजोड़ राष्ट्रीय परियोजना सूची में शामिल

Banda Updated Mon, 30 Jul 2012 12:00 PM IST
बांदा। केन-बेतवा नदी गठजोड़ को राष्ट्रीय परियोजना में शामिल कर लिया गया है। केंद्रीय जल विकास प्राधिकरण ने सर्वे और जांच की जिम्मेदारी ली है। इस योजना के लिए उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सरकारों से पहले ही आख्या मांगी जा चुकी है। मध्य प्रदेश सरकार ने वैकल्पिक परियोजना का प्रस्ताव भेज दिया था।
हमीरपुर-महोबा-तिंदवारी सांसद विजय बहादुर सिंह ने हाल ही में केंद्रीय संसदीय कार्य एवं जल संसाधन मंत्री पवन कुमार बंसल को इस योजना के बारे में पत्र भेजा था। केंद्रीय मंत्री श्री बंसल ने सांसद को भेजे पत्र में विस्तृत जानकारियां दी हैं। मंत्री ने कहा है कि उन्होंने जल संसाधन मंत्रालय के जांच समूह से इस योजना की जांच कराई थी। केंद्रीय मंत्री और यूपी और एमपी के मुख्यमंत्री के हस्ताक्षर प्रधानमंत्री की मौजूदगी में 25 अगस्त 2005 को इस गठजोड़ योजना की तैयारी के लिए हुए थे। यूपी व एमपी से आख्या मांगी गई थी। एमपी सरकार द्वारा वैकल्पिक परियोजना का प्रस्ताव प्राप्त हुआ था। इसमें दो चरणों में कार्ययोजना बनाई गई थी। प्रथम चरण में दौधन बांध से नहर निकालना और दो बिजलीघर बनाए जाना थे। मंत्री ने बताया कि यह कार्ययोजना अप्रैल 2010 तक पूरी होनी थी। इस संबंध में यूपी व एमपी की सरकारों को मई 2010 को पुन: पत्र भेजे गए।
मंत्री ने पत्र में लिखा है कि नदी गठजोड़ योजना के प्रथम चरण की परियोजना की तकनीकी जांच के लिए केंद्रीय जल आयोग (सीडब्ल्यूसी) को प्रस्ताव भेजा गया था। केंद्रीय जल विकास प्राधिकरण ने सर्वे और जांच की जिम्मेदारी ली है। प्राधिकरण दूसरे चरण की योजना की भी सघन जांच करेगा। मंत्री ने कहा है कि केन-बेतवा गठजोड़ की परियोजना में कई चरण ऐसे जुडे़ हैं कि दोनों राज्यों की सरकारों, तकनीकी व आर्थिक परामर्श कमेटी की राय लेना और तमाम नियमाें की औपचारिकता पूरा करना तथा योजना आयोग से इसके लिए धन की व्यवस्था की सहमति जरूरी है। मंत्री ने बताया कि नदी गठजोड़ परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना की सूची में शामिल कर लिया गया है। केंद्रीय सरकार के सहयोग और निर्देश नियमावली के अनुसार लागू होंगे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018