चूल्हे की चिंगारी ने राख में बदल दिए एक सैकड़ा मकान

Banda Updated Tue, 01 May 2012 12:00 PM IST
कमासिन। चूल्हे की चिंगारी ने एक सैकड़ा मकानों को राख के ढेर में तब्दील कर दिया। गृहस्थी और राशन बचाने की कोशिश में तीन लोग झुलस गए। तीन मवेशियों की भी जलकर मौत हो गई।
एक सैकड़ा परिवारों को बेघर करने वाली यह घटना सोमवार को तिलौसा गांव में हुई। अनुसूचित जाति के नथुवा की पत्नी अपनी झोपड़ी में दिन में करीब 11 बजे चूल्हे पर खाना बना रही थी। तभी आंधी का तेज झोंका आया और चूल्हे की चिंगारी छप्पर पर जा उड़ी। छप्पर में आग लग गई। कुछ ही देर में बेकाबू हो गई आग ने एक के बाद एक घरों को अपने चपेट में लेना शुरू कर दिया। तेज हवा के झोंके आग में घी का काम करते रहे। कुछ देर बाद आग ने इतना प्रचंड रूप धारण कर लिया कि समूचा गांव फुंकने की कगार पर आ गया। अपना घर और गृहस्थी आग के शोलों में बदली देख ग्रामीणों में कोहराम मचा रहा। मकानों को राख के ढेर में तब्दील करने के बाद आग ने खलिहान को भी चपेट में ले लिया। तीन दर्जन किसानों की खलिहान में रखी फसल राख हो गई। जलते घर से सामान और राशन निकालने की कोशिश में 17 वर्षीय खजांची और 40 वर्षीय महिला बुद्धी झुलस गए। माताबदल की बछिया, भइयालाल राजपूत का बकरा और एक अन्य मवेशी जिंदा जल मरे। आग का विकराल रूप देखकर बचे-खुचे मकान वालों ने अपना सामान सड़क किनारे डाल लिया। आग में कुछ कितने की संपत्ति स्वाहा हुई है फौरीतौर पर इसका आंकलन नहीं हो पाया है। लगभग एक सैकड़ा परिवार सड़क पर आ गए हैं।
आग से अपना मकान व सामान गंवा बैठने वालों ने नथुवा, बलवीर, रंजीत, रामकृपाल, जगजीत, राम सिंह यादव, ओंकार, पुजारी, राममिलन, भगवानदीन, ज्ञानी, धरमपाल, राजबहादुर, मुन्ना पांडेय, बबलू, योगेंद्र, राजेंद्र पांडेय, अर्जुन राजपूत, माताबदल, भइयालाल, बाला प्रसाद, साधू, रामशरण, भगत, सुधरचंद्र, नरोत्तम, मइयादीन, बसंतलाल, बैजनाथ, उदयभान, राजेंद्र, राकेश, कुबेर, रामरतन यादव, मुन्ना यादव, रामचंद्र, नत्थू, फूलचंद्र, रामखिलावन यादव, विजय आरख, शंकर आदि शामिल हैं। करीब चार घंटे बाद बांदा से पहुंची दमकल की एक गाड़ी और बबेरू की छोटी गाड़ी ने मिलकर घंटों मशक्कत के बाद आग बुझाई। देर रात तक मकानों और खलिहानों से धुआं उठता रहा।
उप जिलाधिकारी आरके श्रीवास्तव, क्षेत्राधिकारी कमल सिंह, बसपा विधायक गयाचरन दिनकर, थानाध्यक्ष शिवमिलन, भाजपा नेता अजय पटेल, पूर्व चेयरमैन सूर्यपाल यादव घटनास्थल पहुंचे और पीड़ितों से हमदर्दी जताई।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper